उत्तर प्रदेश बड़ी खबर

पांच मंजिला इमारत ढहने की घटना में कोई मृत नहीं : प्रमुख सचिव गृह

लखनऊ (Lucknow)। लखनऊ (Lucknow) के हजरतगंज थाना क्षेत्र में 5 मंजिला इमारत के ढहने की घटना (5 storey building collapse incident) के बाद मौके पर पहुंचे प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद (Principal Secretary Home Sanjay Prasad) ने कहा है कि घटना के बाद शुरुआती जानकारी में तीन लोगों की घटना मृत्यु की सूचना मिल रही थी। जिसे स्पष्ट कर देना उचित होगा कि अभी तक दुखद घटना में किसी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है।

उन्होंने मीडिया से कहा कि घटनास्थल पर मौके का जायजा लेने के बाद पुलिस विभाग के अन्य अधिकारियों से भी वार्ता हुई है। मौके पर पुलिस महानिदेशक भी मौजूद हैं। कोई कैजुअल्टी नहीं हुई। एक भी अभी मौत नहीं हुई।

उन्होंने आगे कहा कि 12 लोगों का रेस्क्यू कर निकाला जा चुका है। अभी कुछ लोग और फंसे हैं। उन्हें भी सुरक्षित निकालने का कार्य जारी है। घटना के कारणों का पता लगाने के लिए पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया गया है।

9 लोग घायल, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी, मुख्यमंत्री और रक्षामंत्री ने जताया दुख
लखनऊ के हजरतगंज थाना क्षेत्र में वजीर हसनगंज मार्ग पर एक पांच मंजिला इमारत मंगलवार शाम भरभरा कर गिर गई। इस हादसे में 9 लोग घायल हुए हैं और 40-50 लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। हादसे की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई है और एसडीआरएफ व एनडीआरएफ की टीमों ने भी मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

हादसे पर संज्ञान लेते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी और पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर राहत कार्य कराने के लिए निर्देशित किया। मुख्यमंत्री के निर्देश पर एसडीआरएफ और एनडीआरएफ की टीम ने भी मौके पर पहुंच कर बचाव कार्य में जुट गई है। साथ ही सीएम योगी ने घायलों को तत्काल अस्पताल पहुंचाकर जिला प्रशासन के अधिकारियों को उनके समुचित उपचार के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना भी की है।

वहीं मुख्यमंत्री के निर्देश जारी करने के कुछ क्षणों के भीतर ही उपमुख्यमंत्री बृजेश पाठक और नगर विकास मंत्री एके शर्मा मौके पर पहुंचे और मौके का जायजा लिया। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि राहत और बचाव कार्य किया जा रहा है। एसडीआरएफ, एनडीआरएफ की टीम मौके पर मौजूद है। लोगों को बचाने की पूरी कोशिश की जा रही है। उन्होंने बताया कि हादसे को लेकर लखनऊ के सभी अस्पताल अलर्ट पर हैं।

लखनऊ के सांसद और देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी लखनऊ में इमारत गिरने के हादसे को दर्दनाक बताया है। उन्होंने कहा कि इस हादसे में जिन्होंने अपनों को खोया है, उनके प्रति गहरी संवेदनाएं हैं।

नगर विकास व ऊर्जा मंत्री एके शर्मा ने घटनास्थल का निरीक्षण करने के पश्चात मीडिया से बातचीत में कहा कि दुखद घटना में सरकार घायलों व मित्र जनों के परिजनों के साथ है। एके शर्मा के साथ मुख्यमंत्री के सलाहकार अवनीश अवस्थी, मंडलायुक्त डॉ रौशन जैकब, नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह मौजूद रहे।

लखनऊ के जिलाधिकारी सूर्यपाल ने बताया कि पांच मंजिला इमारत के ढहने के कारणों का पता लगाया जा रहा है। घटना में 3 लोगों के मृत होने की सूचना मिली है और लगभग 40 से 50 लोग मलबे में अब भी दबे हुए हैं, जिन्हें बाहर निकालने का कार्य किया जा रहा है।

वहीं उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक डॉक्टर देवेंद्र सिंह चौहान ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस मौके पर बचाव एवं राहत कार्य में जुटी हुई है। मलबे से अभी तक 11 लोगों को निकाला जा चुका है, और फंसे लोगों को निकालने का कार्य जारी है। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

यूको बैंक: तीसरी तिमाही में मुनाफा दोगुना से ज्यादा बढ़कर 653 करोड़ रुपये

Wed Jan 25 , 2023
-तीसरी तिमाही में बैंक की कुल आय बढ़कर 5,451 करोड़ रुपये हुई नई दिल्ली (New Delhi)। सार्वजनिक क्षेत्र के यूको बैंक (Public Sector UCO Bank) ने वित्त वर्ष 2022-23 की तीसरी तिमाही के नतीजे (third quarter results) का ऐलान कर दिया है। चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) में बैंक का मुनाफा दोगुना से […]