उत्तर प्रदेश बड़ी खबर राजनीति

मायावती ने ‘गिनाए’ सड़कों के गड्ढे, तो UP के मंत्री बोले- बेरोजगारी में कोई और काम नहीं

लखनऊ: सड़कों की बदहाली को लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) के ट्वीट का सरकार की ओर से कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना (Suresh Khanna) ने करारा जवाब दिया है. बुधवार को जारी बयान में खन्ना ने कहा कि कोलतार की सड़कों पर बारिश के सीजन में गड्ढे हो ही जाते हैं. सरकार इससे वाकिफ है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) तय समय में पूरे मानक के साथ सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का निर्देश दे चुके हैं.

मायावती के ट्वीट पर पलटवार करते हुए खन्ना ने कहा, चूंकि अब मायावती (Mayawati) के पास कोई काम तो है नहीं. वह दशक भर से बेरोजगारी में जी रही हैं. उनका हाथी 2012 में ही बैठ चुका है. अब वह उठने से रहा, लिहाजा दिन काटने के लिए अब वह सड़कों के गड्ढे गिन रही हैं.

कैबिनेट मंत्री ने कहा, मायावती राजनीति में तो आप आईं थीं दलितों की बेटी बनकर, इसी आधार पर सत्ता में भी आईं, पर बन गईं दौलत की बेटी. खन्ना ने कहा, स्मारकों पर पानी की तरह पैसा बहाने वाले कबसे जनता की बुनियादी सुविधाओं की चिंता करने लगे. यह तो वही वाली बात हो गई कि सूप हंसे तो हंसे चलनी भी हंसे जिसमें 72 छेद. आप नाहक चिन्ता कर रही हैं. भाजपा सरकार जनता की बुनियादी सुविधाओं की बखूबी चिंता कर रही है.

यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री सुरेश खन्ना ने कहा, ‘इस चिंता और घड़ियाली आंसू से आपकी (मायावती) दौलत की बेटी के रूप में जो छवि बन चुकी है, वह बदलने से रही. अब आपको फिर से मुस्कराने का मौका मिलने से रहा. बाकी अपने संतोष के लिए आप ऐसे बयानों से कुछ देर के लिए जनता का ध्यान आकर्षित कर सकती हैं. उसके दिलो-दिमाग से आप पहले ही अपने भ्रष्टाचार के कारण उतर चुकी हैं.

मालूम हो कि मायावती ने बुधवार को प्रदेश में सड़कों की बदहाली के बारे दो ट्वीट किए. उन्होंने लिखा, ‘सड़कें लोगों की बुनियादी जरूरत व विकास से जुड़ी हुई हैं और इनके बारे में भी सरकार चाहे जितने भी नारे व दावे कर ले लेकिन यूपी की सड़कों की हालत फिर से इतनी ज्यादा खराब हो गई है कि लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि सड़कों में गड्ढा है या गड्ढे में सड़क. सरकार ध्यान दे.’

Share:

Next Post

गुजरात में 24 नए मंत्रियों के साथ मिशन 2022 पर फोकस, जानें किन चेहरों को मिली जगह

Thu Sep 16 , 2021
गांधीनगर: गुजरात (Gujarat) के नए मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल (Bhupendra Patel) की नई कैबिनेट (new cabinet) अस्तित्व में आ चुकी है. प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly elections) से पहले पूरा मंत्रिमंडल (cabinet) बदला हुआ नजर आया. सूबे में भविष्य की तैयारियों को देखते हुए कैबिनेट में कई नए चेहरों को जगह दी […]