देश भोपाल न्यूज़ (Bhopal News) मध्‍यप्रदेश

मप्र में फिल्म निर्माण के लिए नहीं छोड़ी जायेगी कोई कमी: सीएम शिवराज

– मुख्यमंत्री ने किया चतुर्थ चित्रभारती फिल्मोत्सव प्रदर्शनी का शुभारंभ

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि प्रदेश में फिल्म निर्माण (film production in the state) के लिए कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी। उन्होंने समाज को सही दिशा दिखाने और भारतीय संस्कृति (The Indian heritage) को सुदृढ़ करने वाली फिल्में बनाने के लिए जोर दिया।


मुख्यमंत्री चौहान गुरुवार शाम को भोपाल के बिशनखेड़ी स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित चतुर्थ चित्रभारती फिल्मोत्सव प्रदर्शनी का शुभारंभ कर रहे थे। उन्होंने माँ सरस्वती का पूजन कर प्रदर्शनी का शुभारंभ किया।

प्रदर्शनी में दादा साहेब फाल्के पुरस्कार विजेताओं सहित फिल्मोत्सव से संबंधित अनेक चित्र लगाए गए थे। प्रदर्शनी की थीम “कल, आज और कल” पर आधारित थी। मुख्यमंत्री ने गणेश शंकर विद्यार्थी सभागार का लोकार्पण भी किया। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ओम प्रकाश सखलेचा, विश्वविद्यालय के कुलपति केजी सुरेश सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

फिल्मोत्सव की बुकलेट का विमोचन
मुख्यमंत्री चौहान का चित्रभारती फिल्मोत्सव आयोजन समिति के पदाधिकारियों ने स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया। मुख्यमंत्री ने विश्वविद्यालय की शोध पत्रिका “मीडिया मीमान्सा” और चित्रभारती फिल्मोत्सव की बुकलेट का विमोचन किया किया। मुख्यमंत्री का एनसीसी के छात्रों ने स्वागत किया। फिल्मोत्सव का आयोजन 27 मार्च तक होगा, जिसमें चयनित 120 फिल्में प्रदर्शित होगी। सुप्रिसिद्ध अभिनेता अक्षय कुमार, अभिनेत्री पल्लवी जोशी सहित अन्य फिल्मी हस्तियां शामिल होंगी।

ग्राम बावई का नाम होगा माखन नगर
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि चार अप्रैल को माखनलाल चतुर्वेदी का जन्म हुआ था। उनके जन्म ग्राम में गौरव दिवस के अवसर पर ग्राम बावई का नाम माखन नगर किया जायेगा। उन्होंने कहा कि माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय ने देश में अपनी अलग पहचान बनाई है। यहाँ से कई महान विभूतियाँ निकली हैं।

चौहान ने कहा कि हमारा देश दुनिया को दिशा देने वाला है। हमारी परम्परा अद्भुत है। सभी जीवों में एक ही चेतना है। भारत की परम्परा, जीवन मूल्य विचार अद्भुत हैं। उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति को सिनेमा काफी प्रभावित करता है। फिल्मों के माध्यम से भारत की सोच, विचार, संस्कृति को विकृत नहीं होने दिया जाए । सही दिशा में ले जाने का प्रयास करें। चित्रभारती इस दिशा में सकारात्मक कार्य कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि युवाओं और बच्चों तक हमारी संस्कृति और विचार पहुंचायें। पर्यावरण को बचाने की हमारी संस्कृति है। चित्रभारती निश्चित तौर पर सकारात्मक कार्य करेगी। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश फिल्म निर्माण के क्षेत्र में तेजी से आगे बढ़ रहा है। फिल्में समारात्मकता से भरी एवं उद्देश्यपूर्ण हों। ऐसी फिल्में बनें, जो मनोरंजन के साथ हमारी संस्कृति को भी प्रभावित नहीं करें। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

मप्रः महिला उद्यमियों को मिलेगा भरपूर प्रोत्साहन : सीएम शिवराज

Fri Mar 25 , 2022
– मुख्यमंत्री ने किया मावे के तीन दिवसीय अधिवेशन स्वीप-2022 का शुभारंभ भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित (encourage women entrepreneurs) करने के लिए नए लाभकारी प्रावधान किए जाएंगे। इसके लिए प्रचलित योजनाओं में जरुरी संशोधन किए जाएंगे। मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना (Chief Minister […]