जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

वैशाख मास का पहला सोमवार आज, इस तरह करें पूजा, भगवान शिव की होगी आसीम कृपा

आज वैशाख मास का पहला सोमवार आज है और मान्‍यता के अनुसार सोमवार का दिन भगवान शिव की पूजा के लिए समर्पित है । ऐसे में कहा जाता है कि अगर सोमवार को भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो सारे कष्टों से मुक्ति मिलती है और सभी मनोकामना पूरी होती है। शिव सदा अपने भक्तों पर कृपा बरसाते हैं। भगवान विष्णु का अतिप्रिय वैशाख/बैसाख माह भगवान शिव की पूजा के लिए भी विशेष माना गया है। माना जाता है कि इस महीने में भगवान शिव की पूजा करने से वह जल्द खुश होकर अपने भक्तों को मनचाहा वर देते हैं। वैसे तो शिव पूजा सावन और कार्तिक महीने के सोमवार को करना भी विशेष माना गया है लेकिन वैशाख माह के सोमवार में भगवान शिव को प्रसन्न करना काफी आसान माना जाता है। इस बार 28 अप्रैल 2021 से वैशाख माह शुरु हो चुका है। ऐसे में अगर आप भी भगवान शिव की कृपा पाना चाहते हैं तो ध्यान रखें इस बार 03 मई 2021 यानी आज वैशाख का पहला सोमवार है। मान्यता है कि इस दौरान कुछ आसान तरीकों से भगवान शिव को खुश कर उनकी कृपा प्राप्त की जा सकती है।

वैशाख माह में भगवान शिव की ऐेसे करें पूजा

-इस माह में भगवान शिव के ऊपर जलधारा की स्थापना करके उन्हें प्रसन्न किया जा सकता है। इसके साथ ही विशेष तरह की परेशानियों में भी इस माह में अलग-अलग पूजन विधि की मदद से छुटकारा पाया जा सकता है।

-मान्यता है कि इस मास के सोमवार को किसी सुहागिन को साड़ी, चूडियां, कुमकुम आदि सुहाग का सामान देना अत्यंत शुभ होता है। कहते हैं कि ऐसा करने से भी वैवाहिक जीवन की समस्याएं दूर होती हैं।

-समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए वैशाख माह में ब्रम्हांड (Universe) के प्रतीक शिवलिंग पर पानी का कलश या घड़ा स्थापित करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से जिस तरह घड़े से बूंद-बूंद पानी शिवलिंग पर गिरता है, उस हर बूंद के साथ जीवन की समस्याएं भी पानी की तरह बहकर दूर होती जाती हैं।

-कहते हैं कि ग्रह बाधाएं दूर करने के लिए वैशाख माह के हर सोमवार (Monday) को ब्रह्म मुहूर्त में स्नान करने के बाद भगवान शिव का जल और दूध से अभिषेक करना चाहिए। ऐसा करने से सुख और समृद्धि की भी प्राप्ति होती है।

-मान्यता है कि शारीरिक परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए भगवान शिव का वैशाख माह (Vaishakh month) में जलाभिषेक, दुग्धाभिषेक करने के साथ-साथ उन्हें आक, धतूरा और बेलपत्र आदि अर्पित करना चाहिए। साथ ही चंदन भी चढ़ाएं। इसके अलावा भगवान शिव को मौसमी फलों (Seasonal fruits) का भोग अर्पित करें। माना जाता है कि इस माह में घड़ा, सत्तू, तरबूज दान करने से शारीरिक परेशानियों से छुटकारा मिलता है।

-सफलता (Success) पाने के लिए हर रोजज घर के मंदिर में स्थापित छोटे से शिवलिंग की पूजा करें। यह पूजा आप वैशाख के सोमवार से शुरू कर सकते हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से सफलता मिलने के साथ ही घर की दरिद्रता भी दूर होती है और लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है।

-इसके अलावा माना जाता है कि वैशाख के सोमवार से नियमित रूप से आंकड़े के फूलों की माला बनाकर शिवलिंग पर चढ़ाने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

-वहीं बेलपत्र पर चंदन (Sandalwood) से ओम नम: शिवाय या जय श्रीराम लिखें। इसके बाद इन पत्तों की माला बनाकर शिवलिंग (Shivling) पर चढ़ाएं। माना जाता है इससे हर काम सिद्ध हो जाते हैं। इसके अलावा जल चढ़ाते समय शिवलिंग को हथेलियों से रगड़ना चाहिए। माना जाता है कि इस उपाय से किसी की भी किस्मत बदल सकती है ।

नोट- उपरोक्त दी गई जानकारी व सूचना सामान्य उद्देश्य के लिए दी गई है। हम इसकी सत्यता की जांच का दावा नही करतें हैं यह जानकारी विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, धर्मग्रंथों, पंचाग आदि से ली गई है । इस उपयोग करने वाले की स्वयं की जिम्मेंदारी होगी ।

Next Post

बंगाल: चर्चा में इस महिला भाजपा उम्मीदवार की जीत, झोपड़ी में रहती और पति है मजदूर

Mon May 3 , 2021
  पश्चिम बंगाल (West Bengal) में बीजेपी (BJP) भले हार गई हो लेकिन बीजेपी की एक महिला उम्मीदवार की जीत की चर्चा हर तरफ है. बीजेपी के टिकट पर सालतोरा सीट (Saltora Seat) से चुनाव लड़ने वाली चंदना बाउरी ने टीएमसी (TMC) उम्मीदवार संतोष मंडल को हरा दिया है. उनकी जीत से ज्यादा चर्चा उनकी […]