Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah-जेठालाल छोड़ सकते हैं गोकुलधाम

पिछला वर्ष यानि 2020 पूरी दुनिया के लिए ही बहुत बुरा साल साबित हुआ है। एक तरफ जहां कोरोना महामारी ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया तो वहीं बाद में लगाए गए लॉकडाउन के चलते कई लोगों ने नौकरियां तक गंवा दी है, यहां तक कि इसका असर बॉलीबुड में भी देखने को मिला।


बात कर रहे हैं लोकप्रिय सीरियल तारक मेहता का उल्टा चश्मा की, जो लोकप्रिया सालों साल बाद भी कायम है। तारक मेहता का उल्टा चश्मा(Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) के दो सबसे महत्वपूर्ण किरदार यानि कि जेठालाल (jethalal) और दयाबेन (Dayaben)। दोनों ही एक दूसरे को बहुत प्यार करते हैं और एक दूसरे के लिए कुछ भी करने गुज़रने को तैयार रहते है। सोनी सब टीवी के इस सीरियल की जान हैं जेठालाल गड़ा। लेकिन क‍िसी ने सोचा भी नहीं था क‍ि इन हालातों की चपेट में ‘तारक मेहता का उल्‍टा चश्‍मा’ (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah) के जेठालाल चंपकलाल गड़ा (Jethalal Champaklal Gada) भी आ जाएंगे। आलम ये हो गया है कि अब जेठालाल की 12 साल पुरानी दुकान पर ताला लगने वाला है। सुनने मेुं आ रहा है कि कर्जे में आ चुके जेठालाल अब मुंबई छोड़ गांव जाने की सोच रहे हैं।

बता दें कि सीरियल ‘तारक मेहता का उल्‍टा चश्‍मा’ में जेठालाल लॉकडाउन की वजह से त्रस्त हो गए हैं। जेठालाल के गड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स का व्यवसाय भी कोरोना महामारी और लॉकडाउन के चपेट में आ गया है और उन्‍हें व्‍यापार में भारी नुकसान हो गया है।
लॉकडाउन में जेठालाल एक व्यापारी को क्रेडिट पर बड़ा आर्डर डिलीवर करते हैं। कोरोना के चलते लॉकडाउन में उनकी दूकान बंद रहने के कारण सारे व्यवहार रुक जाते हैं और उनकी पेमेंट भी अटक जाती है। लॉकडाउन खुलने के कुछ दिनों बाद जब जेठालाल उस व्यापारी को पेमेंट के लिए फोन करते है तो वह व्यापारी जेठालाल को पेमेंट देने से साफ इंकार कर देता है।

लॉकडाउन के पहले जेठालाल ने दुकान में जो सामान भर रखा था उसका पेमेंट तो जेठालाल को करना ही पड़ा। दूसरी तरफ लॉकडाउन के दरम्यान यह जो क्रेडिट पर सामान बेचना पड़ा उसका पैसा मिलाना मुश्किल हो गया है। जेठालाल की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं।
इस सीरियल के नए प्रोमो में द‍िखाया गया है क‍ि जेठालाल अब बापूजी से अपनी दुकान बेचकर लेनदारों का कर्ज चुकाने और गांव जाने की बात कर रहे हैं। वहीं जेठालाल के मुंह से ये सब सुनकर गोकुलधाम वाले चौंक जाते हैं। अब देखना होगा क‍ि क्‍या गड़ा इलेक्‍ट्रोन‍िक्‍स पर सच में ताला लग जाएगा, क्‍या जेठा लाल इस मुसीबत से न‍िकल पाएंगे।

Agniban

Next Post

UP : शाहजहांपुर में 2 मासूम बच्चियों से दरिंदगी, एक की मिली लाश, तो दूसरी खून से लथपथ

Tue Feb 23 , 2021
शाहजहांपुर । उत्‍तर प्रदेश (UttarPradesh) में लगातार महिलाओं और बच्चियों के खिलाफ अपराध (Crime)की घटनाएं सामने आ रही हैं। सोमवार को शाहजहांपुर (Shahjahanpur) में दो ना‍बालिग बहनें मदरसे में पढ़ने गईं, लेकिन वापस घर नहीं लौटीं। देर रात चार साल की बच्ची का शव खेत में पड़ा मिला। काफी तलाश […]

Know and join us

www.agniban.com

month wise news

February 2021
S M T W T F S
 123456
78910111213
14151617181920
21222324252627
28