देश

पटना : अपने ही घर में जख्मी हालत में मिले श्रीहरमंदिर साहिब के मुख्य ग्रंथी, अस्पताल में भर्ती

पटना । पटना (Patna) में गुरु गोबिंद सिंह (Guru govind singh) का जन्मस्थान तख्त श्रीहरमंदिर साहिब के मुख्य ग्रंथी राजेंद्र सिंह (Chief Grant Rajendra Singh) अपने घर पर रहस्यमय परिस्थितियों में घायल (Injured) मिले। पुलिस अधिकारी ने बताया कि उनको पहली बार उनकी पत्नी ने देखा तो काफी खून बह रहा था उनकी गर्दन पर चोट लगी थी।

परिवार की ओर से कोई शिकायत दर्ज नहीं
एसएचओ ने कहा कि उनके परिवार के सदस्य उन्हें तुरंत नजदीकी अस्पताल ले गए और वहां से उन्हें पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) ले जाया गया। उन्होंने कहा कि पुलिस ने अब तक कोई जांच शुरू नहीं की है क्योंकि इस संबंध में उनके परिवार की ओर से कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई है।

गर्दन पर धारदार हथियार से वार
घटना की सूचना चौक थाना पुलिस को मिली थी। पुलिस को बताया गया कि भाई राजेंद्र सिंह की गर्दन पर धारदार हथियार से वार किया गया है। लेकिन पुलिस उसके परिवार के सदस्यों से शिकायत प्राप्त किए बिना औपचारिक जांच शुरू नहीं कर सकती है। अभी तक अन्य तख्त श्री हरमंदिर साहिब जी के किसी पदाधिकारी ने कोई टिप्पणी नहीं की है।

श्रीहरमंदिर साहिब 10वें गुरु गोबिंद सिंह जी की जन्मस्थली है
पटना का श्रीहरमंदिर साहिब सिखों के 10वें और आखिरी गुरु गोबिंद सिंह जी की जन्मस्थली है। गुरु गोबिंद सिंह का जन्म 22 दिसंबर 1666 को पटना में हुआ था। सिखों की आस्था से जुड़ा ऐतिहासिक दर्शनीय स्थल है। जन्म स्थान पर महाराजा रणजीत सिंह ने गुरुद्वारा का निर्माण कराया था। इस प्रसिद्ध और एतिहासिक गुरुद्वारे में गुरु गोबिंद सिंह की कृपाण, उनकी खड़ाऊं और कंघा विराजमान है। इस गुरुद्वारे को तख्त श्री पटना साहिब भी कहा जाता है ‘ग्रंथी’, सिख धर्म के पवित्र ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब के संरक्षक के रूप में कार्य करते हैं।

Share:

Next Post

अभी भी आईसीयू में है स्वर कोकिला लता मंगेशकर, डॉक्‍टर ने बताई अब कैसी है तबीयत

Sat Jan 15 , 2022
नई दिल्‍ली. स्वर कोकिला लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) हाल ही में कोरोना वायरस से संक्रमित हो गई थीं. कोरोना के साथ ही वह निमोनिया की भी चपेट में थीं. जिसके चलते वह इन दिनों अस्पताल में भर्ती हैं. कोरोना संक्रमण (Lata Mangeshkar Covid 19) के बाद उन्हें मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया […]