विदेश

हिंसा के बीच बांग्लादेश में मतदान जारी, 17 पोलिंग बूथ आग के हवाले

ढाका। बांग्लादेश (bangladesh) में आम चुनाव (Election) के लिए आज वोटिंग हो रही है. पूर्व प्रधानमंत्री खालिदा जिया (78) की मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) ने इस चुनाव का बहिष्कार किया जिसके कारण प्रधानमंत्री शेख हसीना (Prime Minister Sheikh Hasina) की लगातार चौथी बार जीत दर्ज करने की प्रबल संभावना है. खालिदा भ्रष्टाचार के आरोपों में दोषी ठहराए जाने के बाद घर में नजरबंद हैं. मतदान सुबह आठ बजे से शुरू हो गया है जो शाम पांच बजे समाप्त होगा. चुनाव नतीजे आठ जनवरी की सुबह से घोषित किये जाने की उम्मीद है.


हसीना ने की भारत की तारीफ

मतदान करने के बाद बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने भारत की जमकर तारीफ की और कहा, ‘आपका हार्दिक स्वागत है. हम बहुत भाग्यशाली हैं कि हमारा भारत जैसा भरोसेमंद दोस्त है. हमारे मुक्ति संग्राम के दौरान, उन्होंने हमारा समर्थन किया…1975 के बाद, जब हमने अपना पूरा परिवार खो दिया…उन्होंने हमें आश्रय दिया। इसलिए भारत के लोगों को हमारी शुभकामनाएं.’

10 जिलों में 17 मतदान केंद्र आग के हवाले

चुनाव से पहले यहां बड़े पैमाने पर हिंसा हुई है. शनिवार तड़के से बांग्लादेश के 10 जिलों में कम से कम 17 मतदान केंद्रों को आग के हवाले कर दिया गया.पुलिस को सुनामगंज, हबीगंज, तंगेल, शरीयतपुर, चट्टोग्राम, गाज़ीपुर, मैमनसिंह, नेट्रोकोना, खुलना और बरगुना जिलों में मतदान केंद्रों पर आग लगने की सूचना मिली है.शुक्रवार रात ढाका के पास एक यात्री ट्रेन में आगजनी की घटना में कम से कम चार लोगों की मौत हो गयी. बीएनपी ने इस घटना की संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में जांच कराने की मांग की है. इसके अलावा, विलेज डिफेंस पार्टी (वीडीपी) के सदस्य रंजीत कुमार डे, जो राजबाड़ी जिले के बलियाकांडी में एक मतदान केंद्र पर ड्यूटी पर तैनात थे, वह शनिवार सुबह मृत पाए गए.पुलिस के मुताबिक रंजीत की हत्या की गई है. पुलिस के मुताबिक, उसका शव स्कूल के पीछे झाड़ी में मिला. इसके अलावाग़ाज़ीपुर में मतदान केंद्रों, चुनाव शिविरों में भी आग लगा दी गई है.

करीब 12 करोड़ वोटर करेंगे फैसला

चुनाव आयोग ने कहा कि उसने देश भर के 300 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान की तैयारी लगभग पूरी कर ली है और सुरक्षा व्यवस्था भी सुनिश्चित की है. निर्वाचन आयोग के अनुसार, 42,000 से अधिक मतदान केंद्रों पर रविवार को होने वाले मतदान में कुल 11.96 करोड़ पंजीकृत मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. चुनाव में 27 राजनीतिक दलों के 1,500 से अधिक उम्मीदवार मैदान में हैं और उनके अलावा 436 निर्दलीय उम्मीदवार भी हैं. भारत के तीन पर्यवेक्षकों समेत 100 से अधिक विदेशी पर्यवेक्षक 12वें आम चुनाव की निगरानी करेंगे. यह चुनाव कड़ी सुरक्षा के बीच कराया जा रहा है. हसीना 2009 से सत्ता में हैं और उन्होंने आखिरी चुनाव दिसंबर 2019 में जीता था जिसमें जानलेवा हिंसा हुई थी और चुनाव में धांधली के आरोप लगे थे.

 

 

Share:

Next Post

Cleaning Tips: ऊनी कपड़े धोते समय न करें ये 7 गलती, सॉफ्टनेस के साथ चली जाएगी गर्माहट

Sun Jan 7 , 2024
नई दिल्ली (New Delhi)। कड़ाके की सर्दी (Severe winter.) पड़ रही है. कई बार दो-तीन स्वेटर और जैकेट (Sweater and jacket) पहनने के बाद भी गर्माहट महसूस नहीं होती. शरीर में कपकपी और सिहरन महसूस होती रहती है. अगर आप लोकल क्वालिटी के वूलेन क्लोद्स (Woolen Clothes) पहन रहे हैं तो बात समझ आ सकती […]