देश विदेश

पोप फ्रांसिस को पीएम मोदी ने भारत आने का न्योता दिया


नई दिल्ली: पीएम मोदी (PM Modi) शुक्रवार को जी7 समिट (G7 Summit) में पोप फ्रांसिस (Pope Francis ) से मिले. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पोप फ्रांसिस को भारत (India) आने का न्योता ( invited) दिया है. उम्मीद की जा रही है कि इस बार पोप फ्रांसिस भारत दौरे पर आएंगे. पीएम मोदी 87 वर्षीय पोप फ्रांसि के साथ गले मिले और हल्के-फुल्के अंदाज में बातचीत करते नजर आए. पोप फ्रांसिस को पीएम मोदी ने साल 2016 और 2021 में भी भारत आने का न्योता दिया था. मगर वह नहीं आए. इस बार भी पीएम मोदी ने इटली में जी7 शिखर सम्मेलन के इतर वेटिकन के चीफ पोप फ्रांसिस को भारत आने का न्योता दिया. अब देखने वाली बात है कि पोप फ्रांसिस आते हैं या नहीं, या फिर आते हैं तो कब. अगर वह आते हैं तो हिंदू बहुल राष्ट्र में उनकी यह पहली यात्रा होगी.


दरअसल, पीएम मोदी और पोप फ्रांसिस ने इटली के अपुलिया में जी7 शिखर सम्मेलन के ‘आउटरीच सेशन’ में गर्मजोशी से मुलाकात की. पीएम मोदी ने कहा कि मैं लोगों की सेवा करने और हमारे ग्रह को बेहतर बनाने के प्रति उनकी प्रतिबद्धता की सराहना करता हूं. साथ ही उन्हें भारत आने का निमंत्रण भी दिया. वहीं, पोप फ्रांसिस ने भी न्योता स्वीकार कर लिया है. उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई), ऊर्जा, अफ्रीका और भूमध्य सागर विषय पर ‘आउटरीच सेशन’ में अपने संबोधन में कहा कि एआई का बेहतर इस्तेमाल करना हममें से प्रत्येक पर निर्भर करता है. बता दें कि पीएम मोदी रोमन कैथोलिक चर्च के प्रमुख पोप फ्रांसिस से मिलने वाले भारत के पांचवें प्रधानमंत्री हैं.

मोदी से पहले किन पूर्व पीएम ने की है मुलाकात
पीएम मोदी से पहले पोप से पंडित जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, इन्द्र कुमार गुजराल और अटल बिहारी वाजपेयी मिल चुके हैं. पीएम मोदी जब साल 2021 में जी20 समिट के लिए रोम के दौरे पर गए थे, तब भी उन्होंने पोप फ्रांसिस से मुलाकात की थी और उन्हें भारत आने का न्योता दिया था. साल 2016 में भी पोप फ्रांसिस भारत आने वाले थे, मगर ऐसा नहीं हो पाया था. पोप फ्रांसिस की बात करें तो अब तक वह भारत के दौरे पर नहीं आए हैं. भारत का दौरा करने वाले अंतिम पोप जॉन पॉल द्वितीय थे, जो एशिया में चर्च पर एक पोप दस्तावेज जारी करने के लिए 1999 में नई दिल्ली आए थे.

कितने पोप आ चुके हैं भारत
मोदी से पहले पोप से मिलने वाले भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी थे, जिन्होंने 2000 में वेटिकन में जॉन पॉल द्वितीय से मुलाकात की थी. अब तक भारत में तीन बार पोप का दौरा हो चुका है. भारत आने वाले पहले पोप पोप पॉल VI थे, जो 1964 में इंटरनेशनल यूचरिस्टिक कांग्रेस में भाग लेने के लिए मुंबई आए थे. पोप जॉन पॉल II ने फरवरी 1986 और फिर नवंबर 1999 में भारत का दौरा किया था. हालांकि, पोप फ्रांसिस अब तक भारत का दौरे पर नहीं आए हैं. मगर वह भारत के पड़ोसी देश बांग्लादेश और म्यांमार का दौरा कर चुके हैं.

कितना अहम है पोप के भारत आने का न्योता?
अब सवाल है कि आखिर पोप को भारत आने का न्योता कितना अहम है? तो इसका जवाब है कि भारत एशिया में दूसरी सबसे बड़ी कैथोलिक आबादी वाला देश है. दरअसल, भारत में रोमन कैथोलिकों की संख्या करीब 20 मिलियन से अधिक है. ईसाई धर्म भारत में हिंदू और इस्लाम के बाद तीसरा सबसे बड़ा धर्म है. फीलीपींस के बाद भारत ही एशिया का वह देश है, जहां कैथोलिकों की आबादी सबसे अधिक है. इस लिहाज से देखा जाए तो पोप का दौरा भारत के लिए काफी अहम है. उनके आने से ईसाईयों और पादरियों में खुशी की लहर होगी. भारत की आबादी का यह करीब डेढ़ फीसदी है. भारत के चर्च और पादरी भी लंबे वक्त से पोप की राह देख रहे हैं. पादरियों ने कई बार पीएम मोदी से पोप को भारत आने का न्योता देने की गुहार लगा चुके हैं.

 

पोप को न्योता देने के मायने
अगर सियासी नजरिए से भी देखें तो पोप फ्रांसिस अगर भारत आते हैं तो यह मोदी की सफलता मानी जाएगी, क्योंकि पोप फ्रांसिस अब तक भारत नहीं आए हैं. भारत में अक्सर ईसाईयों पर धर्मांतरण के आरोप लगते रहे हैं. ऐसे में उनका भारत आना कई परसेप्शन को तोड़ सकता है. बीते कुछ सालों से भारत आर्थिक रूप से आगे तो बढ़ा ही है. दुनिया के अन्य देशों के साथ भी रिश्ते प्रगाढ़ हो रहे हैं. पोप के भारत आने से दुनिया को भी एक संदेश जाएगा. पोप यूरोपीय देशों अथवा ईसाई बहुल देशों में केवल धार्मिक ही नहीं, राजनीतिक रूप से भी इन्फ्लूएंस करते रहे हैं. ऐसे में उनके भारत दौरे से इंडिया का ग्लोबल इमेज और बेहतर होगा. साथ ही केरल में 2026 में विधानसभा चुनाव होने हैं. केरल में ईसाई वोटरों की संख्या करीब 20 फीसदी है. ऐसे में अगर पोप भारत दौरे पर आते हैं तो इसका एडवांटेज केरल चुनाव में भाजपा को मिल सकता है. साथ ही उनके भारत दौरे स यह भी संदेश जाएगा कि मोदी सरकार ईसाई समुदाय के प्रति कितनी संजीदा है.

Share:

Next Post

आ गया 'स्त्री-2' का टीजर, कहीं ज्यादा होगा डर-कॉमेडी का लेवल

Sat Jun 15 , 2024
मुंबई (Mumbai)। दर्शकों को पूरे 6 साल का इंतजार कराने के बाद फाइनली मेकर्स ‘स्त्री’ (stree) का दूसरा पार्ट लेकर आने को तैयार हैं। ‘मुंज्या’ (‘Munjya’) की स्क्रीनिंग के दौरान मेकर्स ने ‘स्त्री-2’ (Stree 2 Teaser) का टीजर रिलीज कर दिया है। अभी आप इसे एक्सक्लूसिवली थिएटर्स में ही देख पाएंगे लेकिन हम आपको यहां […]