इंदौर न्यूज़ (Indore News)

32 सीटर बस में बैठी थीं 54 सवारियां, चार बसें जब्त

परिवहन विभाग ने खंडवा रोड पर शुरू किया नियम विरुद्ध चल रही बसों के खिलाफ विशेष जांच अभियान
इन्दौर।
इंदौर (Indore) से खंडवा (Khandwa) के बीच सिमरोल घाट (Simrol Ghat) पर पिछले पांच दिनों में दो बसें (Buses) पलट जाने के बाद भी बस संचालक सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं। आज भी खंडवा से इंदौर से आ रही एक 32 सीटर बस में 54 सवारियां बैठी मिलीं। कुछ बसों के पास दस्तावेज (Documents) ही नहीं थे और टैक्स भी बाकी था। परिवहन विभाग (Transport Department) द्वारा ऐसी चार बसों को जब्त किया है।


सिमरोल घाट (Simrol Ghat) पर 23 जून को इंदौर से खंडवा जा रही एक बस पलट गई थी, जिसमें छह सवारियों की मौत हुई थी और 40 से ज्यादा लोग घायल हुए थे, वहीं इसके दो दिन बाद 25 जून को भी इंदौर आ रही एक बस पलटी थी, जिसमें कई लोग घायल हुए थे। दोनों ही घटनाओं में ओवरस्पीडिंग (Overspeeding) और नियमों का उल्लंघन पाया गया था। पहली घटना के बाद परिवहन आयुक्त डॉ मुकेश जैन ( Transport Commissioner Dr. Mukesh Jain) ने इंदौर आकर बस संचालकों की बैठक लेते हुए निर्देश दिए थे कि नियमों का पालन नहीं करेंगे तो विभाग सख्त कार्रवाई करेगा। इसी क्रम में आज परिवहन विभाग ने सुबह से खंडवा रोड पर नाइंथ माइल क्लब के पास बसों का विशेष जांच अभियान शुरू किया। आरटीओ जितेंद्र सिंह रघुवंशी ने बताया कि अभियान में 10 बजे तक कुल 4 बसों को जब्त किया गया है। इनमें प्रभात बस सर्विस की एक 32 सीटर बस (एमपी-10-पी-9002) में 22 सवारियां ओवरलोड पाई गर्इं, यानी 32 सीटर बस में 54 सवारियों को बैठाया गया था। पूछताछ में ड्राइवर का कहना था कि ट्रेवल्स की एक अन्य बस रास्ते में खराब हो गई थी, इसलिए उसकी सवारियों को भी इस बस में लाया जा रहा था। इस पर 45 हजार रुपए का टैक्स भी बकाया था। इस पर बस को जब्त कर सिमरोल थाने में रखा गया।


बस ड्राइवर के पास लाइसेंस और एक अन्य के पास दस्तावेज नहीं
आरटीओ रघुवंशी (RTO Raghuvanshi) ने बताया कि जांच के दौरान बीसीटीएसएल लिखी एक बस में ड्राइवर के पास लाइसेंस ही नहीं पाया गया। बस पर 73 हजार का टैक्स भी बाकी था, वहीं मां शारदा ट्रेवल की बस में बस के कोई दस्तावेज नहीं पाए गए। प्रभात बस सर्विस की ही एक अन्य बस में भी 10 सवारियां ओवरलोड पाई गईं। इस पर सभी बसों को जब्त कर सिमरोल थाने पर रखा गया है। उन्होंने बताया कि यह अभियान लगातार जारी रहेगा।


कार्रवाई के विरोध में आज बस संचालकों की बैठक
दूसरी ओर आज शहर के बस संचालक (Bus Operator) एक बैठक करने जा रहे हैं, जिसमें पिछले दिनों हुए दोनों बस हादसों में बस मालिक के खिलाफ भी एफआईआर किए जाने के विरोध स्वरूप इस तरह की कार्रवाई को रुकवाने की योजना बनाई जाएगी। कार्रवाई ना रोकी जाने पर बस संचालकों द्वारा हड़ताल की चेतावनी भी दी है।

 

Share:

Next Post

अमेरिका के लोगों के साथ भी इंदौर की एडवाइजरी कंपनी कर चुकी करोड़ों की ठगी

Mon Jun 27 , 2022
करोड़ों की ठगी में ऑस्ट्रेलिया के व्यक्ति से ई-मेल पर शिकायत मंगवाने पर विचार इंदौर। ऑस्ट्रलिया (Australia) के एक व्यक्ति से हुई करोड़ों की ठगी में पुलिस विधि सलाहकारों से संपर्क कर रही है, ताकि संभव हो तो ई-मेल (e-mail) से शिकायत कर केस दर्ज किया जाए और आरोपी को पकड़ा जा सके। ज्ञात रहे […]