भोपाल न्यूज़ (Bhopal News)

राजधानी में दुर्गोत्सव का उल्लास चरम पर

  • मंदिरों में बढ़ी भीड़ तो कॉलोनियों में हो रहे भजन और गरबा

भोपाल। राजधानी में करीब डेढ़ साल बाद किसी बड़े त्योहार पर ऐसा उत्साह दिखाई दे रहा है। पूरे शहर में 1500 स्थानों पर दुर्गा प्रतिमाएं स्थापित की गई हैं, झांकी-पांडाल भी सजाए गए हैं। 500 से ज्यादा कॉलोनियों में गरबे के आयोजन हो रहे हैं। सुबह और शाम को देवी मंदिरों में भक्तों की भीड़ है और बाजारों में भी त्योहार के साथ शादियों की खरीदारी शुरू हो गई है।



पिछले साल मार्च में कोरोना लॉकडाउन के बाद जैसे शहर थम गया था। उसके बाद तमाम प्रतिबंध और दूसरी लहर के कहर ने जैसे शहर को निराशा में डुबो दिया था। लेकिन इस बीच कोरोना की वैक्सीन आई। 18+ आबादी को पहला वैक्सीन का पहला डोज लग गया और 50 प्रतिशत से अधिक ने दूसरा डोज भी लगवा लिया। हालांकि निगम के पास अब तक 1200 स्थानों पर देवी प्रतिमा स्थापना की जानकारी आ चुकी है और अभी हर जोन में सर्वे जारी है। यह संख्या 1500 तक पहुंचना तय है। हिंदू उत्सव समिति के अध्यक्ष कैलाश बेगवानी बताते हैं कि नाइट कफ्र्यू और दूसरे प्रतिबंधों के बाद भी शहर फिर से उत्सवों के लिए उत्साहित है।

शादियों के लिए भी खरीददारी शुरू
बाजार में तीस प्रतिशत ग्राहक बढ़े हैं। दुर्गाउत्सव के साथ दशहरा और दीपावली ही नहीं बल्कि शादियों के लिए भी खरीददारी शुरू हो गई है। बाजार आने वाले यह ग्राहक देवी की झांकी के भी दर्शन कर रहे हैं। यदि नाइट कफ्र्यू हट जाए तो इसमें और वृद्धि हो सकती है। सोमवारा स्थित कफ्र्यू वाली माता के मंदिर सहित राजधानी के सभी देवी मंदिरों में सुबह-शाम भक्त पहुंच रहे हैं। प्रदेश के मुकाबले शहर में कोरोना के मरीज ज्यादा सामने आ रहे हैं। अभी एक दिन में कभी 11 तो कभी पांच और छह नए मरीज सामने आ रहे हैं। आलम यह है कि महज 20 दिन में एक्टिव मरीजों की संख्या में करीब तीन गुना इजाफा हुआ और मरीज 15 से बढ़कर 41 हो गए हैं। दरअसल, 21 सितंबर को शहर में महज 15 एक्टिव मरीज थे। यही नहीं, इससे भी पहले 29 अगस्त को एक्टिव मरीजों की संख्या घटकर सिर्फ नौ रह गई थी। जो रविवार को बढ़कर 41 पर पहुंच गई है। अच्छी बात यह है कि जो नए कोरोना मरीज मिले हैं उनमें लगभग सभी की हालत ठीक है।

Share:

Next Post

चन्नी कैबिनेट का फैसला- लाल डोरे की जमीन पर रहने वाले होंगे उसके मालिक, NRI की प्रॉपर्टी पर नहीं होगा कब्जा

Mon Oct 11 , 2021
पंजाब: पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कैबिनेट की बैठक पंजाब के लोगों के हित में कई बड़े फैसले लिए हैं. उन्होंने बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि पंजाब में गावों और शहरों में आने वाले लाल डोरे के घरों को वहां रह रहे लोगों के नाम किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘मेरा […]