मध्‍यप्रदेश राजनीति

MP में लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, अब इस बड़े नेता ने दिया इस्तीफा, सिंधिया ने दिलाई सदस्यता

ग्वालियर: विधानसभा चुनाव (assembly elections) के बाद अब लोकसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस में टूट (Split in Congress just before Lok Sabha elections) जारी है. पार्टी नेता दलबदल कर भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) का दामन थाम रहे हं. इसीक्रम में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) ने अशोकनगर कांग्रेस (Ashoknagar Congress) से नेता को तोड़ लाये. रविवार को अशोकनगर से यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष अजय पाल यादव (Youth Congress Vice President Ajay Pal Yadav) भाजपा में शामिल हो गए. इस दौरान सिंधिया ने उन्हें पार्टी में शामिल कराकर स्वागत किया.

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को ये बड़ा झटका लगा है. अशोकनगर से यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष अजय पाल यादव के साथ ही उनकी पत्नी ने भी भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा है. इसे चुनाव से पहले बड़ा झटका माना जा रहा है. अजय पाल यादव सांसद केपी यादव के भाई हैं. इस कारण ये एक बड़ी उपलब्धी बताई जा रही है. बता दें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया दो दिवसीय दौरे पर ग्वालियर पहुंचे हैं.


बता दें अजय पाल यादव अभी के सांसद केपी यादव के छोटे भाई हैं. उनके साथ उनकी पत्नी जिला पंचायत सदस्य भी भाजपा के कुनबे में आई हैं. सोमवार को अशोक नगर में जिला पंचायत अध्यक्ष पद का चुनाव होना है इससे एक दिन पहले उनके कांग्रेस पार्टी छोड़ने से अब बीजेपी के सदस्यों की संख्या बढ़ गई है. यानी कुल मिलाकर भाजपा के प्रत्याशी का चयन होने की संभावना अब और बढ़ गई है. हालांकि, परिणाम कल ही पता चलेंगे.

अजय पाल यादव भाजपा की सदस्यता दिलाने के बाद केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि आज हमारे एवं हमारी पार्टी के परिवार के सदस्य अजयपाल भाजपा में आए हैं. उनका पुराना रिश्ता भारतीय जनता पार्टी से रहा है. इस समय अजयपाल ने कहा की महाराज की कार्यशैली को देखते हुए हम उनके सांनिध्य में काम करना चाहते हैं इसी कारण वो बढ़िया नेतृत्व के साथ काम करने के लिए भाजपा में आए हैं.

Share:

Next Post

MP में PM मोदी ने आदिवासियों को बताया अपना परिजन, कहा- मुझे पता है लोकसभा चुनाव में....

Sun Feb 11 , 2024
झाबुआ। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव परिणाम (Assembly election results in Madhya Pradesh) आने के बाद कांग्रेस लगातार ईवीएम पर आरोप लगा रही (Congress is blaming EVM) है। संसद में भी विपक्ष यह बात उठा चुका है कि भाजपा को पहले से कैसे पता चल जाता है कि चुनाव में कितनी सीटें आएंगी। इन सबके […]