बड़ी खबर

G-20 Summit: रोम का प्रसिद्ध ट्रेवी फाउंटेन देखने पहुंचे PM मोदी, वैश्विक नेताओं के साथ उछाला सिक्का

रोम। पांच दिवसीय विदेश दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस समय जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेन के लिए अपनी यात्रा के पहले पड़ाव इटली की राजधानी रोम में हैं। रविवार को प्रधानमंत्री शिखर सम्मेलन से इतर अन्य वैश्विक नेताओं के साथ यहां स्थित प्रसिद्ध ट्रेवी फाउंटेन देखने पहुंचे। यह फाउंटेन इटली के सर्वाधिक दर्शनीय स्मारकों में से एक है। बरोक कला शैली वाले इस स्मारक को कई फिल्म निर्माताओं ने प्रेम के प्रतीक के तौर पर बड़े पर्दे पर भी पेश किया है।

जी-20 इटली के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इस संबंध में रविवार को एक ट्वीट किया गया। इस ट्वीट में लिखा गया, ‘जी20 प्रतिनिधिमंडल के अध्यक्षों ने शिखर सम्मेलन के दूसरे दिन की शुरुआत शहर के प्रतीकात्मक स्थल, ट्रेवी फाउंटेन तक टहल कर की। यह दुनिया का सबसे खूबसूरत फाउंटेन है और इसमें सिक्का उछाले जाने की परंपरा के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है।’ बरोक कला शैली के शहर के इस सबसे बड़े फव्वारे की ऊंचाई 26.3 और चौड़ाई 49.15 मीटर है।

इसे लेकर जी-20 इटली की ओर से एक वीडियो भी जारी किया गया है। इस वीडियो में फाउंटेन तक गए प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों को इसके पानी में अपने कंधों के ऊपर से सिक्के उछालते हुए देखा जा सकता है। इसे लेकर मान्यता है कि अगर आप अपने कंधों के ऊपर से इस फाउंटेन के पानी में सिक्का फेंकें तो इसका मतलब है कि आप रोम एक बार फिर लौट कर जरूर आएंगे। जी20 की अध्यक्षता इस समय इटली के पास है जो पिछले साल दिसंबर से इसका अध्यक्ष है।

इटली के प्रधानमंत्री से मिलेंगे पीएम मोदी
सम्मेलन के दूसरे दिन यानी आज प्रधानमंत्री मोदी स्पेन के प्रधानमंत्री पेड्रो सैंशेज से द्विपक्षीय मुलाकात करेंगे। इसके अलावा वह सतत विकास पर एक सत्र में हिस्सा लेंगे और आपूर्ति श्रृंखला के लचीलेपर पर एक कार्यक्रम में भी शामिल होंगे।

Share:

Next Post

भारत के युवाओं में बढ़ रहा इस गंभीर बीमारी का खतरा, जानें लक्षण व कारण

Sun Oct 31 , 2021
युवा व्यस्कों के बीच पिछले दो दशकों में कोलोरेक्टल कैंसर के मामले बढ़ रहे हैं, और कोरोना महामारी ने इस बीमारी से पीड़ित मरीजों की दुर्दशा को खराब किया है। डॉक्टरों का कहना है कि लक्षणों के दिखाई देने पर स्क्रीनिंग में देरी भी इन मामलों को बदतर कर रही है, और महामारी के दौरान […]