विदेश

चीनी की बड़ी आबादी जिनपिंग से नाराज, राष्ट्रपति चुनाव से पहले शुरू हुआ अभियान

बीजिंग। चीन में राष्ट्रपति चुनाव (presidential election) होने को हैं और मौजूदा राष्ट्रपति शी जिनपिंग (President Xi Jinping) ने ऐसे संकेत दिए हैं कि वह लगातार तीसरी बार राष्ट्रपति बनना चाहते हैं। इस बीच चीन में जिनपिंग ने आलोचकों ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया है। एएनआई की रिपोर्ट बताती है कि लोगों ने कहा है कि जिनपिंग ने चीन को पीछे धकेल दिया है। कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus pandemic) को गलत तरीके से रोकथाम करके चीन की अपूरणीय क्षति की है। लोगों ने कहा है कि जिनपिंग ने शंघाई जैसे शहरों को अपनी मर्जी से बंदकर इकॉनमी को नष्ट कर दिया है।

चीनी की एक बड़ी आबादी शी जिनपिंग (Xi Jinping) से नाराज है और लोग परिवर्तन चाहते हैं। अभियान चला रहे लोगों ने एक कैंपेन की शुरुआत की है। इसके तहत मानवता के खिलाफ जिनपिंग के अपराधों के बारे में वीडियो बनाकर साझा करने की अपील की गई है। चीन में रह रहे लोगों से ऐसा करते हुए सावधानी बरतने की सलाह दी गई है।

चीनी लोगों से अपील की गई है कि वह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों (friends and relatives) को मौजूदा स्थिति में बारे में बताए औए जिनपिंग को सत्ता से हटाएं। इसके साथ ही कानून और सैन्य कर्मियों के सहयोगी न बनने की अपील की गई है। इस अभियान में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोड़ने की अपील की गई है। अभियान चला रहे लोगों ने नागरिकों से भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग (money laundering) के सबूत जमा करने की अपील की है। यह अभियान ऐसे वक्त में शुरू हुआ है जब चीन में शी जिनपिंग की पकड़ कमजोर हुई है और कोरोना वायरस (Corona virus), इकॉनमी और निवेश को लेकर शी जिनपिंग पर सवाल उठ रहे हैं।

Share:

Next Post

27 फीसदी ओबीसी आरक्षण पर हाई कोर्ट की अंतरिम रोक बरकरार

Thu Jun 23 , 2022
भोपाल। मध्य प्रदेश हाई कोर्ट (Madhya Pradesh High Court) ने अन्य पिछडा वर्ग के ओबीसी आरक्षण (OBC Reservation) मामले में सुनवाई 25 जुलाई तक के लिए बढ़ा दी है। इस बीच कोर्ट ने 27 प्रतिशत ओबीसी आरक्षण (OBC Reservation)पर पूर्व में लगी अन्तरिम रोक को भी बरकरार रखा है। न्यायमूर्ति शील नागू की अध्यक्षता वाली […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.