खेल

पिता का ताना सुनकर शतकों की बरसात कर रहे हैं शुभमन गिल, कोच द्रविड़ ने किया खुलासा

इंदौर। न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के आखिरी मैच में शुभमन गिल ने 112 रन की शानदार पारी खेली। उन्होंने कप्तान रोहित शर्मा के साथ 212 रन की ओपनिंग साझेदारी की और टीम इंडिया को शानदार शुरुआत दिलाई। पिछली चार वनडे पारियों में यह गिल का तीसरा शतक था। इससे पहले उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ शतक लगाया था और न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के पहले मैच में 208 रन बनाए थे।

भारत और न्यूजीलैंड के बीच वनडे सीरीज के आखिरी मुकाबले के बाद भारतीय कोच राहुल द्रविड़ ने शुभमन गिल का इंटरव्यू लिया। इस दौरान द्रविड़ ने गिल को शुभकामनाएं दीं और उनकी शानदार फॉर्म की मजेदार वजह भी बताई। द्रविड़ ने बताया कि जब शुभमन गिल अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन अर्धशतक लगाने के बाद आउट हो रहे थे तो उनके पिता ने उनसे पूछा कि क्या तुम हल्की फुहार की करते रहोगे या कभी तूफान के साथ बरसोगे भी। इसके बाद द्रविड़ ने कहा कि आपने पिछले एक महीने में जो किया, आपने वाकई में रनों की बारिश की है। आपके पिता को आप पर गर्व होगा।

गिल ने कहा “मुझे नहीं लगता कि मेरे पिता इस मैच को लेकर बहुत ज्यादा खुशी होंगे। वह चाह रहे होंगे कि मैं शतक लगाने के बाद भी क्रीज पर रहकर अच्छी बल्लेबाजी करूं और वनडे में दूसरा दोहरा शतक लगाने की कोशिश करूं।” इस पर द्रविड़ ने कहा कि आप सही हाथों में हैं, अगर आप खुद को और बेहतर करने के लिए प्रेरित नहीं करते हैं तो आपके पिता वह काम करते हैं।

द्रविड़ ने गिल से पूछा कि बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज से ही आप शानदार लय में हैं। पिछली छह पारियों में तीन शतक लगा चुके हैं। अब कैसा महसूस हो रहा है। इसके जवाब में गिल ने बताया कि उन्हें वनडे मैच में बल्लेबाजी करना बहुत पसंद है। वह शुरुआत में अपना समय लेकर देख सकते हैं कि पिच कैसी है। इसके बाद वह अपना स्वाभाविक खेल दिखा सकते हैं। गिल ने कहा कि श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले उन्हें नहीं पता था कि वह खेलेंगे या नहीं, लेकिन आपने (द्रविड़) और कप्तान रोहित ने उन पर जो भरोसा दिखाया, उससे बहुत आत्मविश्वास मिला। इस मजे लेते हुए द्रविड़ ने कहा कि कोच की तारीफ कर आपने काफी अच्छा काम किया है।

गिल ने कोच द्रविड़ से पूछा कि आपने पिछले 5-6 साल में मुझे देखा है, मेरे अंदर क्या बदलाव आया है। इस पर द्रविड़ बोले कि रन बनाने और बल्लेबाजी करने की भूख तो आपके अंदर हमेशा से थी, लेकिन पिछले 7-8 महीनों में आपके अंदर सबसे बड़ा बदलाव आपकी फील्डिंग को लेकर आया है। आप स्लिम में कैच पकड़ने के लिए लगातार अभ्यास कर रहे हैं और खुद को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं। यह आपके अंदर सबसे बड़ा बदलाव है। आपके अंदर समझदारी पहले ही थी, लेकिन रनों की भूख अब और बढ़ गई है। जब आप वनडे में बल्लेबाजी करते हैं तो आप रोहित और विराट के साथ बल्लेबाजी करते हैं। यह आपके लिए बहुत अच्छी चीज है। आप इन दोनों से बहुत कुछ सीख सकते हैं।

इसके जवाब में गिल ने कहा कि इन दोनों खिलाड़ियों को बल्लेबाजी करते हुए देखकर मैं बड़ा हुआ हूं। अब उनके साथ बल्लेबाजी करना और उनके दिमाग को पढ़ना सुखद है। आज रोहित भाई जब 70-80 के स्कोर पर बल्लेबाजी कर रहे थे और डेरिल मिचेल गेंदबाजी के लिए आए तो रोहित ने कहा कि यह गेंदबाज मेरा विकेट ले सकता है पर मैं इसकी गेंदों पर जमकर रन बटोरने की कोशिश करूंगा। इस तरह की सोच से आपका खेल साफ होता है।

गिल ने द्रविड़ ने पूछा कि आपके नाम वाले ड्रेसिंग रूम के अंदर जाना कैसा लगता है। इस पर द्रविड़ ने कहा कि भारत के लिए खेलने का मौका मिला, इसके लिए मैं सौभाग्यशाली हूं। मेरे अंदर वह क्षमता भी रही की टीम इंडिया में जगह बनाऊं और लंबे समय तक भारत के लिए खेल सका। यह मेरा सौभाग्य हैं। इतने साल में लोगों ने बहुत प्रेम दिया है। यह बहुत अच्छा है, हालांकि, कई बार यह शर्मनाक भी होता है। आपके लिए मैं कहूंगा कि रोहित और कोहली के साथ बल्लेबाजी करके सीखते रहें और तब तक आउट न हों, जब तक ये दोनों क्रीज पर हैं। भविष्य के लिए शुभकामनाएं।

Share:

Next Post

इस स्कूल से पढ़ते ही पक्की हो जाती है सरकारी नौकरी! कहलाता है रोजगार फैक्ट्री

Wed Jan 25 , 2023
नागौर: आज एक ऐसे विद्यालय से रुबरु करवाने जा रहे हैं जो सभी के लिए प्रेरणा है. दरअसल, यह कोई निजी विद्यालय नहीं है बल्कि यह एक राजकीय विद्यालय है. इस विद्यालय से शिक्षा अर्जित करने वाला हर तीसरा विद्यार्थी सरकारी सेवा में है. यह विद्यालय शिक्षा के क्षेत्र में नागौर के बड़े-बड़े विद्यालयों को […]