इंदौर न्यूज़ (Indore News) देश मध्‍यप्रदेश

डीएवीवी इंदौर की कुलपति के नाम से भेजे गए फर्जी मैसेज, दोबारा हुई ऑनलाइन ठगी की कोशिश

इंदौर । इंदौर (Indore) के देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (Devi Ahilya University) की कुलपति प्रोफेसर रेणु जैन (Vice Chancellor Professor Renu Jain) के नाम से दोबारा ठगी (cheating) की कोशिश की गयी. उनके नाम पर फर्जी ईमेल, मैसेज से ठगी की कोशिश का मामला सामने आया है. कुलपति ने इसकी लिखित शिकायत कर दी है. इस बार ठग ने डीएवीवी के कार्य परिषद सदस्य मंगल मिश्र और बाकी शिक्षकों को गिफ्ट वाउचर के मैसेज भेजकर ठगी करने की कोशिश की.

देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर रेणु जैन के नाम से विश्वविद्यालय से जुड़े कुछ शिक्षकों और अधिकारियों को मैसेज भेजे गए. ये मैसेज अमेजन गिफ्ट वाउचर वाले थे. डीएवीवी कार्यपरिषद सदस्य मंगल मिश्र को कुलपति रेणु जैन के नाम से 10-10 हजार रुपए के 6 गिफ्ट वाउचर भेजे गए और उस पर पेमेंट करने को कहा गया. इससे पहले भी मंगल मिश्र को इस तरह के मैसेज आ चुके हैं. ऑनलाइन फ्रॉड के मामलों को ध्यान में रखते हुए उन्हें शंका हुई और उन्होंने इसकी जानकारी कुलपति को दी. इस पर कुलपति ने कहा कि उन्होंने किसी को कोई मैसेज नहीं भेजा है.

कुलपति के नाम से पहले भी हो चुका है ऑनलाइन फ्रॉड
इसके बाद कुलपति ने फर्जी मैसेज को लेकर साइबर सेल, क्राइम ब्रांच अधिकारियों से शिकायत की है. कुलपति के नाम से फर्जी ईमेल, मेसेज भेजने का यह पहला मामला नहीं है. इसके पहले भी फर्जी ईमेल, मोबाइल नंबर से गिफ्ट वाउचर वाले लिंक भेजे गए थे. एक शिक्षिका से ढाई लाख रु ठग लिए गए थे. उस समय भी कुलपति रेणु जैन ने पूरे मामले की शिकायत साइबर सेल में की थी. लेकिन उसमें अब तक आरोपी पकड़ में नहीं आए हैं.

शिकायत करने पर नहीं हुआ निराकरण
अब एक बार फिर ऐसा ही मामला सामने आया है. ऑनलाइन ठगी करने वाले बदमाश लगातार कुलपति को निशाना बना रहे हैं, लेकिन साइबर सेल ने पिछले मामले में भी कोई उल्लेखनीय कार्रवाई नहीं की. अब सेल को नए सिरे से शिकायत की गई है. कुलपति के नाम से फर्जी मोबाइल नंबर, मेल, आईडी बनाकर ठगी के लगातार मामले शहर में चर्चा में है.

Share:

Next Post

इस साल BJP को चंदे के रूप में मिले 614 करोड़ रुपये, कांग्रेस से 6 गुना ज्यादा

Wed Nov 30 , 2022
नई दिल्ली। सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) (ruling Bharatiya Janata Party (BJP)) को वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान चंदे के रूप में 614.53 करोड़ रुपये (Rs 614.53 crore as donations) मिले, जो विपक्षी कांग्रेस (opposition congress) द्वारा जुटाई गई राशि के छह गुना से अधिक है। निर्वाचन आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, कांग्रेस को इस […]