उज्‍जैन

मंडी में गैर कृषि कार्यों की दुकानें खुली, कार्रवाई की माँग को लेकर ज्ञापन दिया

  • मंडी में मूलभूत समस्याओं का अभाव-अन्य समस्याएँ भी मौजूद

उज्जैन। कृषि उपज मंडी में व्यापारी करोड़ों की टैक्स चोरी कर रहे हैं। इसके अलावा यहां गैर कृषि व्यवसाय, सुरक्षा के इंतजामों की कमी सहित मूलभूत सुविधाओं में सुधार को लेकर भाजपा किसान मोर्चा ने कृषि मंत्री कमल पटेल को ज्ञापन दिया और निराकरण की मांग की।
किसान मोर्चा के नेताओं ने बताया कि प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल सहित अन्य जनप्रतिनिधियों को दिए गए ज्ञापन में बताया गया कि कृषि उपज मंडी उज्जैन में व्यापारी टैक्स चोरी द्वारा करोड़ों रुपए की हेराफेसरी कर रहे हैं। इसके लिए व्यापारियों ने दुकानों के पीछे की और से रास्ते बना रखा हैं। जिसके माध्यम से पीछे वाले दरवाजे से ये उपज लेकर मंडी टैक्स की चोरी करते हैं। सभी दरवाजे सख्ती से बंद करवाएं जाए और सीसीटीवी कैमरे लगवाए जाएं। किसानों को रासायनिक खाद की समस्या दूर की जाए। इसके लिए सोसाइटी के माध्यम से खाद बीज का वितरण किया जाए। किसानों की सुविधा के लिए मंडी में विश्राम गृह, पेयजल, प्रकाश, सड़क जैसी मूलभूत व्यवस्था बिगड़ी हुई है इसे सुधारा जाए।


मंडी 10 टन के छोटे तौल कांटे लगवाए जाए। उल्लेखनीय है कि कुछ दिन पूर्व ही मंडी कर्मचारियों की मिलीभगत से सब्जी मंडी में वाहन बहार होने के कारण 2 कर्मचारियों को निलंबित किया गया था मंडी में विगत महा मैं अनेक अनियमितताएं भ्रष्टाचार असुरक्षा वाली घटनाएं हुई है यह गंभीर मामला है इस हेतु प्रत्यक्ष तौर पर मंडी सचिव जिम्मेदार है इनकी लापरवाही के चलते मंडी में काफी गंदगी है आज सुरक्षा है वहां किसानों में भय का वातावरण है। इस अवसर पर किसान मोर्चा के महामंत्री नवीन यादव, राजेश चौहान, सुनील बैंडवाल, दिनेश कुंभकार आदि मौजूद रहे।

Share:

Next Post

महिला स्व सहायता समूहों द्वारा तैयार की जाएगी विद्यार्थियों की स्कूल ड्रेस

Wed Sep 28 , 2022
दो माह और करना होगा इंतजार, सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए योजना उज्जैन। उज्जैन जिले में संचालित होने वाले सरकारी स्कूलों के विद्यार्थियों को सरकार की तरफ से स्कूली ड्रेस मिलेगी। इन्हें महिला स्व सहायता समूहों द्वारा तैयार कराने का निर्णय शिक्षा विभाग ने लिया है। हालांकि कम से कम दो माह तक ओर […]