जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

तुलसी का पौधा भी रखता है व्रत, इन 2 दिनों में न दें तुलसी को जल

 

नई दिल्‍ली। तुलसी का पौधा (Tulsi Plant) कई घरों में होता है. लोग उसमें जल चढ़ाते हैं, शाम को दीया लगाते हैं. दरअसल, भगवान विष्‍णु (Lord Vishnu) को तुलसी बहुत प्रिय हैं. लिहाजा तुलसी जी की आरती करने से, उन्‍हें जल चढ़ाने से देवी तुलसी के साथ-साथ भगवान विष्‍णु और देवी लक्ष्‍मी (Devi Laxmi) भी अपनी कृपा बरसाती हैं. आज निर्जला एकादशी है और सारी एकादशी भगवान विष्‍णु (Lord Vishnu) को समर्पित हैं. आइए जानते हैं कि भगवान विष्‍णु की प्रिय तुलसी का ख्‍याल कैसे रखना चाहिए. 

तुलसी जी को जल अर्पित करने के नियम 

– तुलसी के पौधे को कभी भी रविवार (Sunday) और एकादशी (Ekadashi) के दिन जल नहीं चढ़ाना चाहिए. मान्‍यता है कि इन दोनों दिन में तुलसी (Tulsi Plant) जी भगवान विष्‍णु के लिए व्रत रखती हैं. ऐसे में जल चढ़ाने से उनका व्रत टूट जाएगा और तुलसी का पौधा (Tulsi Plant)  मुरझा जाएगा. 

– तुलसी के पौधे को बाकी दिनों में उचित मात्रा में ही जल चढ़ाएं. पानी की कम या ज्‍यादा मात्रा से पौधा खराब हो जाएगा. 

– आम दिनों में एक दिन छोड़कर भी जल दिया जा सकता है. वहीं बारिश के मौसम में हफ्ते में 2 बार ही जल दें. 

-बहुत ठंड या गर्मी से भी तुलसी का पौधा नष्‍ट हो जाता है, लिहाजा ठंड में पौधे के आसपास कपड़ा लगा सकते हैं. तेज बारिश से भी तुलसी को बचाकर रखना चाहिए.

Next Post

इस प्रदेश में 300 साल में पहली बार घोड़ी चढ़ा अनुसूचित समाज का दूल्हा

Mon Jun 21 , 2021
भिवानी। शहर के दादरी रोड स्थित एक छोटे से गांव गोविंदपुरा में रविवार को 300 साल पुरानी परंपरा की बेड़ियों को तोड़ दिया गया। गांव के अनुसूचित समाज के युवक विजय कुमार ने रविवार को गांव में घुड़चढ़ी निकाली और धूमधाम से बारात लेकर गांव से रवाना हुआ। यह सब गांव के सरपंच के सहयोग […]