मनोरंजन

HBD: को-एक्टर की बदसलूकी पर दीपिका सिंह ने जड़ा था जोरदार थप्पड़, शो छोड़ने की दी थी धमकी

मुंबई। टीवी एक्ट्रेस दीपिका सिंह (Deepika Singh) टीवी इंडस्ट्री की जानी मानी अदाकारा हैं. दीपिका सीरियल ‘दिया और बाती हम’ (Serial ‘Diya Aur Baati Hum’) से घर-घर में संध्या बींदणी (Sandhya Bindani) के नाम से फेमस हुईं. अब तक वह लाखों-करोड़ों दिलों में खास जगह बना चुकी हैं. आज दीपिका के लिए खास दिन है, क्योंकि आज उनका जन्मदिन है. दीपिका सिंह का जन्म एक राजपूत परिवार में 26 जुलाई 1989 को दिल्ली में हुआ था.

2 मई 2014 को दीपिका ने सीरियल ‘दीया और बाती हम’ के डायरेक्‍टर रोहित राज गोयल से शादी की थी. इसके बाद दीपिका ने अपने पहले बेटे सोहम को 20 मई 2018 को जन्म दिया था. दीपिका ने ‘दिया और बाती हम’ के बाद इस सीरियल के सीक्वल ‘तू सूरज मैं सांझ पियाजी’ में कैमियो रोल भी अदा किया था.

‘दिया और बाती हम’की एक्ट्रेस दीपिका सिंह ने बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन किया है.

‘दीया और बाती हम’ के शूटिंग के दौरान दीपिका सिंह (Deepika Singh) के साथ कुछ ऐसा हुआ जिसने उन्हें हैरान कर दिया था. रिपोर्ट की माने तो शो में सूरज को रोल निभा रहे अनस राशिद ने दीपिका को गलत तरीके से छूने की कोशिश की थी, जो दीपिका को बुरा लगा और दोनों में बहस हो गई. इस दौरान राशिद ने दीपिका को अपशब्द कह दिया जो दीपिका को बर्दाश्त नहीं हुआ और राशिद को जोरदार थप्पड़ जड़ दिया. इसके बाद उन्होंने शो छोड़ने की धमकी भी दे ड़ाली थी. बाद में इस मामले को सुलझा लिया गया.

आपको बता दें कि दीपिका पिछले दिनों अपनी उन तस्वीरों को लेकर काफी ट्रोल हुई थीं, जो उन्होंने टाउते तूफान के बीच टूटे पेड़ और बारिश में कराया था. उन्होंने तस्वीरों को शेयर करते हुए लिखा था- ‘आप तूफान को रोक नहीं सकते, तो ऐसा करने की कोशिश मत कीज‍िए. ऐसे में आप खुद को शांत रखने की कोशिश कर सकते हैं और प्रकृति के इस उदास और नाराज अंदाज को गले लगाओ क्‍योंकि ये तूफान भी गुजर जाएगा.’

दीपिका की ये तस्वीरें सामने आने के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया था. एक यूजर ने लिखा, ‘चक्रवात में लोग मर रहे हैं. आप जैसे लोग इसका आनंद ले रहे हैं. कितनी शर्म की बात है.’

Share:

Next Post

सर्वज्ञानी समझते राहुल गांधी खोते साख

Mon Jul 26 , 2021
– आर.के. सिन्हा राहुल गांधी को अब राजनीति में आए हुए काफी समय हो चुका है। कहने को तो वे अपने को जन्मजात राजनीतिज्ञ और नेता मानते हैं। पर वे उस तरह से परिपक्व अभी भी नहीं हुए हैं जैसी उनसे देश अपेक्षा करता था। वे 2004 से ही लोकसभा के सदस्य हैं। उनकी सियासत […]