बड़ी खबर व्‍यापार

40 देशों में Amazon के खिलाफ ‘ब्लैक फ्राइडे प्रोटेस्ट’ की तैयारी, जानें क्यों सड़कों पर उतरेंगे कर्मचारी?

नई दिल्ली: अमेरिका, यूरोप, इंडिया, जापान और ऑस्ट्रेलिया समेत करीब 40 देशों में ई-कॉमर्स साइट अमेजन के कर्मचारी सड़कों पर उतरने की योजना बना रहे हैं. ये लोग कंपनी से बेहतर सैलरी और काम के लिए अच्छे माहौल की मांग कर रहे हैं. इन कर्मचारियों का कहना है कि महंगाई के चलते खर्च बढ़ गए हैं इसलिए वेतनमान अच्छा होना चाहिए.

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के अनुसार, इन सभी देशों में अमेजन के हजारों कर्मचारी कंपनी के वेयरहाउस के बाहर ब्लैक फ्राइडे सेल के दौरान प्रदर्शन करेंगे. दरअसल ब्लैक फ्राइडे सेल ऑनलाइन शॉपिंग का सबसे व्यस्तम समय है. ऐसे में कर्मचारियों के प्रदर्शन से कंपनी के बिजनेस पर बड़ा असर पड़ सकता है.

हड़ताल से प्रभावित होगी प्रोडक्ट्स की डिलीवरी
इस विरोधी अभियान के आयोजकों में से एक यूएनआई ग्लोबल यूनियन के महासचिव क्रिस्टी हॉफमैन ने कहा, “अमेजन के लिए यह समय है कि वह अपनी गलत और असुरक्षित प्रथाओं को तुरंत बंद कर दे, कानून का सम्मान करे और अपने काम को बेहतर बनाने के इच्छुक श्रमिकों के साथ बातचीत करे.”

फ़्रांस और जर्मनी की यूनियन प्रमुख यूरोपीय बाजारों में शिपमेंट को बाधित करने के उद्देश्य से 18 प्रमुख वेयर हाउस पर एक साथ हड़ताल करेंगे. एक कर्मचारी ने कहा कि, अमेजन के इन एल्गोरिदम के साथ लोग बहुत दबाव में हैं. यह श्रमिकों के बीच अंतर नहीं करता है, चाहे वे पुराने हों या नये. रात में कर्मचारी केवल अपनी उत्पादकता के आँकड़ों के बारे में सोचते हुए जागते हैं.

अमेरिका में 10 से ज्यादा शहरों में होगा प्रदर्शन
अमेरिका 10 से ज्यादा शहरों में और न्यूयॉर्क के 5वें एवेन्यू पर एक अपार्टमेंट ब्लॉक के बाहर विरोध प्रदर्शन और रैलियां होंगी. जहां अमेज़ॅन के संस्थापक जेफ बेजोस का एक अपार्टमेंट है. भारत में भी कई रैलियों की योजना है, जबकि जापान में, हाल ही में बनाई गई यूनियन के सदस्य टोक्यो में कंपनी के राष्ट्रीय मुख्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन करेंगे.

Share:

Next Post

भारत जोड़ो यात्रा पर बोले ज्योतिरादित्य सिंधिया- 'कांग्रेस ने बताया घर वापसी का संकेत

Fri Nov 25 , 2022
शिमला: अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के एक प्रवक्ता ने पीटीआई-भाषा से कहा कि मध्य प्रदेश में राहुल गांधी की अगुवाई वाली भारत जोड़ो यात्रा के लिए केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की ‘स्वागत’ टिप्पणी उनकी ‘घर वापसी’ का संकेत हो सकती है. भारत जोड़ो यात्रा 23 नवंबर की सुबह पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश के […]