उत्तर प्रदेश देश

UP : यमुना नदी में बहकर आ रहे हैं शव, कोरोना संक्रमण को लेकर मचा हड़कंप

हमीरपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में यमुना नदी पुल के पास शव (Dead Body) उतराते दिखे तो लोगों में अफरातफरी मच गई। हमीरपुर जिले में यमुना नदी (Yamuna River) में दर्जनों शव मिलने की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया कि नदी में दर्जनों शव तैर रहे थे।

गांव वालों ने नदी में बहा दिए शव
यमुना नदी (Yamuna River) में शवों की हकीकत जानने के लिए हमीरपुर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची तो पता चला कि कानपुर और हमीरपुर जिलों के ग्रामीण इलाकों में बड़ी तादाद में लोगो की मृत्यु हो रही है। इन्हीं शवों को गांव वाले नदी में बहा रहे हैं।

कानपुर-हमीरपुर सीमा पर बहती है यमुना नदी
हमीरपुर जिले में बहने वाली यमुना नदी (Yamuna River) का उत्तरी किनारा कानपुर में लगता है और दक्षिणी किनारा हमीरपुर में लगता है यानी यमुना नदी कानपुर और हमीरपुर जिलो की सीमा रेखा के रूप में बहती है। यमुना नदी को कानपुर और हमीरपुर जिले के लोग मोक्ष दाहिनी कालिंदी के रूप में मानते है और मत्यु होने पर इसी यमुना में जल प्रवाहित किए जाने की पुरानी परंपरा है।

कोरोना काल में नदी में बढ़ी शवों की संख्या
यमुना नदी में इक्का-दुक्का शव हमेशा देखे जाते रहे हैं, लेकिन कोरोना काल में नदी में शवों की बाढ़ आ गई है, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि ग्रामीण इलाकों में बड़ी तादाद में लोगों की मौत हो रही है। कोरोना के डर से ग्रामीण शवों का अग्निदाह करने के बजाए यमुना नदी में प्रवाहित कर दे रहे है और इसी वजह से यमुना नदी में एक साथ दर्जनों शव तैरते नजर आ रहे हैं।

Share:

Next Post

पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा पर भड़के Mahant Paramhans Das, दे डाली ये बड़ी चेतावनी

Fri May 7 , 2021
अयोध्या। पश्चिम बंगाल में चुनाव परिणाम पश्चात भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ हो रहे हिंसात्मक घटनाओं को लेकर अयोध्या (Ayodhya) के संत समाज में नाराजगी है। घटनाओं के विरोध में तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास (Mahant Paramhans Das) ने आत्मदाह की चेतावनी दी है। तपस्वी छावनी के महंत परमहंस दास ने बीते दिनों उपवास सत्याग्रह […]