बड़ी खबर

29 जनवरी से यूजीसी नेट परीक्षा, 9 जनवरी तक आवेदन पत्र में सुधार का मौका


नई दिल्ली। सीएसआईआर यूजीसी नेट परीक्षा (CSIR UGC NET exam) के उम्मीदवार 9 जनवरी तक (Till 9 January) अपने आवेदन पत्र (Application) में सुधार (Improve) कर सकते हैं। यह परीक्षाएं 29 जनवरी (January 29), 15 और 18 फरवरी 2022 (15 and 18 February 2022) को आयोजित की जा रही हैं (Being Held) । नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यानी एनटीए ने इसके लिए आधिकारिक वेबसाइट पर एक लिंक जारी किया है। छात्र आवश्यकता पड़ने पर 9 जनवरी तक अपने आवेदन पत्र में सुधार कर सकते हैं, इसके उपरांत यह प्रक्रिया बंद कर दी जाएगी।


एनटीए यानी नेशनल टेस्टिंग एजेंसी यह परीक्षा आयोजित करती है। एजेंसी ने सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 की परीक्षा तारीखों में बदलाव भी किया है। कुछ अन्य परीक्षाओं के साथ सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 परीक्षा तारीखों में टकराव के चलते 5 और 6 फरवरी, 2022 को ली जाने वाली परीक्षाएं अब 15 और 18 फरवरी, 2022 को आयोजित की जा रही हैं। 29 जनवरी को ली जाने वाली परीक्षा की तारीख में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

एनटीए ने सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 आवेदन पत्र 3 दिसंबर को जारी करने के साथ ही परीक्षा की तारीखों की घोषणा भी की थी। पूर्व में जारी सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 परीक्षा की तारीखों के अनुसार परीक्षा 29 जनवरी, 5 फरवरी और 6 फरवरी 2022 को आयोजित की जानी थीं। एनटीए इस साल दो और राउंड सीएसआईआर नेट परीक्षा आयोजित करेगा।एनटीए ने यूजीसी नेट परीक्षा के लिए निर्देश जारी करते हुए कहा है कि उम्मीदवारों को रिपोर्टिंग समय से 30 मिनट पहले परीक्षा केंद्रों पर पहुंचना होगा। यूजीसी नेट 2021 की यह परीक्षा कंप्यूटर आधारित ऑनलाइन मोड में आयोजित की जा रही है।

सीएसआईआर यूजीसी नेट 2021 परीक्षा के लिए दो पेपर होंगे। दो पेपर में वस्तुनिष्ठ प्रकृति के बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे। दोनों पेपरों के बीच कोई विराम नहीं होने वाला है। कोई नकारात्मक अंकन नहीं है और किसी भी गलत प्रतिक्रिया के लिए, कोई अंक नहीं काटा जाएगा। प्रत्येक सही उत्तर के लिए 2 अंक दिए जाएंगे। परीक्षा की अवधि 3 घंटे की होगी। परीक्षा के दौरान परीक्षा केंद्र में मोबाइल फोन, कैलकुलेटर व इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स ले जाना प्रतिबंधित है।

गौरतलब है कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने पीएचडी दाखिले लिए राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा यानि नेट परीक्षा उत्तीर्ण करना जरूरी कर दिया है। साथ ही केंद्रीय सहायता प्राप्त उच्च शिक्षा संस्थानों में विभिन्न स्नातक और परास्नातक पाठयक्रमों में दाखिला सामान्य प्रवेश परीक्षा यानि सीईटी के माध्यम से लिए जाने की निर्देश दिए जा चुके हैं। यूजीसी द्वारा पीएचडी, पीजी और यूजी दाखिले के लिए जारी किये नए नियम अगले शैक्षणिक सत्र यानि 2022-23 से लागू होंगे।

Share:

Next Post

जातिगत जनगणना, विशेष राज्य का दर्जा जैसे मामले में जदयू के साथ : जगदानंद

Thu Jan 6 , 2022
पटना । राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह (Jagdanand singh) ने कहा कि बिहार (Bihar) को विशेष राज्य का दर्जा (Special Status) हो या जातिगत जनगणना (Caste Census) राजद का महागठबंधन जदयू के साथ (With JDU) है। उन्होंने साफ करते हुए कहा राज्यहित में राजद नीतीश कुमार के साथ खड़ी है। उन्होंने […]