उत्तर प्रदेश ज़रा हटके देश

शादी के कार्ड पर मुलायम-अखिलेश की तस्वीरें, आशीर्वाद में वोट और आजम खान की रिहाई की मांग

रामपुर: उत्तर प्रदेश के रामपुर (Rampur) में एक शादी का कार्ड (Marriage Invitation Card) चर्चा का विषय बना हुआ है. दरअसल ये शादी के कार्ड सियासी रंग में रंगा नजर आ रहा है. शादी का कार्ड समाजवादी पार्टी के रंग में रंगा हुआ है. कार्ड पर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव, राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, आजम खान और अब्दुल्ला आज़म की तस्वीर लगाई गई है. सपा का चुनाव चिन्ह साइकिल भी छपा है. वहीं कार्ड के लिफाफे पर वर-वधू को आशीर्वाद के रूप में 2022 में साइकिल वाला बटन दबाने की अपील की गई. यही नहीं इसके साथ ही जेल में बंद आजम खान और अब्दुल्ला आजम की रिहाई के लिए भी मांग की गई है.

दरअसल समाजवादी पार्टी छात्रसभा, रामपुर के जिलाध्यक्ष वैभव यादव की शादी 15 अक्टूबर को उत्तराखंड के कोटद्वार निवासी जीवानन्द की पुत्री से होनी है. वैभव यादव ने अपनी शादी के कार्ड को समाजवादी पार्टी के रंग में रंग दिया है. कार्ड पर पार्टी का चुनाव चिन्ह, पार्टी के मुखिया सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह, अखिलेश यादव और आजम खान की तस्वीर छपी है. कार्ड के हर पेज पर पार्टी का चिन्ह साइकिल का निशान छपा है. शादी के कार्ड पर ही 2022 में साइकिल का बटन दबाने की अपील की गई है.

वैभव यादव ने बताया कि मेरी शादी 15 अक्टूबर को उत्तराखंड कोटद्वार में है. कार्ड को समाजवादी रंग में रंगने का एक ही मकसद है, मिशन-2022 और आजम खान की रिहाई. ये दो ही हमारे मेन मुद्दे हैं. बीजेपी सरकार में अत्याचार, जुल्म, युवाओं का रोजगार ये सारे मुद्दे लोग पिछले साढ़े चार साल से देख रहे हैं. इन सब को खत्म करना है और अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाने का पहले ही हमारा लक्ष्य है. यह एक मैसेज है कि हर युवा चाहता है हमारी सरकार आए. जहां-जहां मेरा कार्ड जाए, वहां लोगों में जागरूकता जागे कि अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बनें. जो अत्याचार आजम खान और उनके परिवार के साथ हुए, उसका पर्दाफाश हो.

सपा सरकार बनेगी तो दूध का दूध और पानी का पानी भी किया जाएगा. कार्ड पर पार्टी के नेताओं की तस्वीर छपवाने के बारे वैभव यादव ने बताया कि अखिलेश यादव हमारी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और मुलायम सिंह सरंक्षक हैं. उनकी तस्वीर इसलिए लगाई गई है क्योंकि ये हमारे दिलों में रहते हैं, आजम खान हमारे दिलों में रहते हैं, और अब्दुल्ला आजम हमारे दिलों में रहते हैं.

उन्होंने कहा कि हमारी सब से यही अपील है कि मैं और मेरी वाइफ हम वर-वधु हैं. हमें आशीर्वाद के रूप में यही दिया जाए कि समाजवादी वाला बटन दबाया जाए. हमारे लिए यही आशीर्वाद होगा. चाहे जो लोग न आ पाएं, वो भी और जो लोग शामिल हों वो भी. उन्होंने कहा कि आजम खान रामपुर के ही नहीं पूरे हिंदुस्तान के नेता हैं और हम चाहते हैं उत्तरप्रदेश सरकार आजम खान के परिवार के साथ जो जुल्म कर रही है, वो बन्द किया जाएं. उनकी रिहाई जल्द से जल्द की जाएं हमने एक मैसेज दिया है उत्तरप्रदेश सरकार को.

हम अपनी खुशियां भी मनाते हैं और गम भी मनाते हैं. कुछ भी अगर हमारे घर में बात है तो आजम खान हमारे साथ हमेशा खड़े होते हैं. पूरे रामपुर के लोगों के साथ खड़े होते हैं. ऐसा उनके साथ क्यों किया जा रहा है? हमें लोगों से यह उम्मीद है कि लोग एक साथ आएंगे एक जुट होंगे इस मुहिम को आगे बढ़ाएंगे और आजम खान को जल्द ही रिहा करने की पूरी कोशिश करेंगे और सड़कों पर उतरेंगे.

Share:

Next Post

जम्मू-कश्मीर में मुठभेड़ पर बोली शिवसेना- सैनिकों की मौत का पांच गुना बदला लिया जाना चाहिए

Tue Oct 12 , 2021
मुंबई। जम्मू-कश्मीर में एक मुठभेड़ में सेना के पांच जवानों के शहीद होने के एक दिन बाद, शिवसेना ने मंगलवार को कहा कि आतंकवादियों के साथ आमने-सामने की लड़ाई में सैनिकों की मौत का पांच गुना बदला लिया जाना चाहिए। शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के एक संपादकीय में दावा किया गया है कि जम्मू-कश्मीर को […]