बड़ी खबर व्‍यापार

हीरो मोटोकॉर्प ने लॉन्‍च की बीएस-6 नई बाइक, कीमत 1.16 लाख रुपये

मुंबई। दोपहिया वाहन निर्माता हीरो मोटोकॉर्प कंपनी ने अपनी बाइक एक्स्ट्रीम 200एस को नए वर्जन बीएस-6 के अवतार में लॉन्च किया है। कंपनी ने इस मोटरसाइकिल की शुरुआती कीमत 1 लाख 15 हजार 715 रुपये रखी है।

एक्स्ट्रीम 200एस बीएस-6 बाइक को युवाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए परफॉर्मेंस, स्टाइलिंग और एक अलग आकर्षण का ज़बरदस्त मिश्रण पेश किया गया है। बाइक को स्पोर्ट्स रेड, पैंथर ब्लैक और न्यू पर्ल फेडलेस वाइट तीन रोमांचक रंगों में पेश किया गया है। ग्राहकों को अन्य सुविधाएं भी दी गई हैं।

एक्स्ट्रीम 200एस एक्ससेन्स टेक्नोलॉजी के साथ एक 200 सीसी बीएस-VI प्रोग्राम्ड फ्युएल इंजेक्शन इंजिन है। यह 17.8 बीएचपी @8500 आरपीएम और 16.4 एनएम @6500 आरपीएम का आकर्षक टॉर्क डिलीवर करता है। यह मोटरसाइकल अब एक ऑईल कूलर के साथ आती है, जो इंजिन हीट एक्सचेंज में सुधार के साथ राइडिंग अनुभव में और भी ज़्यादा सुधार लाती है।

ओवरहीटिंग की समस्या खत्म करते हुए, उच्च टिकाउपन और इंजिन की लंबी उम्र सुनिश्चित करती है। इसमें 7-स्टेप एडजस्टेबल मोनोशॉक सस्पेंशन दिया गया है जो बेहतर राइड हैंडलिंग पेश करता है और अतिरिक्त सुरक्षा के लिए सिंगल चैनल एबीएस के साथ 276 एमएम फ्रंट डिस्क और 220 एमएम रियर डिस्क लगाए गए हैं।

कंपनी के सेल्स और आफ्टरसेल्स के प्रमुख नवीन चौहान के अनुसार नई एक्स्ट्रीम 200एस प्रीमियम सेगमेंट में हमारा ध्यान केंद्रित किया हुआ तरीका दर्शाता है। एक्स्ट्रीम 160आर और एक्‍सपल्स 200 बीएस-6 को हमारे ग्राहकों की ओर से जबरदस्त प्रतिक्रिया मिल रही है। मुझे पूरा भरोसा है कि एक्स्ट्रीम 200एस इसी सफलता को और आगे लेकर जाएगी।

हीरो मोटोकॉर्प में हेड–स्‍ट्रैटेजी मालो ले मैसॉन के मुताबिक हमें पूरा भरोसा है कि बीएस-6 एक्स्ट्रीम 200एस अपना मज़बूत प्रदर्शन जारी रखेगी और इस सेगमेंट में हमारी मौजूदगी को और भी सुदृढ़ करेगी। (एजेंसी, हि.स.)

Next Post

केंद्र सरकार ने 14 राज्‍यों को जारी किया 6,195.08 करोड़ रुपये

Wed Nov 11 , 2020
-15वें वित्‍त आयोग की सिफारिश पर राज्‍यों को जारी की ये राशि नई दिल्‍ली। केंद्र सरकार ने 14 राज्‍यों को राजस्व घाटा अनुदान की मासिक किस्त के तौर पर 6,195 करोड़ रुपये जारी किए हैं। ये अनुदान 15वें वित्त आयोग की अंतरिम सिफारिशों पर आधारित है, जो राज्यों को केंद्रीय करों में राज्य की हिस्सेदारी […]