जीवनशैली धर्म-ज्‍योतिष

Astrology: शनि-मंगल मिलकर करेंगे बड़ा बदलाव, संभलकर रहें पांच राशि वाले ?

उज्‍जैन (New Delhi)। वैदिक ज्योतिष (vedic astrology) में सभी ग्रहों की अपनी विशेष भूमिका होती है। सभी ग्रहों की चाल का प्रभाव सभी राशियों के जातकों के जीवन पर पड़ता है। ग्रह एक निश्चित अंतराल पर एक से दूसरी राशि में प्रवेश करते हैं। ज्योतिष (Astrology) में दो ग्रह शनि और मंगल की विशेष भूमिका होती है। ये दोनों ही ग्रह कई तरह के योग बनाते हैं। शनि जिनका नाम आते ही लोग भयभीत हो जाते हैं और मंगल ग्रह जो उग्र माने जाते हैं इन दोनों ग्रहों की युति या फिर द्दष्टि पड़ने से कई तरह के अशुभ फल की प्राप्ति होती है। दरअसल इस समय शनि अपनी तीसरी द्दष्टि मंगल पर डाल रहे हैं जिसे अच्छा नहीं माना जाता है।

मंगल ग्रह जोकि साहस, ऊर्जा और पराक्रम के देवता माने जाते हैं वह अब अपनी ही राशि मेष में बीते 01 जून 2024 से विराजमान हैं। इस पर शनि की तीसरी द्दष्टि पड़ रही है। मंगल पर शनि की यह तीसरी द्दष्टि 12 जुलाई 2024 तक रहेगी। ऐसे में 12 जुलाई तक कुछ राशि के जातकों के जीवन पर मंगल और शनि दोनों का ही अशुभ प्रभाव देखने को मिलेगा। आइए जानते हैं कौन-कौन सी हैं वे राशियां।



कर्क राशि
शनि की तीसरी द्दष्टि मंगल पर पड़ने की वजह से कर्क राशि के जातकों को ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है। 12 जुलाई तक समय आपके लिए बहुत ही उतार-चढ़ाव से भरा रहेगा। इस दौरान जो जातक व्यापार में है उन्हे कोई भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। करियर में परेशानियां आएंगी। छोटी-मोटी दिक्कतों का लगातार सामना करना पड़ सकता है। इस दौरान वाद-विवाद में उलझ सकते हैं। धन की हानि भी हो सकती है।

कन्या राशि
मंगल और शनि का अशुभ प्रभाव कन्या राशि के जातकों पर पड़ सकता है। काम बनते-बनते अचानक बिगड़ सकते हैं। बेकार की समस्याएं आपके सामने आ सकती हैं। आपके खर्चे बढ़ सकते हैं। कामकाज में लगातार और नई-नई परेशानियां आ सकती हैं। आपको मन मुताबिक लाभ नहीं मिलेगा। आपकी आर्थिक स्थिति बिगड़ सकती है। प्रेम के रिश्तों में कुछ दरारें पैदा हो सकती हैं।

तुला राशि
शनि की तीसरी द्दष्टि मंगल पर पड़ने की वजह से आपको कार्यक्षेत्र में अच्छे परिणाम नहीं प्राप्त होंगे। संपत्ति को लेकर कुछ वाद-विवाद पैदा हो सकता है। धन हानि भी उठाना पड़ सकता है। सेहत में गिरावट देखने को मिलेगी।

वृश्चिक राशि
भूमिपुत्र और पराक्रम के देवता मंगल पर शनि की तीसरी द्दष्टि पड़ने के कारण इस राशि के जातकों को कुछ अशुभ समाचार सुनने को मिल सकते हैं। कार्यो में लगातार अड़चनें आने से मन में निराशा का भाव रहेगा। आपको बेकार की चीजों में उलझनें से बचना होगा। नौकरीपेशा जातकों को उनकी नौकरी में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। स्वास्थ्य में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

मकर राशि
वैदिक ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि-मंगल एक दूसरे के शत्रु माने जाते हैं और मंगल-शनि का द्दष्टि संबंध होने से विध्वंसक योग का निर्माण होता है। मकर राशि वालो के लिए मंगल और शनि दोनों ही अशुभ परिणाम दिला सकते हैं। आपकी सुख-सुविधाओं में कमी आने के संकेत हैं। जो लोग किसी कारोबार से संबंधित हैं उन्हे उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकता है।

Share:

Next Post

PM मोदी के SCO समिट में जाने पर सस्पेंस, इस वजह से बना सकते हैं दूरी

Mon Jun 24 , 2024
नई दिल्ली (New Delhi)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के 3-4 जुलाई को कजाकिस्तान के अस्ताना (Astana, Kazakhstan) में होने वाले SCO समिट में शामिल होने की संभावना कम है। सूत्रों के मुताबिक, संसद सत्र 3 जुलाई तक चलने के कारण पीएम मोदी इस बार समिट में शामिल न होने का फैसला कर […]