देश बड़ी खबर

केजरीवाल के लिए अब APP ने दिखाया लेटर वाला सबूत, तिहाड़ जेल के डॉक्टर को लेकर बड़ा दावा


नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (APP) ने अपने सबसे बड़े नेता अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को लेकर एक बड़ा दावा किया है। आप ने आरोप लगाया है कि सीएम केजरीवाल को तिहाड़ जेल (Tihar Jail ) में मारने की साजिश रची जा रही है। आप ने कहा कि केजरीवाल को स्लो डेथ (slow death) दी जा रही है और उन्हें इंसुलिन नहीं दिया जा रहा। रविवार को आप नेता सौरभ भारद्वाज ने इस दावे को लेकर एक लेटर वाला सबूत (evidence) दिखाया है। उन्होंने दावा किया कि तिहाड़ जेल के डीजी ने डॉक्टर (doctor) के लिए एम्स दिल्ली को एक लेटर लिखा है।


लेटर वाला सबूत
दिल्ली सरकार के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘मैं आज आपको कुछ ऐसा सबूत दिखाने जा रहा हूं जिससे सभी को यह पता चल जाएगा कि कैसे केंद्र सरकार एक चुने हुए मुख्यमंत्री को मारने की साजिश कर रही है। यह कह रहे हैं कि हमारे यहां विशेषज्ञ और डॉक्टर हैं… जो अरविंद केजरीवाल को देख रहे हैं। इसके बाद सौरभ ने एक पत्र दिखाया। उन्होंने आगे कहा, ‘यह पत्र तिहाड़ जेल के डीजी ने कल (20 अप्रैल) एम्स को लिखा है। तिहाड़ डीजी ने कहा है कि हमें एक शुगर या डायबिटीज के स्पेशलिस्ट दे दिया जाए।

जेल के डॉक्टर को लेकर बड़ा दावा
सौरभ भारद्वाज ने आगे कहा, आज भाजपा की केंद्र सरकार सबके सामने एक्सपोज हो गई है। कल तक ये लोग कह रहे थे कि हमारे पास सारे स्पेशलिस्ट हैं, सब कुछ तो जेल में मौजूद है… अस्पताल है, क्लिनिक है, बेड है, इंसुलिन है, सबकुछ है। उन्होंने कहा, बीस दिन से इनके पास अरविंद केजरीवाल हैं, वह रोज कह रहे हैं कि मुझे डायबिटीज के स्पेशलिस्ट से दिखाइए। मुझे झेइंसुलिन की जरूरत है। लेकिन एक साधारण डॉक्टर… मुझे नहीं पता वह कौन है और किस तरह से जेल में है, उसके कहने पर सब कुछ किया जा रहा है और एक मुख्यमंत्री को दवा तक नहीं दी जा रही है।

जेल में इंसुलिसु न है लेकिन…
सौरभ भारद्वाज ने कहा, मैंने कब कहा कि जेल में इंसुलिन नहीं है? मैंने तो यह कहा कि जेल में इंसुलिन है, मरीजों को दिया जाता है, सैकड़ों मरीजों को इंसुलिन दिया जा रहा है लेकिन अरविंद केजरीवाल को नहीं दिया जा रहा है। क्योंकि सबको थोड़ी न मारना है, मारना तो बस अरविंद केजरीवाल को है न।

तिहाड़ जेल ने क्या कहा?
अरविंद केजरीवाल ने गिरफ्तारी से महीनों पहले इंसुलिन का इंजेक्शन लगवाना बंद कर दिया था और वह साधारण शुगर रोधी दवा ले रहे थे। अधिकारियों ने तिहाड़ जेल प्रशासन की ओर से उपराज्यपाल वीके सक्सेना को भेजी गई एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए शनिवार को यह जानकारी दी थी। तिहाड़ जेल के महानिदेशक द्वारा शुक्रवार को जमा की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य की जांच 10 अप्रैल और 15 अप्रैल को मेडिसिन के विशेषज्ञ द्वारा की गई थी, जिन्होंने मधुमेधु मेह रोधी दवाओं की सलाह दी थी और यह कहना गलत है कि केजरीवाल को उपचार के किसी भी चरण में इंसुलिन देने से इनकार कर दिया गया था। अधिकारियों ने बताया कि इसमें कहा गया है कि जेल डिस्पेंसरी में इंसुलिन की पर्याप्त उपलब्धता है और इसे केजरीवाल को ‘जब कभी आवश्यकता होगी दिया जा सकता है।

Share:

Next Post

DD का भगवा लोगो बस शुरुआत, मोदी 3.0 में MIB, प्रसार भारती के लिए बड़ा प्लान

Sun Apr 21 , 2024
नई दिल्ली. दूरदर्शन के लिए मूल ‘नारंगी’ (‘orange’) लोगो की वापसी सिर्फ शुरुआत है. सूत्रों ने बताया कि अगर नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) सरकार मौजूदा लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में तीसरी बार जीत हासिल करती है तो वह सूचना और प्रसारण मंत्रालय (MIB) और प्रसार भारती में कई बदलाव की योजना बना रही है. […]