इंदौर न्यूज़ (Indore News)

वो युवती नहीं, किन्नर था! सेल्स डायरेक्टर की हत्या में दो बदमाशों के साथ किन्नर गिरफ्तार


जोया चल… जोया चल…चाकू मारते समय ऑडियो में आई आवाज और पकड़ा गए हत्यारे
इंदौर।  परसो रात को लसूडिय़ा थाना क्षेत्र (Lasudia police station area) में युवक को चाकू (knife) मारने के बाद हुई उसकी मौत के मामले से पुलिस (police) ने पर्दा उठा दिया। मौके पर बने एक वीडियो (video) ने हत्या (murder) का राज उगलते हुए जाहिर कर दिया कि हमलावरों में जिस युवती की बात पहले सामने आ रही थी वह युवती नही थी बल्कि किन्नर था। पुलिस ने उसके दो साथियों को भी गिरफ्तार कर लिया है।
पार्टी मनाकर लौट रहे रीवा के रियल एस्टेट कंपनी (real estate company) के सीनियर सेल्स डायरेक्टर (senior sales director) दिवांशु मिश्रा (Divanshu Mishra) निवासी महालक्ष्मी नगर (Mahalaxmi Nagar) और उसके साथी सतीश यादव ( Satish Yadav) को बांबे अस्पताल और सत्यासांई चौराहे (Satyasai crossroads) के समीप दो बाइक सवार युवक और एक युवती ने रोका था। दोनों ने उसे धमकाते हुए युवती को घर पहुंचाने और उससे संबंध बनाने के लिए कहा था। बाद में विवाद हुआ तो दिवांशु पर चाकू से हमला कर दिया और चेन लूटकर भाग गए। दिवांशु और सतीश नशे में थे। सतीश घायल दिवांशु को घर ले गया और सुबह उसकी मौत हो गई। एसपी आशुतोष बागरी (SP Ashutosh Bagri) टीम के साथ मौके पर पहुंचे। उनके हाथ एक ऑडियो क्लिप (audio clip) लगी, जो घटना स्थल की थी। उसमें युवती को उसके साथी बोल रहे थे जोया चल, जोया चल। यह शब्द हमले के बाद के थे। इसके बाद ही पुलिस की जांच युवती से हटकर असली अपराधी किन्नर (Kinnar)  और बदमाशों तक पहुंच गई।

आजादनगर की रहने वाली है जोया
पुलिस सूत्रों की मानें तो जैसे ही जोया शब्द सामने आया तो पुलिस ऐसी युवती की तलाश में जुट गई, जिसका नाम जोया हो। तभी आजादनगर थाने (Azad Nagar police station) से जानकारी मिली कि जोया मंसूरी नाम का एक किन्नर यहां रहता है, जो आपराधिक गतिविधियों में भी लिप्त है। पुलिस की टीमों को जोया तक पहुंचने में देरी नहीं लगी और उसे गिरफ्तार कर लिया। जोया ने हत्या में अपने साथी अल्लू उर्फ शाहरुख निवासी आजादनगर (Azad Nagar) और अलीम निवासी सतवास (देवास) का नाम भी बताया है। इसके बाद उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया गया। सभी के पुराने आपराधिक रिकार्ड देखे जा रहे हैं।

ड्रग्स के आदी हैं तीनों आरोपी
पुलिस सूत्रों की मानें तो किन्नर जोया (zoya) और उसके साथी ड्रग्स (drugs) के आदी हैं। जोया के संपर्क में आजादनगर क्षेत्र के कुछ नशेड़ी भी हैं। बताया जा रहा है कि वारदात के दौरान भी यह सभी नशे में थे। जैसे ही इन लोगों ने दिवांशु और उसके साथी सतीश को देखा तो उनके पीछे लग गए और अकारण उनसे विवाद करने लगे और वारदात हो गई। जोया का नाम पहले भी विवादों में सामने आ चुका है। पूरे मामले की पड़ताल होने के बाद साफ हुआ कि अभी तक सतीश का इस हत्या में कोई रोल नहीं है।

Share:

Next Post

डेंगू मरीजों से भरे सारे शहर के अस्पताल, प्लेटलेट्स की भी बढ़ी मांग

Fri Oct 8 , 2021
अधिकांश बड़े अस्पतालों में बेड उपलब्ध नहीं… इंदौर के अलावा आसपास के क्षेत्रों से भी बड़ी संख्या में आ रहे हैं मरीज कोरोना से पीछा छूटा तो डेंगू ने शहर की हालत बिगाड़ी…कल और 16 मरीज मिले इंदौर। जिस तरह कोरोना मरीजों (Corona Patients) की संख्या बढऩे के चलते शहर के सारे अस्पताल भर गए […]