आचंलिक

नाली निर्माण नहीं होने से बारिश का पानी घरों में घुसा

  • लापरवाही का नतीजा ग्रामीण भुगतने को मजबूर

पानबिहार। मध्य प्रदेश राज्य सड़क विकास निगम द्वारा जैथल से महिदपुर तक टू लेन सड़क निर्माण कार्य करवाया गया था। सड़क निर्माण कंपनी के ठेकेदार द्वारा 2016-17 में डामरीकरण कार्य पूर्ण कर ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ जगह आधी अधूरी नाली निर्माण करने के बाद निर्माण कार्य बंद कर दिया गया था। तब से लेकर आज तक जवाबदारों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों सड़क निर्माण के बाद नाली निर्माण पर ध्यान नहीं दिया जिसका नतीजा बारिश का पानी ग्रामीणों के घरों में घुस रहा, वहीं कुछ जगह नाली निर्माण में भी लापरवाही देखी गई, जहां नाली निर्माण किया वहां भी गांव का पानी नाली में नहीं निकल पाता जिसके कारण आम रास्ता भी बाधित होता है। ग्रामीण महेंद्र सिंह राठौर द्वारा बताया गया है कि हमारे द्वारा पानी की निकासी के लिए तहसीलदार और पटवारी को भी आवेदन दिया गया था लेकिन उन्होंने भी आज तक ध्यान नहीं दिया।

तेज बारिश से जल निकासी नहीं होने के कारण बारिश का पानी हमारे घर में घुस गया। वहीं कमल सिंह सोलंकी बताते हैं कि जल निकासी की व्यवस्था सही नहीं होने के कारण आम रास्ते पर पानी भरा रहता है और बारिश अधिक होती है तो बारिश का पानी हमारे घर में भी घूमता हैं, वहीं आम दिनों में गंदे पानी के कारण बीमारियों का भी खतरा रहता है। आनंद पुष्पद ने बताया कि मकान से ऊंची नाली होने के कारण घर का पानी भी नाली में नहीं निकल पाता है। हमें घर का पानी भी बाल्टियों से बाहर निकालना पड़ता है व मोटर लगाकर इसे बाहर फेंकना पड़ता है। बारिश में तो पानी घरों में घुसता है और नुकसान पहुँचाता है। घर में बैठने की भी जगह नहीं रहती इतना गिला होता है।

Share:

Next Post

आयुर्वेद पर PM मोदी बोले- भावनाओं से नहीं चलती दुनिया, रिजल्ट के साथ सबूत भी चाहिए

Thu Jul 7 , 2022
वाराणसी। पीएम नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में राष्ट्रीय शिक्षा समागम को संबोधित करते हुए कहा कि आज की दुनिया परिणाम के साथ ही प्रमाण भी मांगती है। हमें अपनी शिक्षा व्यवस्था को इस लिहाज से तैयार करना होगा कि दुनिया में हमारी चीजों को स्वीकार करे और उसका लोहा माने। खासतौर पर आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.