इंदौर न्यूज़ (Indore News) चुनाव 2024 भोपाल न्यूज़ (Bhopal News) मध्‍यप्रदेश राजनीति

पीसीसी चीफ जीतू पटवारी की बीजेपी सरकार को चेतावनी, वादे पूरे नहीं किए तो…

भोपाल। मध्य प्रदेश में मिली बड़ी हार के बाद प्रदेश कांग्रेस (Congress) में बड़ा बदलाव देखने को मिला. पार्टी ने कमलनाथ (Kamalnath) की जगह जीतू पटवारी को कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष की जिम्मेदारी दे दी है. जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने भोपाल में भारी स्वागत के बीच पीसीसी दफ्तर (PCC Office) पहुंचे और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष का पद संभाला.


‘वादे पूरे नहीं किए सड़कों पर उतरेगी कांग्रेस’
वहीं पीसीसी चीफ का पदभार ग्रहण करते ही जीतू पटवारी ने कहा, “बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र के वायदे पूरे नहीं किए तो कांग्रेस पार्टी सड़कों पर उतरेगी. बहनों को तीन हजार रुपये मिलने चाहिए, किसानों को 2700 रुपये गेहूं के मिलने चाहिए, सिलेंडर 450 रुपये का मिलने चाहिए.”

समर्थकों ने की आतिशबाजी
इससे पहले भोपाल आने से पहले इंदौर में जीतू पटवारी सुबह अपने घर से समर्थकों के साथ कार से निकले और रास्ते में उनके समर्थकों ने जीतू पटवारी के स्वागत में जमकर आतिशबाजी की. इसके साथ ही उनके समर्थन में नारे भी लगाए. इंदौर में बड़ा गणपति चौराहा है पर गणेश मंदिर पर उन्होंने दर्शन किया, उसके बाद सांवेर होते हुए वह इंदौर से उज्जैन के लिए रवाना हो गए. इस दौरान इंदौर से सांवेर के बीच अलग-अलग स्थान पर सैकड़ों मंचों के माध्यम से कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी का फूलों से स्वागत किया गया.

बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने प्रदेशाध्यक्ष बदलने का फैसला लिया और पार्टी के प्रदेश नेतृत्व की कमान कमलनाथ से लेकर जीतू पटवारी को सौंप दी. वहीं पार्टी आलाकमान के इस फैसले पर जीतू पटवारी ने वरिष्ठ नेताओं का आभार जताया और कहा कि अब पार्टी में कोई गुटबाजी नहीं है और हमारा अगला मिशन लोकसभा चुनाव है.

जीतू पटवारी ने बयान दिया कि लाडली बहनों को 3000 रुपये दिलवाने की जिम्मेदारी अब उनकी जिम्मेदारी है, जो वह भारतीय जनता पार्टी पर दबाव बनाएंगे और इस वादे को पूरा कराएंगे, जिस वादे को करके भारतीय जनता पार्टी ने मध्य प्रदेश में सरकार बनाई है

Share:

Next Post

बैंकों के पास बगैर दावे वाली जमा राशि बढ़कर हुई 42,270 करोड़ रुपये

Wed Dec 20 , 2023
नई दिल्‍ली (New Delhi) । बीते मार्च, 2023 तक बैंकों (banks) के पास बगैर दावे वाली जमा राशि (deposited money) 28 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि के साथ 42,270 करोड़ रुपये हो गई है। यह जानकारी मंगलवार को संसद (Parliament) को दी गई। वित्त वर्ष 2021-2022 में सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंकों में 32,934 करोड़ […]