बड़ी खबर

budget session को लेकर हुई सर्वदलीय बैठक में क्या हुआ फैसला, सरकार ने बताया

नई दिल्ली। सरकार ने सोमवार को कहा कि पेगासस मुद्दे (Pegasus Issues) पर अब अलग से चर्चा की जरूरत नहीं है. यह मामला विचाराधीन है. केंद्रीय संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी (Union Parliamentary Affairs Minister Pralhad Joshi) ने वर्चुअल रूप से आयोजित की गई सर्वदलीय बैठक के बाद यह जानकारी दी।


25 दलों के नेताओं ने लिया भाग
प्रहलाद जोशी ने कहा कि यदि विपक्षी दल चाहे तो राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते हुए कोई भी मुद्दा उठा सकते हैं. बैठक में 25 दलों के सदन के नेताओं ने भाग लिया, जिसमें सरकार का प्रतिनिधित्व रक्षा मंत्री और लोकसभा के उप नेता राजनाथ सिंह ने किया।

पेगासस पर अलग से चर्चा की कोई आवश्यकता नहीं
उन्होंने कहा कि सिंह ने बजट सत्र के दौरान सदन के सुचारू संचालन के लिए सभी दलों से सहयोग मांगा. जहां तक ​​पेगासस मुद्दे का संबंध है, तो अब अलग से चर्चा की कोई आवश्यकता नहीं है, लेकिन विपक्ष के नेता राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बोलते समय कोई भी मुद्दा उठाने के लिए स्वतंत्र हैं।

अप्रैल तक चलना है बजट सत्र
उन्होंने कहा कि उपस्थित सभी दलों के नेताओं की राय सुनने के बाद बैठक को संबोधित करते हुए सिंह ने स्वस्थ चर्चा के लिए उनका आभार व्यक्त किया. संसदीय कार्य मंत्रालय के एक बयान में सिंह के हवाले से कहा गया कि “उन्होंने कहा कि इस बात पर आम सहमति है कि सदन बाधित नहीं होना चाहिए. नेताओं द्वारा उठाए गए मुद्दों पर सिंह ने कहा कि वे उन मुद्दों की पहचान कर सकते हैं, जिन पर वे चर्चा करना चाहते हैं. संसद का बजट सत्र सोमवार को शुरू हुआ और इसके अप्रैल तक चलने का कार्यक्रम है, जिसमें 12 फरवरी से 13 मार्च तक अवकाश रहेगा. सत्र से पहले, न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि भारत ने 2017 में इजराइल के साथ दो अरब डॉलर के रक्षा सौदे के हिस्से के रूप में पेगासस स्पाईवेयर खरीदा था, जिसके बाद पेगासस का मुद्दा फिर से उठ गया।

Share:

Next Post

जानिए Budget से जुड़े ये फैक्ट, इस वित्त मंत्री ने नहीं पेश किया एक भी बजट

Tue Feb 1 , 2022
नई दिल्ली। कल यानी 31 जनवरी से बजट सत्र (budget session) शुरू हो चुका है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) आज आम बजट (Union Budget 2022) पेश करेंगी. बढ़ती महंगाई से परेशान जनता आगामी बजट सत्र पर अपनी नजरें टिकाई हुई है. इस साल का बजट में आम लोगों को महामारी की […]