देश मध्‍यप्रदेश

दो बार लुटेरी दुल्‍हन का शिकार हुआ परिवार, कोर्ट परिसर से चकमा देकर भागी, पुलिस ने दबोचा

नई दिल्‍ली (New Dehli) । मध्य प्रदेश के खंडवा (Khandva) में पुलिस ने एक लुटेरी (looter) दुल्हन को गिरफ्तार (Arrested) किया है। खंडवा की कोतवाली (police station) थाना पुलिस ने शनिवार को ठग दुल्हन (Bride) समेत उसके एक साथी को भी धर (Dhar) दबोचा।

मध्य प्रदेश के खंडवा में बेटे की शादी का अरमान संजोए एक परिवार एक नहीं बल्कि दो-दो बार ठगी का शिकार हो गया। परिवार के लोग शुक्रवार को शादी की लिखापढ़ी के लिए कोर्ट पहुंचे लेकिन इस बार भी गिरोह ने दूल्हे के परिवार से लगभग 50 हजार रुपए ठग लिए। दुल्हन के साथ आए ठग दूल्हे को झांसा देकर कोर्ट परिसर से भाग निकले। साथियों के फरार होने के कुछ देर बाद दुल्हन भी बहाना बनाकर खिसकने लगी। अपने साथ ठगी होने का आभास होते ही दूल्हे के परिजनों ने तुरंत पुलिस से मदद मांगी। इसके बाद शहर की कोतवाली थाना पुलिस ने शनिवार को ठग दुल्हन समेत उसके एक साथी को धर दबोचा। परिजनों ने ऑटो में बैठ कर फरार हो रहे दलाल को भी पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने तीन के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर युवती और उसके साथी को जेल भेज दिया है। इनके एक अन्य साथी की तलाश जारी है।


बताया जाता है कि खंडवा के ग्राम जामलीकला के रहने वाले शिवा का परिवार उसकी शादी के लिए चिंतित था। परिजन शिवा के लिए लड़की तलाश कर रहे थे। इसी दौरान ये ग्राम राईखेड़ी के रहने वाले संतोष गवली और उसके पुत्र धनराज के संपर्क में आए। इन्होंने शिवा के लिए अच्छा रिश्ता बताने की बात कही। दोनों पिता पुत्र ने बताया कि लड़की अनाथ है। दोनों लड़की के दूसरे रिश्तेदार लगते हैं। कन्या पक्ष को कुछ पैसे देना पड़ेंगे ताकि वे विवाह का सामान खरीद सकें। पिता पुत्र की दलाल जोड़ी ने युवती कमला से मिलवाया और दूल्हे शिवा के परिजनों से लगभग 35 हजार रुपये लिए। दूल्हे शिवा के परिजनों ने दुल्हन कमला को कुछ गहने और कपड़े भी दिलाए। दलालों ने दूल्हे के परिजनों को लगभग 2 से 3 दिन बाद कोर्ट में आकर शादी के लिखा पढ़ी करने की बात कही। इसके बाद शिवा और उसके परिजन दुल्हन को लेकर शुक्रवार को खंडवा जिला कोर्ट पहुंचे।

दूल्हे के पिता लिंबा ने बताया कि हम लोग शुक्रवार दोपहर लगभग 12 बजे कोर्ट पहुंचे। कोर्ट में पिता पुत्र की दलाल जोड़ी भी मौजूद थी। शादी के दस्तावेज तैयार कराने के लिए दुल्हन कमला से उसका आधार कार्ड मांगा गया तो उसने देने से इनकार कर दिया और बाद में शादी की बात करने लगी। कुछ देर बाद दूल्हे शिवा से कमला ने बाथरूम जाने का बहाना बनाया और मौका देखते ही वहां से भाग गई। साथ ही दोनों दलाल संतोष और धनराज भी वहां नहीं मिल रहे थे। इसके बाद दूल्हे शिवा और उसके परिजन को अपने साथ ठगी होने का एहसास हुआ और उन्होंने दुल्हन और उसके रिश्तेदारों की तलाश शुरू की। कुछ देर बाद शहर से कुछ ही दूरी पर उन्हें ठग दुल्हन कमला दलाल धनराज के साथ एक ऑटो में बैठ कर जाती दिखी। इसके बाद इन्होंने ऑटो रुकवा कर दोनों को उतारा और पकड़ कर कोतवाली थाने ले आए और धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई।

दूल्हे के पिता लिंबा गणपत ने बताया कि दोनों दलाल आरोपी बाप बेटे संतोष और धनराज का धंधा ही लोगों को इस तरह से लूटने का है। इसके पहले भी इन्हीं दोनों ने औरंगाबाद की एक लड़की दिखाने के नाम पर उनसे पहले तो 10 हजार रुपए और बाद में औरंगाबाद जाने की बात कहकर 5 हजार रुपए लिए थे। उस पहले वाली लड़की को इन्होंने अपनी बेटी तक बताया था। बाद में शादी की बात से मुकर गए। फिर दूसरी लड़की दिखाने का झांसा देकर उन्हें विश्वास में लेते रहे। इसके बाद अब सिवनी की कमला को अनाथ बात कर उन्हें दिखाया था।

कोतवाली थाना प्रभारी बलराम राठौड़ ने बताया कि दूल्हे के परिजन की रिपोर्ट पर धारा 420, 406, 34 में अपराध पंजीकृत किया गया है। आरोपी कमलाबाई और धनराज को गिरफ्तार किया गया है। दोनों को अदालत में पेश किया जा रहा है। एक आरोपी संतोष गवली अभी फरार है। उसकी भी तलाश की जा रही है। महिला पहले से शादीशुदा है। इनमें करीब 45 हजार रुपए का लेनदेन हो चुका था। कुछ ज्यादा पैसों की इनमें आपस में बातचीत हुई थी। आरोपियों का पुराना आपराधिक रिकार्ड भी देखा जा रहा है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि हम संबंधित थाने से इनका पुराना आपराधिक रिकॉर्ड जांच रहे हैं। इसे भी संबंधित केस डायरी में संलग्न करेंगे।

Share:

Next Post

India-China के बीच आज फिर होगी कोर कमांडर स्तर की एक और वार्ता

Mon Aug 14 , 2023
नई दिल्ली (New Delhi)। भारत चीन (India-China) के बीच सीमा विवाद (border dispute) पहले की भांति ही जारी है। हालांकि दोनों देश तनाव को कम करने के लिए लगातार वार्ता कर रहे हैं। इसी क्रम में आज यानी सोमवार को भारत और चीन 19वें राउंड की कोर कमांडर स्तर की वार्ता (19th round of Corps […]