बड़ी खबर

Nuh violence: पुलिस का बड़ा एक्शन, कांग्रेस विधायक मामन खान गिरफ्तार

चंडीगढ़ (Chandigarh)। नूंह हिंसा की साजिश (Nuh violence conspiracy) रचने के आरोप में हरियाणा पुलिस (Haryana Police) ने फिरोजपुर झिरका से कांग्रेस विधायक मामन खान (Congress MLA Maman Khan) को गुरुवार देर रात को राजस्थान से गिरफ्तार (arrested) कर लिया है। डीएसपी सतीश कुमार ने इसकी पुष्टि की। उन्होंने बताया कि मामन खान को शुक्रवार को अदालत में पेश किया जाएगा।

हरियाणा सरकार ने गुरुवार को ही हाईकोर्ट में बताया कि 31 जुलाई को नूंह में भड़की सांप्रदायिक हिंसा के संबंध में दर्ज एफआईआर में से एक में कांग्रेस विधायक मामन खान को भी आरोपी बनाया गया है। पुलिस के पास मामन खान के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। सबूतों का मूल्यांकन करने के बाद ही कांग्रेस विधायक खान को आरोपी बनाया गया है।


राज्य सरकार के वकील ने यह रहस्योद्घाटन उस समय किया जब गुरुवार को पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में खान की याचिका पर सुनवाई चल रही थी। मामन खान ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अपने खिलाफ किसी किसी भी दंडात्मक कार्रवाई से राहत की मांग की थी।

सूत्रों ने बताया है कि नूंह के नगीना पुलिस स्टेशन में सांप्रदायिक हिंसा के संबंध में दर्ज एक एफआईआर में खान को आरोपी बनाया गया है। पुलिस जांच में पाया गया कि खान कथित तौर पर फोन पर मोहम्मद तौफीक नामक एक संदिग्ध के संपर्क में थे। हिंसा में कथित संलिप्तता के आरोप में तौफीक को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। मामन खान को पूछताछ के लिए पहली बार 31 अगस्त को बुलाया गया था लेकिन खराब स्वास्थ्य का हवाला देकर वह पेश नहीं हुए थे।

एसआईटी ने उन्हें 10 अगस्त को पेश होने के लिए दूसरी बार नोटिस दिया था लेकिन वह अधिकारियों को कोई सूचना दिए बिना फिर से पेश नहीं हुए। विधायक के वकील ने बताया कि मामन खान को भी गुरुवार को ही पता चला कि उनका नाम प्राथमिकी में दर्ज है।

एक दिन पहले सीएम ने कार्रवाई के संकेत दिए थे
बुधवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा था कि खान कहीं भी चले जाएं, यदि वह आरोपी हैं तो उनके खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी। इस बयान से एक दिन पहले नूंह हिंसा में मारे गए वीएचपी कार्यकर्ता अभिषेक के परिजनों से मिलने सीएम उनके घर गए थे। परिजनों को उन्होंने भरोसा दिलाया था कि नूंह हिंसा के आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। इससे पहले अनिल विज भी बयान दे चुके हैं कि 28, 29 और 30 जुलाई को मामन खान जिन जगहों पर गए थे, वहां हिंसा हुई थी। भाजपा नेता मामन खान को नूंह हिंसा का मास्टरमाइंड बता रहे हैं।

विधानसभा में दिया बयान बना गले की फांस
विधानसभा के बजट सत्र के दौरान मामन खान का मोनू मानेसर को लेकर दिया गया विवादित बयान गले की फांस बन गया है। सदन में नासिर-जुनैद हत्याकांड के आरोपी मोनू मानेसर की गिरफ्तारी को लेकर उनकी भाजपा विधायक सत्यप्रकाश जरावत के साथ बहस चल रही थी। इस दौरान दोनों ही विधायकों में काफी गरमा-गरमी भी हो गई थी। तब उन्होंने मोनू को प्याज की तरह फोड़ देने की बात कही थी। उनका यह बयान विधानसभा के रिकॉर्ड में है।

नूंह हिंसा के बाद मामन खान का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। अभी तक यही माना जा रहा था कि उस समय विधानसभा की कार्यवाही से इस विवादित बयान को हटवा दिया गया था लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब चूंकि बयान विधानसभा के रिकॉर्ड में है तो पुलिस इस मामले में भी मामन खान से पूछताछ कर सकती है।

Share:

Next Post

अनंतनाग मुठभेड़ः एक और घायल जवान की मौत, तीसरे दिन भी सर्च अभियान जारी, दो आतंकी घिरे

Fri Sep 15 , 2023
जम्मू (Jammu)। दक्षिण कश्मीर (South Kashmir) के अनंतनाग जिले (Anantnag district) के कोकरनाग के गडूल के जंगलों में लगातार तीसरे दिन भी आतंकियों को मार गिराने के लिए अभियान (Operation to kill terrorists) जारी है। इसी बीच मुठभेड़ में जख्मी एक और जवान की मौत (One more injured soldier dies) हो गई है। जबकि दो […]