जीवनशैली स्‍वास्‍थ्‍य

जहर के समान होता है इन 3 सब्जियों को कच्चा या अधपका खाना, जा सकती है जान

नई दिल्ली: कई बार सब्जियों (Vegetables) को पकाते समय ये अधपकी रह जाती हैं. एक्सपर्ट्स के मुताबिक, अगर आप कुछ खास सब्जियों को कच्चा या अधपका खाते हैं, तो इससे सेहत को भारी नुकसान पहुंचता है. ये आपके लिए जहर के समान होती हैं.

आलू : आलू (potato) में जब स्प्राउट या इसमें ग्रीन स्पॉट आने लगे तो ऐसे आलू न खाएं. इसमें Solanine का प्रोडक्शन होने लगता है जो सेहत को नुकसान पहुंचाता है. इससे सिरदर्द, उबकाई आने, डायरिया की समस्या हो सकती है. कई बार ये जानलेवा भी हो सकता है.

बैंगन : बैंगन (Eggplant) को भी अधपका न खाएं. इसकी वजह ये है कि पहले तो अधपका खाने से आपको बैंगन के पूरे फायदे नहीं मिलते. वहीं इसमें भी आलू की तरह Solanine होता है, जो टॉ​क्सिक असर रखता है. हालांकि कुछ लोगों पर इसका टॉक्सिक असर नहीं होता. कई लोग इसे कच्चा या अधपका खा लेते हैं. लेकिन अगर आपको solanine से एलर्जी है तो आपको Gastrointestinal Distress की समस्या हो सकती है. इसे खाते समय सावधान बरतें.

लौकी : लौकी (Bottle gourd) को हमेशा पकाकर ही खाएं इसे बिना पकाए खाने से पेट से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं. कच्ची रहने पर ये टॉक्सिक (Toxic) होती है. एक्सपर्ट्स ऐसी सलाह देते हैं कि सब्जियों को कच्चा खाने से पेट और डाइजेस्टिव से जुड़ी प्रॉब्लम हो सकती है. इससे अल्सर और कुछ मामलों मल्टी ऑर्गन डैमेज का भी खतरा रहता है. इसमें भी अगर इससे कड़वा टेस्ट आ रहा तो ये जहर के समान हो सकता है. कच्चा लौकी का जूस और लौकी को कच्चे फॉर्म में खाना दोनों ही बेहद नुकसानदायक है.

Share:

Next Post

मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर चयनात्मक दृष्टिकोण लोकतंत्र के लिए खतरनाक : पीएम मोदी

Tue Oct 12 , 2021
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने मंगलवार को कहा कि मानवाधिकारों (Human rights) के उल्लंघन (Violation) को लेकर चयनात्मक दृष्टिकोण (Selective approach) लोकतंत्र के लिए खतरनाक (Dangerous for democracy) है। पीएम मोदी ने कहा कि मानवाधिकार का बहुत ज्यादा हनन तब होता है, जब उसे राजनीतिक रंग से देखा जाता है, राजनीतिक चश्मे […]