देश

सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस: अब प्रियव्रत और अंकित को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ करेगी पुलिस

नई दिल्ली। पंजाब में हुई गायक सिद्धू मूसेवाला(Sidhu Musewala) की हत्या में शामिल तीन शूटरों को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल गिरफ्तार (special cell arrested) कर चुकी है। इनमें प्रियव्रत, कशिश और अंकित शामिल हैं। प्रियव्रत जहां बोलेरो कार वाले मॉड्यूल का सरगना है तो वहीं अंकित सबसे करीब से गोली मारने वाला शूटर है। इस हत्याकांड को लेकर पुलिस अब प्रियव्रत और अंकित (Priyavrata and Ankit) को आमने-सामने(face to face) बिठाकर पूछताछ करेगी। इसका मकसद हत्या की कड़ियों को जोड़ना है।

स्पेशल सेल के विशेष आयुक्त हरगोविंद सिंह धालीवाल (Hargovind Singh Dhaliwal) के अनुसार, सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में अभी तक पांच आरोपितों को स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। इनमें से तीन शूटर हैं जबकि दो आरोपित हमलावरों को शरण देने एवं मदद देने में शामिल रहे हैं। स्पेशल सेल ने पहले पकड़े गए तीन आरोपितों को बीते सोमवार कोर्ट में पेश किया था।


यहां से दो आरोपितों को जेल भेज दिया गया था, जबकि प्रियव्रत उर्फ फौजी को पंजाब पुलिस अपने साथ रिमांड पर ले गई है। पुलिस ने अंकित को भी कोर्ट के समक्ष पेश किया जहां से उसे पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया है। उससे लोधी कॉलोनी स्थित स्पेशल सेल के ऑफिस में पूछताछ की जा रही है।

पूछताछ के दौरान आरोपित अंकित ने पुलिस को बताया कि बीते 19 जून को उनके तीन साथियों की गिरफ्तारी के बाद वह ज्यादा अलर्ट हो गए थे। वह मध्य प्रदेश, यूपी, झारखंड और दिल्ली में लगातार अपने ठिकाने बदल रहे थे। वह आपस में बातचीत के लिए अलग-अलग ऐप का इस्तेमाल कर रहे थे ताकि टेक्निकल सर्विलांस से बच सकें।

अंकित ने पुलिस को बताया कि वह कुछ महीने पहले ही इस गैंग से जुड़ा था। कुछ ही माह पहले वह बालिग हुआ है। इस हत्याकांड के अलावा गैंग के इशारे पर उसने हत्या प्रयास की दो वारदातों को भी अंजाम दिया है। पुलिस उससे फिलहाल फरारी को लेकर पूछताछ कर रही है।

पुलिस सूत्रों की माने तो इस हत्याकांड में एक ग्रुप को प्रियव्रत उर्फ फौजी लीड कर रहा था। अंकित भी उसी ग्रुप में शामिल था। अंकित वह शूटर है जो सिद्धू मूसेवाला के सबसे करीब था और उसने दोनों हाथों से दो पिस्तौल से ताबड़तोड़ गोलियां बरसाई थी। यही वजह है कि हत्याकांड को लेकर अब स्पेशल सेल की टीम उसका सामना प्रियव्रत उर्फ फौजी से करवाना चाहती है।

इसका मकसद पूरे घटनाक्रम की कड़ियों को जोड़ना है। सूत्रों ने बताया कि पंजाब पुलिस की रिमांड खत्म होने के बाद प्रियव्रत को एक बार फिर स्पेशल सेल रिमांड पर ले सकती है। इस रिमांड के दौरान उसका सामना अंकित से कराया जाएगा और दोनों को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की जाएगी।

Share:

Next Post

कांग्रेस ने भाजपा से आतंकियों के कथित संबंधों पर मांगा जवाब

Tue Jul 5 , 2022
नई दिल्ली । कांग्रेस (Congress) मंगलवार को जम्मू-कश्मीर में पकड़े गए (Caught in Jammu-Kashmir) लश्कर-ए-तैयबा (LET) के आतंकवादियों (Terrorists) के साथ कथित संबंधों को लेकर (About Alleged Links) भाजपा से जवाब मांगा (Seeks Reply from BJP), जिनकी भाजपा नेताओं के साथ तस्वीरें थीं (Who had Pictures with BJP Leaders) । कांग्रेस संचार प्रभारी पवन खेड़ा […]

Leave a Reply

Your email address will not be published.