इंदौर

कांग्रेसी जनप्रतिनिधियों को बैठक में नहीं बुलाने की शिकायत प्रधानमंत्री को

दोनों विधायक के साथ बाकलीवाल ने भी किया विरोध
इंदौर। विरोध के बाद बैकफुट पर आए कांग्रेस (Congress) के जनप्रतिनिधियों ने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट समिति (Crisis Management Committee) में उन्हें बुलाया नहीं जा रहा है। इसकी शिकायत उन्होंने प्रधानमंत्री (Prime Minister) और मुख्यमंत्री (Chief Minister)  तक की है। उन्होंने बैठक में जनप्रतिनिधियों के अलावा भाजपा नेताओं के शामिल होने पर भी सवाल उठाया और कहा कि वे किस हैसियत से बैठक में शामिल होते हैं?

परसों रात क्राइसिस मैनेजमेंट समिति की बैठक में होलिका दहन पर प्रतिबंध लगाने का विरोध रात तक ठंडा पड़ गया और सब जिला प्रशासन के आदेश पर सहमत हो गए। रात में भाजपा प्रवक्ता उमेश शर्मा (Umesh Sharma) के ट्वीट के बाद भाजपा (BJP) में भी तीखी प्रतिक्रिया हुई और संगठन के साथ जनप्रतिनिधियों ने शर्मा को फोन पर समझा दिया कि इस तरह से अपनी ही सरकार के निर्णय का विरोध करना गलत है। दोपहर 12 बजते-बजते शर्मा के भी सुर बदल गए और वे भी जिला प्रशासन के फैसले से सहमत हो गए। इसी तरह विधायक संजय शुक्ला (Sanjay Shukla), विशाल पटेल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल का विरोध भी ठंडा पड़ गया। हालांकि कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि पिछली कई बैठकों से उन्हें नहीं बुलाया जा रहा है, जो गलत है। शुक्ला ने कहा कि हमारे विधायक भी जनता का प्रतिनिधित्व करते हैं और उनकी आवाज को नहीं सुना जा रहा है। शुक्ला ने इसकी शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) को भी की है। दोपहर में कलेक्टर से मिलकर भी उन्होंने इसी मुद्दे पर विरोध जताया। इसके पहले उमेश शर्मा के छावनी स्थित कार्यालय पर पहुंचे कांग्रेसी नेताओं ने उन्हें गुलाल लगाकर जनता की आवाज उठाने पर बधाई दी, लेकिन शर्मा ने कहा कि मैं प्रशासन के फैसले से असहमत था, लेकिन मैंने विरोध नहीं किया।

पूर्व मंत्री पटवारी ने साधा निशाना
पूर्व मंत्री जीतू पटवारी (Jeetu Patwari) ने भी क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि रोज मीटिंग करते हो, लेकिन शहर के अस्पतालों में कोरोना के मरीजों को बेड तक नहीं मिल पा रहे हैं। इस पर कोई चर्चा नहीं की जाती। मरीजों से लूट पर भी लगाम हो और मीटिंग में इस एजेंडे पर चर्चा हो। एक अन्य ट्वीट में पटवारी ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को टैग करते हुए लिखा कि पूरे प्रदेश में कोरोना के मरीजों के साथ बेड को लेकर अतिपरेशानी चल रही है। कृपया इन परिवारों की सुध लेने की कृपा करें। उन्होंने यह भी लिखा कि पिछले दौर में लूूट से कोरोना मरीज व उनके परिवार उबर नहीं पाए हैं।

Share:

Next Post

सरवटे क्षेत्र की होटलों में प्रशासन की गाइड लाइन का पालन ही नहीं

Sat Mar 27 , 2021
बोले-हमें नहीं मालूम कि कलेक्टर ने बिठाकर खिलाने पर प्रतिबंध लगा दिया है इन्दौर। शहर में बढ़ते कोरोना मरीजों (Corona Patients) को लेकर जिला प्रशासन ने स्टेट की गाइड लाइन (Guide Line) के हिसाब से होटलों (Hotels) और रेस्टारेंट (Restaurants) में ग्राहकों को बिठाकर खिलाने पर पाबंदी लगा दी थी और टेक अवे की सुविधा […]