बड़ी खबर

‘PM सरकार बनाने में व्यस्त…,’ संसद में हुए घटनाक्रम को लेकर केंद्र पर शिवसेना का वार

मुंबई। संसद में चल रहे शीतकालीन सत्र के दौरान लोकसभा सदन में बुधवार को एक घटना ने सुरक्षा एजेंसियों को होश उड़ा दिए हैं। लोकसभा कार्यवाही के दौरान दर्शक दीर्घा में बैठे दो लोगों ने सभी को उस वक्त चौंका दिया था, जब वे अचानक वहां से कूदकर सांसदों के बीच जा पहुंचे थे। इस घटना को लेकर हर कोई रोष में है।

सबके मन में एक ही सवाल है कि जब सदन में इतनी बड़ी चूक हो सकती है तो बाहर आम लोगों का क्या होगा। उद्धव ठाकरे वाली शिवसेना ने अब केंद्र पर हमला बोल दिया है। उसका कहना है कि अगर संसद भवन की सुरक्षा में कोई चूक हो सकती है तो आप देश की सीमाओं पर स्थिति को समझ सकते हैं।

उद्धव ठाकरे वाली शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कहा कि संसद में अगर भगदड़ मच सकती है तो आप देश की सीमाओं पर स्थिति को समझ सकते हैं। देश को कल ही समझ आ गया होगा कि चीन की सेना लद्दाख में कैसे घुसी और कब्जा किया होगा। कल यह भी पता चला होगा कि पाकिस्तान से घुसपैठिये कश्मीर में कैसे घुसे और आतंकवादी मणिपुर में कैसे आए।


उन्होंने आगे कहा, ‘हमारे संसद भवन में सुरक्षा के कड़े इंतजाम हैं। पर फिर भी वहां कुछ लोग घुस गए और कूदकर अफरातफरी करने लगे। पीएम और गृह मंत्री चुप हैं, वे एक महीने से चुनाव प्रचार में व्यस्त थे।प्रधानमंत्री सरकार बनाने और शपथ ग्रहण करने में ही लगे हैं और देश की सुरक्षा हवा में और भगवान भरोसे है।’

गौरतलब है, लोकसभा सदन में बुधवार दोपहर उस वक्त अफरातफरी मच गई, जब सदन में मौजूद दर्शन दीर्घा से दो व्यक्ति कार्यवाही के दौरान सांसदों के बीच कूद गए। इस दौरान आरोपियों ने जमकर हंगामा किया। दोपहर को सदन के भीतर मौजूद दो आरोपियों में से एक आरोपी सासंदों की सीट पर जा पहुंचा। इस घटना को देखकर वहां पर मौजूद सासंदों और सुरक्षा कर्मियों के हाथ पांव फूल गए।

आरोपी ने वहां मौजूद सांसदों की सीट पर हंगामे के दौरान ‘कलर स्मॉग’ छोड़ दिया। इसके बाद सदन में अफरातफरी का मौहाल बन गया था। सभी सांसद अपनी-अपनी जगहों से हट गए। हालांकि एक आरोपी को वहां मौजूद सांसदों और सुरक्षा कर्मियों ने काफी मशक्कत के बाद पकड़ लिया और जमकर धुनाई की। पुलिस ने मामले में पांच आरोपियों को हिरासत में ले लिया है, जब एक आरोपी की तलाश जारी है।

Share:

Next Post

यह साजिश है या जीने की ख्वाहिश

Thu Dec 14 , 2023
अब तो जागो सोने वालों… आजादी के बाद गुलामी की कशमकश… देश शिखर पर है और जिंदगियां पाताल में… क्यों कूदना पड़ा उन नौजवानों को गूंगे-बहरे और अंधे सांसदों के बीच… जिंदगी की कशमकश से जूझते वो नौजवान भी या तो खुदकुशी कर लेते या जिंदगी की जंग लड़ते… कोई बेरोजगार है तो कोई भ्रष्टाचार […]