इंदौर

महिला अपराधों में इंदौर चौथे स्थान पर


– 150 बलात्कार, 400 से अधिक अपहरण, हत्या, वैश्यावृत्ति से लेकर अन्य तरह के अपराध पंजीबद्ध
इंदौर। निर्भया कांड की तरह अभी पहले हाथरस में हुई बर्बरता सामने आई, तो वहीं खरगोन में भी इस तरह की घटना देर रात सामने आई है। स्वच्छता में लगातार 4 बार नम्बर वन रहने वाला इंदौर महिला अपराधों के मामले में भी देश में चौथे स्थान पर है। नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े बताते हैं कि जयपुर, दिल्ली, लखनऊ के बाद महिला अपराधों में इंदौर का नम्बर आता है। 150 बलात्कार, 400 से अधिक हत्या, अपहरण व अन्य तरह के अपराध पंजीबद्ध हुए हैं। अभी बीते 3-4 दिनों में महिला अपराधों में हुई वृद्धि के बाद देशभर में हल्ला मचा है।
हाथरस दुष्कर्म कांड की तो जबरदस्त निंदा सोशल मीडिया पर भी की जा रही है, जिसमें दलित युवती का अंतिम संस्कार भी जिस तरीके से पुलिस ने करवाया वह भी अत्यंत निंदनीय रहा। इस तरह की घटना एक और सामने आई है। वहीं प्रदेश में भी बलात्कार की घटनाएं लगातार होती रही है और इंदौर भी इसका एक बड़ा गढ़ रहा है। कुछ वर्ष पहले तो नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़ों ने इंदौर और मध्यप्रदेश को महिला अपराधों के मामले में नम्बर वन ही बताया था। अभी जो आंकड़े आए हैं उनमें 1700 से अधिक अपराध महिलाओं के खिलाफ तमाम थानों पर दर्ज हुए हैं। 10 प्रमुख शहरों के इन आंकड़ों में इंदौर के भी 150 बलात्कार के प्रकरण शामिल किए गए हैं और इस मान से इंदौर को पांचवें स्थान पर रखा गया है। दिल्ली, जयपुर, मुंबई और हैदराबाद में इससे अधिक बलात्कार के प्रकरण सामने आए हैं। 2017 में 1350 प्रकरण दर्ज होना बताए गए, तो 2018 में यह संख्या 1593 और 2019 में 1755 तक पहुंच गई, जिनमें 400 से अधिक अपहरण के मामले और 54 वैश्यावृत्ति से संबंधित प्रकरण भी दर्ज हुए हैं। 338 प्रकरण तो महिलाओं पर अत्याचार से संबंधित दर्ज हुए हैं। इनमें अपहरण, बलात्कार के अलावा अन्य तरह के जुर्म शामिल हैं। हालांकि पुलिस का कहना है कि देश के अन्य बड़े शहरों की तुलना में इंदौर में महिला अपराधों में विगत वर्षों में कमी आई है और इसका एक कारण यह भी है कि लगातार मॉनिटरिंग के अलावा सूचना मिलने पर ही कार्रवाई की गई। वहीं शासन का यह भी कहना है कि संख्या इसलिए अधिक नजर आती है, क्योंकि पहले एफआईआर नहीं होती थी, अब दर्ज करवाई जाने लगी है, जिसके चलते महिला अपराधों के आंकड़े अधिक नजर आते हैं।

पानी भरकर लौट रही नाबालिग के साथ मनचले ने की हरकत
ग्रामीण थाना क्षेत्र में पानी भरकर लौट रही एक नाबालिग के साथ छेड़छाड़ करने वाले बदमाश के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया। बडग़ोंदा पुलिस को नाबालिग ने परिजनों के साथ अपने साथ हुई छेड़छाड़ की वारदात के खिलाफ केस दर्ज करवाते हुए बताया कि कल जब वह सार्वजनिक हैण्डपम्प से पानी भरकर घर लौट रही थी। तभी किशोर निवासी देवगढ़ हाल मुकाम डमाली लालसिंह का घर ने उसका पीछे से हाथ पकड़ा और अश्लील हरकतें करना शुरू कर दिया। पीडि़ता ने शोर मचाया तो बदमाश ने उसे धमकाया कि इस बारे में किसी को कुछ बताया तो वह उसे जान से खत्म कर देगा। पुलिस द्वारा बदमाशों की खोज की जा रही है। बताया जा रहा है कि उक्त बदमाश पहले से ही पुलिस की निगरानी सूची में शामिल थे।

Next Post

पूर्वोत्तर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 2.44 लाख के पार

Thu Oct 1 , 2020
गुवाहाटी । सिक्किम समेत पूर्वोत्तर के आठों राज्यों में कोरोना के मरीजों की संख्या में काफी तेजी से वृद्धि हो रही है। हालांकि, स्वस्थ होने वाले मरीजों की दर में भी तेजी से इजाफा हो रहा है। तेजी से बढ़ रहे नये मरीजों की संख्या बेहद डरा रही है। पूर्वोत्तर में सबसे अधिक मामले असम […]