जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

क्यों खास है साल का दूसरा सूर्य ग्रहण? भारत में भी दिखेगा, भूलकर भी न करें 4 काम

नई दिल्‍ली (New Delhi)। Surya Grahan 2024, Solar Eclipse 2024 में दो सूर्य ग्रहण(Solar Eclipse) हैं। साल का दूसरा सूर्य ग्रहण अक्टूबर(Solar eclipse October) में लगने जा रहा है। इस दिन हिंदू कैलेंडर(Days in Hindu Calendar) में अश्विन मास(ashwin month) की अमावस्था तिथि(amavasya date) है। साल का दूसरा सूर्य ग्रहण 2 अक्टूबर को पड़ रहा है। 8 अप्रैल 2024 को साल का पहला सूर्य ग्रहण पड़ा था। यह सूर्य ग्रहण इसलिए भी खास था कि यह पूर्ण ग्रहण था और कुछ मिनटों के लिए पृथ्वी पर पूरी तरह से अंधकार छा गया था। भारतीय समय के अनुसार, साल का दूसरा सूर्य ग्रहण रात 9 बजकर 13 मिनट पर शुरू होगा और तड़के 3 बजकर 17 मिनट पर पूरा होगा। यानी यह वलयाकार सूर्य ग्रहण करीब 6 घंटे 4 मिनट रहने वाला है।

क्यों खास है साल का दूसरा सूर्य ग्रहण?


ज्योतिषाचार्य आचार्य अशोक पांडे ने बताया कि हिंदू कैलेंडर के मुताबिक साल का यह दूसरा सूर्य ग्रहण वलयाकार होगा, जिसे रिंग ऑफ फायर भी कहा जाता है।

सूतक लगेगा?

ज्योतिष विद्या के अनुसार, सूर्य ग्रहण लगने के लगभग 12 घंटे पहले सूतक काल लग जाता है, जो ग्रहण के खत्म होने तक रहता है। साल का दूसरा सूर्य ग्रहण भारत में नहीं दिखाई देगा। इसलिए इस ग्रहण का सूतक काल भी मान्य नहीं होगा। सूतक काल के दौरान पूजा-पाठ नहीं करनी चाहिए और न ही भगवान को स्पर्श करना चाहिए।

कहां-कहां दिखेगा सूर्य ग्रहण?

साल का दूसरा सूर्य ग्रहण आर्कटिक, पेरू, दक्षिणी अमेरिका, प्रशांत महासागर, अर्जेंटीना और फिजी आदि देशों में दिखाई देने वाला है। इन देशों में 12 घंटे पहले सूतक काल लग जाएगा।

सूर्यग्रहण के दौरान क्या न करें?

जिन जगहों पर ग्रहण दिखेगा, वहां पर सूतक 12 घंटे पूर्व लग जाएगा। सूतक काल में वृद्ध और बीमार लोगों को छोड़ कर भोजन आदि करने से बचें। ग्रहण काल के दौरान गर्भवती महिलाओं को फल, सब्जी आदि काटने एवं नुकीली वस्तु के प्रयोग से बचना चाहिए। ग्रहण के दौरान पूजा-पाठ या भगवान को स्पर्श करने से बचें। सूर्य ग्रहण के दौरान प्रेग्नेंट महिलाओं को ग्रहण न तों देखना चाहिए न ही बाहर निकलना चाहिए।

Share:

Next Post

जम्मू-कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद चुनावी तैयारियां तेज, पांच चरणों में इलेक्शन होने की उम्मीद

Thu Jun 20 , 2024
जम्मू। जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir)  में अनुच्छेद 370 (Article 370) हटने (removal ) के बाद पहली बार विधानसभा चुनाव (assembly elections) को लेकर प्रशासनिक तैयारियां (preparations) तेज हो गई हैं। रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) के बाद चुनाव का एलान हो सकता है। प्रस्तावित विधानसभा चुनाव पांच चरणों में कराने की योजना है। 24 जून से प्रदेश […]