देश

आगरा से सामने आई अनोखी भक्ति, पुजारी पहुंचा रोते हुए ‘लड्डू गोपाल’ को लेकर अस्पताल

नई दिल्‍ली। आगरा में जब एक पुजारी ‘लड्डू गोपाल’ की प्रतिमा लेकर अस्पताल पहुंचा तो मामला सुर्खियों में छा गया। दरअसल, शुक्रवार को लेख सिंह नाम का पुजारी ‘भगवान श्री कृष्ण’(Lord Shri Krishna) की मूर्ति का इलाज करवाने अस्पताल गया था। रिपोर्ट के अनुसार, सुबह ‘लड्डू गोपाल’ स्नान करवाते समय गलती से मूर्ति की बांह टूट गई थी। इस घटना से पुजारी काफी दुखी था। ऐसे में जब वो प्रतिमा का इलाज कराने जिला अस्पताल पहुंचा तो वहां का स्फाट चक्कर में पड़ गया। हालांकि, पुजारी की भावनाओं को समझते हुए डॉक्टर ने ‘श्री कृष्णा’ का पर्चा बनाया और मूर्ति की टूटी हुई बांह पर पट्टी बांधी।



क्या है पूरा मामला?
सोशल मीडिया पर ‘लड्डू गोपाल’(Laddu Gopal’) की मूर्ति के साथ रोते हुए इस पुजारी का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि पुजारी सुबह 9 बजे अस्पताल पहुंचा और स्टाफ से मूर्ति की बांह पर पट्टी करने की जिद करने लगा। पुजारी ने बताया कि जब मैं सुबह ‘लड्डू गोपाल’ को नहला रहा था तो मूर्ति मेरे हाथ से फिसल कर गिर गई और बांह टूट गई। इससे मैं काफी परेशान हो गया और इसलिए मैं जिला अस्पताल में मूर्ति लेकर पहुंच गया।

मूर्ती की बांह पर बांधी गई पट्टी
जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अशोक कुमार अग्रवाल ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया, ‘उन्हें अस्पताल से सूचना मिली थी कि एक पुजारी टूटी हुई बांह वाली मूर्ति लेकर आया है और उसका इलाज कराने के लिए रो रहा है। उन्होंने कहा कि पुजारी की भावनाओं को देखते हुए उन्होंने मूर्ति के लिए ‘श्रीकृष्ण’ के नाम पर पंजीकरण कराया और पुजारी की संतुष्टि के लिए मूर्ति पर पट्टी भी बांधी।

मंदिर में 35 सालों से हैं पुजारी
वहीं पुजारी ने बताया, ‘मेरी गुहार को अस्पताल में किसी ने भी गंभीरता से नहीं लिया। मैं अंदर से टूटा हुआ था, इसलिए अपने भगवान के लिए रोने लगा।’ उन्होंने आगे कहा कि वो करीब 35 वर्षों से अर्जुन नगर के खेरिया मोड स्थित प​थवारी मंदिर में पुजारी हैं।

Share:

Next Post

UK क्‍यों कर रहा बीजिंग ओलंपिक का Boycott करने पर विचार

Sun Nov 21 , 2021
लंदन । अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) के बीजिंग ओलंपिक 2022 (Beijing Olympics 2022) का बहिष्कार करने की घोषणा के बाद अब यूके (UK) भी ऐसा करने पर विचार कर रहा है। यूके के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि चीन में कथित मानवाधिकारों के उल्लंघन को लेकर उसका बहिष्कार करने […]