इंदौर न्यूज़ (Indore News)

इंदौर में झमाझम रात, पश्चिम और पूर्व 3 तो मध्य में 4 इंच बारिश

इंदौर। कल रात शहर में बादल जमकर बरसे। रात से सुबह के बीच शहर में करीब तीन इंच बारिश रिकार्ड की गई। पूरा शहर तरबतर हो गया। सडक़ों पर पानी भर गया। पानी इतना तेज था कि थोड़ी दूर का भी नजर नहीं आ रहा था। इस दौरान विमानतल स्थित मौसम केंद्र और कृषि महाविद्यालय स्थित मौसम केंद्र पर करीब तीन-तीन इंच और पुलिस कंट्रोल रूम स्थित वेदर स्टेशन पर करीब चार इंच बारिश रिकार्ड की गई। आधे जुलाई में ही शहर में इतनी बारिश हो चुकी है कि पिछले दो सालों का रिकार्ड टूट चुका है। मौसम विभाग ने आज भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है, वहीं 21 जुलाई तक शहर में अच्छी बारिश की संभावना भी जताई है।


कल रात 11.30 से ढाई बजे के बीच काफी तेज बारिश हुई। विमानतल स्थित मौसम केंद्र पर 2.9 इंच बारिश के साथ अब तक कुल 13 इंच बारिश रिकार्ड की जा चुकी है। बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के कारण तेज बारिश देखने को मिली।

मध्य क्षेत्र 2.6 इंच आगे निकला

शहर में जहां अब तक 13 इंच बारिश हुई है, वहीं कल  मध्य क्षेत्र में 3.9 इंच बारिश रिकार्ड किए जाने के बाद मध्य क्षेत्र का कुल आंकड़ा 15.6 इंच पर पहुंच गया। वहीं शहर का आंकड़ा 13.56 इंच पर है।

पिछले २ सालों का रिकार्ड टूटा

शहर में कल रात हुई बारिश के बाद जो आंकड़े सामने आए हैं, उससे पिछले दो सालों में पूरे जुलाई माह में हुई बारिश के रिकार्ड टूट गए हैं। 2020 में जहां जुलाई में कुल 7.5 इंच बारिश हुई थी, वहीं 2021 में 6.9 इंच बारिश हुई थी। वहीं इस साल जुलाई में अब तक 8 इंच बारिश रिकार्ड की जा चुकी है, जबकि अभी आधा जुलाई भी नहीं हुआ है। इस तरह उम्मीद जताई जा रही है कि इस साल जुलाई पिछले बारिश के मामले में पिछले कई सालों का रिकार्ड तोड़ेगा। जुलाई की औसत बारिश 10.6 इंच…15 दिन पहले ही नजदीक पहुंचा शहरजुलाई माह में इंदौर में औसत 10.6 इंच बारिश होती है। शहर अभी ही इसके काफी नजदीक पहुंच चुका है। जुलाई के इतिहास पर नजर दौड़ाएं तो सामने आता है कि जुलाई में अब तक की सबसे ज्यादा बारिश 49 साल पहले 1973 में रिकार्ड की गई थी। तब एक ही माह में इंदौर में 30 इंच से ज्यादा बारिश हुई थी। वहीं 2002 ऐसा भी रहा, जब पूरे जुलाई में इंदौर में सिर्फ 1.2 इंच बारिश ही हुई थी। लेकिन जुलाई में एक ही दिन में सर्वाधिक बारिश का रिकार्ड 109 साल पहले बना था। 27 जुलाई 1913 को 24 घंटे के दौरान इंदौर में 11.6 इंच बारिश रिकार्ड की गई थी, जो जुलाई में एक दिन में अब तक हुई सर्वाधिक बारिश है और यह पूरे जुलाई की औसत बारिश से भी ज्यादा थी। जुलाई अंत तक आधा कोटा पूरा होने की उम्मीद शहर में मानसून में सीजन में जून से सितंबर के बीच औसत 37.5 इंच बारिश होती है। अभी इंदौर सहित पश्चिमी मध्यप्रदेश में बंगाल की खाड़ी में बने जिस सिस्टम के कारण अच्छी बारिश हो रही है, वह 16 तक खत्म हो जाएगा। वहीं  नया सिस्टम 17 जुलाई से सक्रिय होगा। इसके कारण 21 तक शहर को अच्छी बारिश मिलेगी, इस माह में सीजन की आधे से ज्यादा बारिश हो सकती है।

21 तक अच्छी बारिश के आसार, आज भी ऑरेंज अलर्ट के साथ भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग के मुताबिक आज भी शहर में भारी बारिश की संभावना है। इसके लिए विभाग ने ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया है। विशेषज्ञों ने बताया कि शहर में 21 जुलाई तक अच्छी बारिश होने की संभावना है, वहीं 21 से 27 के बीच हलकी बारिश होगी। इसके बाद 28 जुलाई से 4 अगस्त के बीच एक बार फिर तेज बारिश देखने को मिल सकती है। कल से पहले 5 जुलाई को भी शहर में करीब चार इंच बारिश रिकार्ड की गई थी।तालाब भी हुए लबालबकल रात हुई तेज बारिश के बाद शहर के प्रमुख तालाबों में भी पानी के स्तर में अच्छी बढ़ोतरी हुई है। आज सुबह तक जल स्तर में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी बिलावली, सिरपुर और लिंबोदी तालाब में दर्ज हुई है। वहीं छोटा सिरपुर पूरी क्षमता पर भर चुका है। यशवंत सागर भी कुल क्षमता 19 फीट के के काफी नजदीक 16.6 फीट तक पहुंच चुका है।   

तालाब              कल  आज    क्षमता
यशवंत सागर     16.4  16.6  19
बड़ा बिलावली     17.8 19 34
छोटी बिलावली    0 0 12
बड़ा सिरपुर        9.9 11 16
छोटा सिरपुर    12.1 13 13
पिपल्यापाला    10 10.6 22
लिंबोदी              4.6 6.1 16
(नगर निगम के मुताबिक, आंकड़े फीट में)

Share:

Next Post

तीन शादियों से आठ बच्चे, सभी मांग रहे भीख, नशे के भी शिकार

Thu Jul 14 , 2022
20 दिन से कृष्णपुरा छत्री पर डाल रखा था डेरा, गंदगी भी खूब फैलाई, बड़ी मुश्किल से समझाइश के बाद पुनर्वास और नशामुक्ति केंद्र जाने को हुए तैयार इंदौर।  मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने इंदौर को भिखारीमुक्त (Beggar-free) बनाने की घोषणा की है, जिसके चलते पिछले दिनों प्रशासन, निगम, पुलिस के साथ-साथ प्रवेश एनजीओ संस्था (Admission […]