इंदौर न्यूज़ (Indore News)

85 हजार रजिस्ट्रियों से कमा लिए अब तक 1150 करोड़

इस बार श्राद्ध पक्ष में भी होती रहीं रजिस्ट्रियां, अब नवरात्रि से और आएगी तेजी, इंदौर के बाद उज्जैन में भी रियल इस्टेट कारोबार में लगातार इजाफा
इन्दौर।  रियल इस्टेट कारोबार (Real Estate Business) में तेजी बरकरार है और इंदौर के साथ-साथ महाकाल लोक (Mahakal Lok) के चलते उज्जैन (Ujjain) में भी बड़ी संख्या में रजिस्ट्रियां हो रही हैं। पंजीयन विभाग (Registration Department) के आंकड़े बताते हैं कि इंदौर जिले में अभी इस वित्त वर्ष के 6 माह और 10 दिन में लगभग 85 हजार रजिस्ट्रियां हो चुकी हैं, जिनके बलबूते 1150 करोड़ रुपए विभाग ने कमा भी लिए। इस बार श्राद्ध पक्ष में भी रजिस्ट्रियों की संख्या में कमी नहीं आईं, वहीं अभी नवरात्रि से अवश्य और भी इजाफा होगा। रजिस्ट्रियों के लिए आने वाली भीड़ की व्यवस्था में भी विभाग जुटा है और आवश्यकता पडऩे पर स्लॉटों की संख्या बढ़ाई जा सकेगी।

इंदौर-उज्जैन संभाग के अधीन 15 जिले आते हैं। उप महानिरीक्षक पंजीयन परिक्षेत्र इंदौर बालकृष्ण मोरे के मुताबिक अभी 1 अप्रैल से 30 सितम्बर तक ही इंदौर सहित सभी 15 जिलों में 13.36 प्रतिशत की वृद्धि राजस्व आय में हुई है। इसमें इंदौर में इस अवधि के दौरान गत वर्ष जहां 942.29 करोड़ रुपए हासिल हुए थे, लेकिन इस बार यह 15.52 प्रतिशत बढक़र 1088.56 करोड़ हो गए हैं, साथ ही दस्तावेजों की संख्या में भी लगभग 9 फीसदी का इजाफा हुआ है। इसी तरह उज्जैन में 20.39 प्रतिशत की वृद्धि राजस्व आय में हुई है। गत वर्ष जहां 177.45 करोड़ मिले थे, तो इस बार यह आंकड़ा बढक़र 213.64 करोड़ हो गया है। इसी तरह आलीराजपुर, झाबुआ, बड़वानी, खंडवा, शाजापुर, देवास, सागर, नीमच सहित अन्य जिलों में भी वृद्धि हुई है। मोरे के मुताबिक गत वर्ष कुल आय इन सभी जिलों से 3815 करोड़ प्राप्त हुई थी, जबकि इस वित्त वर्ष का लक्ष्य 4618 करोड़ है, जिसमें से अभी 6 माह में ही 2011.19 करोड़ रुपए हासिल हो चुके हैं, वहीं इंदौर के वरिष्ठ जिला पंजीयक दीपक शर्मा का कहना है कि इस वित्त वर्ष के 6 महीने और 10 दिन यानि कल 10 अक्टूबर तक लगभग 85 हजार रजिस्ट्रियां हो चुकी हैं, जिनसे 1150 करोड़ रुपए हासिल कर लिए गए हैं। इस वित्त वर्ष में हर महीने ही रजिस्ट्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है और अभी श्राद्ध पक्ष चल रहा है, बावजूद इसके रजिस्ट्रियों की संख्या में कमी नहीं आई है और अच्छी संख्या में इस दौरान भी रजिस्ट्रियां होती रही है। नवरात्रि से अवश्य भीड़ में इजाफा होगा और उसके मुताबिक सभी उप पंजीयक कार्यालयों में व्यवस्थाएं की जा रही है। जरूरत पड़ी तो स्लॉटों की संख्या भी बढ़ाई जा सकेगी। इंदौर में चारों तरफ नए प्रोजेक्ट, कॉलोनियां, टाउनशिप तेजी से आ रही है, जिसके चलते लगातार पंजीयन विभाग की आय में इजाफा हो रहा है। खंडवा रोड, सुपर कॉरिडोर से लेकर कनाडिय़ा, बायपास के अलावा सबसे अधिक तेजी इंदौर-उज्जैन रोड पर भी है। दरअसल उज्जैन में जबसे महाकाल लोक बना है और आज उसके शुभारंभ को सालभर भी पूरा हो गया, तब से ही इंदौर-उज्जैन का यातायात तो बढ़ा ही, वहीं उस पूरे रोड पर जमीनों की कीमतों में तेजी से उछाल आया और बड़ी संख्या में कॉलोनियां विकसित होने लगी हैं। मुख्यमंत्री ने पीथमपुर के साथ-साथ इंदौर से उज्जैन के बीच भी मेट्रो चलाने की घोषणा कर दी।

Share:

Next Post

israel hamas war: इजरायल ने 1967 में भी 8 मुस्लिम देशों से जंग जीती थी

Wed Oct 11 , 2023
नई दिल्‍ली (New Dehli)। इजरायल (Israel) और हमास के बीच चार दिनों (days) से युद्ध जारी है। आंकड़े (figures)बता रहे हैं कि अब तक 4 हजार से ज्यादा लोगों को मौत (death to people)हो चुकी है। इसी बीच इजरायल (Israel) ने साफ कर दिया है कि हमास से गाजा छीन लिया गया है। इधर, ब्रिटेन, […]