देश

9 घंटे की पूछताछ के बाद एक्‍शन में आई ईडी, शिवसेना नेता संजय राउत को हिरासत में लिया

मुंबई। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मुंबई में भूमि घोटाला (land scam) मामले में रविवार को शिवसेना नेता संजय राउत के आवास पर कई घंटों की छापेमारी के बाद उन्हें हिरासत में ले लिया है. ईडी ने धनशोधन (money laundering) के एक मामले में शिवसेना सांसद संजय राउत(Shiv Sena MP Sanjay Raut) के मुंबई स्थित आवास पर छापा मारा था. इससे पहले, ईडी ने राउत के खिलाफ कई समन जारी किए थे, उन्हें 27 जुलाई को भी तलब किया गया था.



राउत को मुंबई के एक ‘चॉल’ के पुनर्विकास और उनकी पत्नी एवं अन्य ‘सहयोगियों’ की संलिप्तता वाले लेन-देन में कथित अनियमितताओं से जुड़े धनशोधन के एक मामले में पूछताछ के लिए ईडी ने तलब किया था. राउत इस मामले में अपना बयान दर्ज करवाने के लिए एक जुलाई को मुंबई (Mumbai) में एजेंसी के समक्ष पेश हुए थे. इसके बाद एजेंसी ने उन्हें दो बार तलब किया था, लेकिन मौजूद संसद सत्र में व्यस्त रहने का हवाला देते हुए पेश नहीं हुए.

ईडी के अधिकारी केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (industrial security force) के कर्मियों के साथ रविवार सुबह सात बजे राउत के भांडुप उपनगर स्थित आवास ‘मैत्री’ पहुंचे और छापेमारी शुरू की. इस बीच, राज्यसभा सदस्य राउत ने कुछ भी गलत करने से इनकार किया है और आरोप लगाया है कि उन्हें राजनीतिक प्रतिशोध लेने के लिए निशाना बनाया जा रहा है.

उन्होंने ईडी की कार्रवाई के कुछ ही देर बाद ट्वीट किया, ‘मैं दिवंगत बालासाहेब ठाकरे की सौगंध खाता हूं कि मेरा किसी घोटाले से कोई संबंध नहीं है.’ उन्होंने लिखा, ‘मैं मर जाऊंगा, लेकिन शिवसेना का साथ नहीं छोडूंगा.’ ईडी की छापेमारी के दौरान राउत के आवास के बाहर बड़ी संख्या में शिवसेना के समर्थक एकत्र हो गये और एजेंसी की कार्रवाई का विरोध किया. समर्थकों ने हाथों में भगवा रंग के झंडे और बैनर लेकर एजेंसी के खिलाफ नारेबाजी की.

Share:

Next Post

साल में सिर्फ 24 घंटे खुलता है यह मंदिर, जानें क्यों खास है इसकी प्रतिमा

Sun Jul 31 , 2022
नई दिल्ली: सावन मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नाग पंचमी (Nag Panchami 2022) का त्योहार मनाया जाता है. तिथि के मुताबिक इस बार नाग पंचमी 2 अगस्त को पड़ रही है. नाग पंचमी के दिन स्त्रियां नाग देवता की पूजा करती हैं और सांपों को दूध पिलाया जाता है. सनातन धर्म में […]