उज्‍जैन न्यूज़ (Ujjain News)

नए बिजली कनेक्शन की फाइलें दलालों ने रोक रखी, विद्युत मंडल में बाहरी लोग सक्रिय

उज्जैन। नए बिजली कनेक्शन की पेंडेंसी को लेकर चौंकाने वाला सच उस वक्त सामने आया जब एक के बाद एक आवेदक वेस्ट डिविजन के कार्यपालन यंत्री से पास पैसे देने के बाद भी नए बिजली कनेक्शन नहीं मिलने की शिकायत लेकर पहुँचे, लेकिन जब ऑनलाइन पोर्टल पर उनके आवेदनों की जाँच की गई तो पता चला कि किसी ने भी ऑनलाइन आवेदन ही नहीं किए है। ये सब वे उपभोक्ता थे जिन्होंने दलालों के माध्यम से आवेदन किए थे।



उल्लेखनीय है कि घर बैठे मोबाइल पर ऑनलाइन बिजली कनेक्शन देने का दावा करने वाली विद्युत वितरण कंपनी में उपभोक्ता परेशान हैं। जानकारी के अभाव में उन्हें ऑनलाइन सुविधा का लाभ नहीं मिल रहा है, जिस वजह से मजबूरी में बिजली कंपनी के झोन कार्यालयों में दलालों के घेरे में आना पड़ रहा है। बिजली का घरेलू, व्यावसायिक या अस्थायी कनेक्शन हर काम के लिए दलाल दफ्तरों के अंदर जमे हुए हैं, जो उपभोक्ताओं को सुविधा देने के नाम पर अच्छी खासी सेवा शुल्क वसूल रहे हैं। बिजली के नए कनेक्शन मामलों को लेकर कंपनी के महानंदा नगर और वल्लभ नगर झोन की स्थिति सबसे ज्यादा खराब है। क्योंकि यहाँ दलाल सबसे ज्यादा सक्रिय और अधिकारी सबसे ज्यादा बेपरवाह है। उपभोक्ताओं ने बताया कि बिजली दफ्तर में आसानी से जानकारी मिलती नहीं है, ऐसे में मजबूर होकर दलालों के जरिए काम करवाना पड़ता है। इसके लिए उन्हें 2000 से 2500 रुपये तक अतिरिक्त शुल्क देना पड़ रहा है। वहीं कई उपभोक्ताओं को पैसे देने के बावजूद नए कनेक्शन नहीं मिल पा रहे हैं।

इसलिए जारी किया गया हेल्प लाइन नंबर
विद्युत वितरण कंपनी के कार्य पालन यंत्री राजेश हारोड़े ने अग्रिबाण को बताया कि वेस्ट डिविजन के वल्लभ नगर झोन और नई सड़क झोन में इस प्रकार के मामले सामने आने के बाद उपभोक्ताओं की सुविधा के लिए हेल्प लाइन नम्बर 0734-2990742 जारी किया है। श्री हरोड़े ने बताया कि उपभोक्ता को नए बिजली कनेक्शन से संबंधित जानकारी के अलावा किसी भी प्रकार की परेशानी या शिकायत हो तो वह इस नम्बर पर संपर्क कर सकता हैं।

Share:

Next Post

दक्षिण अफ्रीका से लाए गए चीतों में से अब तक 8 की मौत

Sat Jul 15 , 2023
भोपाल (Bhopal)। मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले (Shyopur District) में दक्षिण अफ्रीका और नामीबिया (South Africa and Namibia) से लाकर बसाए गए चीतों की मौत (Death of cheetahs) का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। यहां एक और चीते की मौत हो गई। दक्षिण अफ्रीका से लाया गया नर चीता सूरज शुक्रवार सुबह कूनो […]