इंदौर न्यूज़ (Indore News)

इंदौर सज-धजकर अतिथियों के सत्कार में हो गया तैयार…

– सभी प्रमुख चौराहों से लेकर एतिहासिक स्थल, निजी-सरकारी इमारतों पर आकर्षक विद्युत साज-सज्जा

– अब लगातार वीडियो कान्फ्रेंसिंग के साथ तमाम व्यवस्थाओं की अफसरों ने शुरू की मॉकड्रील भी

इंदौर। दो बड़े आयोजनों का साक्षी इंदौर होने जा रहा है। पहली बार हो रहे प्रवासी भारतीय सम्मेलन के साथ ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट (Global Investors Summit with Pravasi Bharatiya Sammelan)  का भी आयोजन 8 से 12 जनवरी तक  हो रहा है। देश-विदेश से आने वाले अतिथियों के स्वागत-सत्कार में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है और पूरा शहर सज-धजकर तैयार हो गया है। प्रमुख चौराहों के साथ-साथ एतिहासिक इमारतें, निजी-सरकारी भवन पर जहां आकर्षक रोशनी की गई है, वहीं अब लगातार वीडियो कान्फ्रेंस और मीटिंगों के जरिए मिनट-टू-मिनट होने वाले कार्यक्रमों की समीक्षा और मॉकड्रील भी शुरू कर दी है। इंदौर के अलावा आसपास के जिलों के भी अधिकारियों को इन आयोजनों की तैयारियों के लिए तैनात किया गया है। सभी को उनकी ड्यूटी समझा दी गई है। संभागायुक्त ने कल शाम भी तैयारियों को लेकर अधिकारियों की बैठक ली और स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी अतिथि को कोई परेशानी न हो और जिसे जो दायित्व सौंपा गया है उसका निर्वहन पूरी गंभीरता से किया जाए। यह पहला मौका है जब तीन देशों के राष्ट्रपति इंदौर में रहेंगे। वहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी 9 जनवरी को लगभग 5 घंटे शहर में बिताएंगे।


एयरपोर्ट से लेकर पूरे सुपर कॉरिडोर, एमआर-10 होते हुए बापट चौराहा की तो रंगत ही बदल गई है। सबसे अधिक सौंदर्यीकरण के काम यहीं पर किए गए हैं, क्योंकि सारे अतिथि इसी चौराहे से होते हुए आयोजन स्थल ब्रिलियंट कन्वेंशन सेंटर पहुंचेंगे। उसके आसपास के पूरे इलाके को भी गजब का खूबसूरत और चकाचक कर दिया है। ग्रीन बेल्ट को सजाने-संवारने के साथ खूबसूरत पौधे, फूल खिला दिए हैं, तो जबरदस्त ब्रांडिंग भी शुरू कर दी गई है। 40 से अधिक बड़े-बड़े विशालकाय कटआउट प्रधानमंत्री के लग रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की भी ब्रांडिंग की जा रही है। सभी प्रमुख चौराहों को भी सजाया-संवारा गया है, तो राजवाड़ा, गांधी हॉल, लालबाग से लेकर कृष्णपुरा की क्षत्रियों, गोपाल मंदिर सहित ऐतिहासिक धरोहरों पर भी फोकस डेकोरेटिव लाइट लगाई गई है, तो शहर की प्रमुख 19 निजी बिल्डिंगें, जिनमें शॉपिंग मॉल से लेकर अन्य व्यवसायिक इमारतें शामिल हैं, उन पर भी दीपावली की तर्ज पर रोशनी करवाई गई है। ज्वेलरी के जो बड़े-बड़े शोरूम एबी रोड, एमजी रोड पर हैं, उनकी भी साज-सज्जा देखते ही बनती है।

कलेक्ट्रेट, प्राधिकरण, नगर निगम से लेकर अन्य सरकारी इमारतों पर भी रोशनी की जा रही है और प्रवासी सम्मेलन में आने वाले साढ़े 3 हजार से अधिक प्रवासी मेहमानों और उसके साथ समिट में आने वाले उद्योगपति, निवेशकों के स्वागत-सत्कार के लिए इंदौरी मालवीय व्यंजनों से लेकर अंतर्राष्ट्रीय व्यंजन भी तैयार किए जा रहे हैं। सराफा चौपाटी, छप्पन दुकान पर विशेष सिग्नेचर डिश तैयार की गई है। संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा ने कल शाम सभी अधिकारियों की बैठक ली और उन्हें अपनी जिम्मेदारी बताई। पुलिस कमिश्नर हरिनारायणचारी मिश्र, कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी, निगमायुक्त प्रतिभा पाल (Police Commissioner Harinarayanachari Mishra, Collector Dr. Ilaiyaraaja T, Municipal Commissioner Pratibha Pal) सहित अन्य अधिकारी इस दौरान मौजूद रहे।

ग्लोबल गार्डन भी तैयार – तीन हजार प्रवासी करेंगे पौधारोपण

प्रवासी अतिथियों के लिए ग्लोबल गार्डन भी तैयार किया जा रहा है, जहां पर 3 हजार से अधिक पौधे रोपे जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान भी लिए गए संकल्प के दौरान रोजाना एक पौधा रोपते हैं, चूंकि वे इंदौर में रहेंगे तो वे यहां भी पौधारोपण करेंगे। योजना 113 में विकसित किए गए गार्डन का अवलोकन कल महापौर भार्गव के साथ संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा, कलेक्टर इलैयाराजा टी, जनकार्य प्रभारी राजेन्द्र राठौर सहित अन्य ने किया। 3 हजार से अधिक फलदार, राशी एवं अन्य प्रजातियों के पौधे प्रवासियों के नाम, शहर के नाम पट्टी के साथ लगाए जाएंगे।

ग्रामीण हाट बाजार पर विश्वम् स्वदेशी महोत्सव भी

महापौर पुष्यमित्र भार्गव ने बताया कि प्रवासी भारतीय सम्मेलन के उपलक्ष में 6 से 13 जनवरी तक ढक्कनवालाकुआ स्थित ग्रामीण हाट बाजार में विश्वम् स्वदेशी महोत्सव का आयोजन भी किया जा रहा है, जिसमें मालवा-निमाड़ के स्वदेशी उत्पादों की प्रदर्शनी, फूड, जिसमें लोकल मालवीय व्यंजन तो रहेंगे ही, वहीं मालवा के कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए जाएंगे। वेद मंदिर, गौ परिक्रमा, मिट्टी के बर्तन, बिलोना से छाछ-घी, विभिन्न नदियों के पानी में दीपदान, चरखों द्वारा सूत काटना, हैंडलूम, व निर्माण, वाग प्रिंट, लकड़ी की घाणी से तेल निर्माण, हाथ घट्टी सहित अन्य प्राचीन वस्तुओं का प्रदर्शन इस दौरान होगा।

Share:

Next Post

मांडू में पर्यटकों को मिलेगा चूल्हा, गांव की संस्कृति... गांव जैसा आभास...

Thu Jan 5 , 2023
इंदौर। मांडू फेस्टिवल के दौरान पर्यटकों के लिए पर्यटन विकास निगम गांवों की तर्ज पर चूल्हा-किचन तैयार करवा रहा है। गांवों के घरों में होने वाले किचन की तरह हूबहू तैयार इस किचन के चूल्हे पर पर्यटक खुद भी खाना बना सकेंगे। मध्यप्रदेश का पर्यटन विभाग प्रदेश की देश और दुनिया में पहचान बनाने की […]