खेल

T20 WC: फ्लोरिडा में टीम इंडिया का अभ्यास सत्र रद्द, ये दो खिलाड़ी कनाडा के खिलाफ मैच के बाद लौट सकते हैं वापिस

फ्लोरिडा। भारतीय टीम का 14 जून को फ्लोरिडा में होने वाला अभ्यास सत्र बारिश के कारण रद्द कर दिया गया है। टीम इंडिया शनिवार को लॉडरहिल के सेंट्रल ब्रोवार्ड रीजनल पार्क स्टेडियम टर्फ ग्राउंड में कनाडा से भिड़ेगी। रोहित शर्मा एंड कंपनी ने अब तक 2024 टी20 विश्व कप में ग्रुप चरण में अपने सभी मैच जीते हैं। टीम इंडिया ने अपने शुरुआती मैच में आयरलैंड को आठ विकेट से हराया था और फिर कम स्कोर वाले थ्रिलर में पाकिस्तान को छह रन से हराया। भारत ने न्यूयार्क के नासाउ काउंटी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में अमेरिका को सात विकेट से हराकर सुपर-8 में जगह बनाई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी बात सामने आई है कि शुभमन गिल और आवेश खान कनाडा के खिलाफ भारत के आखिरी ग्रुप मैच के बाद टीम का साथ छोड़ देंगे। दोनों को रिलीज किया जाएगा और दोनों भारत लौट आएंगे। ये दोनों रिजर्व का हिस्सा बनकर अमेरिका गए हैं। वहीं, दो और अन्य रिजर्व खिलाड़ी खलील अहमद और रिंकू सिंह टीम के साथ बने रहेंगे।


फ्लोरिडा के फोर्ट लॉडरडेल में स्थित लॉडरहिल में इस हफ्ते के बाकी दिनों में भारी बारिश की संभावना है। इसी हफ्ते भारत, पाकिस्तान, अमेरिका, आयरलैंड और कनाडा को अपने-अपने मुकाबले फ्लोरिडा में खेलने हैं। श्रीलंका और नेपाल के बीच लॉडरहिल में 12 जून को मैच बिना एक भी गेंद फेंके रद्द करना पड़ा था। लॉडरहिल में ही मेजबान अमेरिका शुक्रवार को आयरलैंड के खिलाफ उतरेगा। पाकिस्तान को भी रविवार को इसी मैदान पर आयरलैंड से भिड़ना है।

भारत ने टूर्नामेंट के अगले चरण में जगह पक्की कर ली है और वह 24 जून को सेंट लूसिया के डेरेन सैमी नेशनल क्रिकेट स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगा। टूर्नामेंट से पहले वरीयता मिलने से सुपर आठ चरण तय हो जाएगा और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे अपने ग्रुप में पहले स्थान पर रहे या दूसरे स्थान पर। भारत और ऑस्ट्रेलिया सुपर-आठ में एक ही ग्रुप में होंगे। इसके अलावा इस ग्रुप में अफगानिस्तान की भी एंट्री हो चुकी है। भारत का सामना 20 जून को अफगानिस्तान से बारबाडोस में होगा।

Share:

Next Post

इंदौर सहित कई जिलों में आंधी-बारिश की संभावना

Fri Jun 14 , 2024
भोपाल। बंगाल की खाड़ी (Bay of Bengal) और अरब सागर (Arabian Sea) से उठा मानसून (Monsoon) धीरे-धीरे उत्तर भारत (India) की ओर बढ़ रहा है। अगले 3-4 दिन में इसके मध्यप्रदेश (MP) में आने की संभावना है। हालांकि प्रदेश के अधिकांश जिलों में मानसून पूर्व की बारिश के साथ ही पश्चिमी विक्षोभ का असर देखा […]