इंदौर न्यूज़ (Indore News)

पहले दिन 100 से ज्यादा यात्रियों को ले गई वंदे भारत 

91 लोगों ने एसी चेयरकार और 11 लोगों ने एक्जीक्यूटिव चेयरकार में कराई बुकिंग

इंदौर। इंदौर-भोपाल वंदे भारत ट्रेन का पहला कमर्शियल रन बुधवार से शुरू हो गया। पहले दिन 100 से ज्यादा यात्री इस सेमी हाईस्पीड ट्रेन में बुकिंग करवाकर भोपाल के लिए रवाना हुए। ट्रेन में एसी चेयरकार और एक्जीक्यूटिव चेयरकार को मिलाकर कुल 530 सीट हैं, जिनमें इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) की वेबसाइड के अनुसार क्रमश: लगभग 91 और 11 लोगों ने बुकिंग कराई। वेबसाइट पर सुबह छह बजे एसी चेयरकार में 381 और एक्जीक्यूटिव चेयरकार में 41 सीट खाली बताई जा रही थीं।


महिला गार्ड भी तैनात

यह ट्रेन सुबह 6.30 बजे इंदौर से चलकर फतेहाबाद-उज्जैन होते हुए सुबह 9.35 बजे भोपाल पहुंची। भोपाल से यह ट्रेन रात 7.25 बजे चलकर रात 10.31 बजे इंदौर आएगी। वेबसाइट के अनुसार बुधवार को भोपाल से इंदौर आने वाली वंदे भारत ट्रेन में सुबह 8.30 बजे तक एसी चेयरकार में 343 और एक्जीक्यूटिव चेयरकार में 39 सीट उपलब्ध थीं। इस तरह भोपाल से इंदौर आने के लिए एसी चेयरकार में यात्री बुकिंग करवा रहे हैं। यह ट्रेन आठ कोच से चलाई जा रही है। जानकारों का मत है कि कई यात्री वंदे भारत ट्रेन का अनुभव लेने के लिए शुरुआत में बुकिंग करवाएंगे। पांच-सात दिन बाद इसके असल ट्रैफिक का पता चलेगा। फिर भी ज्यादा किराए के कारण आठ कोच भर पाना मुश्किल है। खासतौर पर एक्जीक्यूटिव चेयरकार में भोपाल इंदौर के लिए 1600 और इंदौर से भोपाल के लिए 1510 रुपए चुकाना किसी को रास नहीं आएगा।

देखने का उत्साह

यह ट्रेन सुबह 6.30 बजे इंदौर से चलकर फतेहाबाद-उज्जैन होते हुए सुबह 9.35 बजे भोपाल पहुंची। भोपाल से यह ट्रेन रात 7.25 बजे चलकर रात 10.31 बजे इंदौर आएगी। वेबसाइट के अनुसार बुधवार को भोपाल से इंदौर आने वाली वंदे भारत ट्रेन में सुबह 8.30 बजे तक एसी चेयरकार में 343 और एक्जीक्यूटिव चेयरकार में 39 सीट उपलब्ध थीं। इस तरह भोपाल से इंदौर आने के लिए एसी चेयरकार में यात्री बुकिंग करवा रहे हैं। यह ट्रेन आठ कोच से चलाई जा रही है। जानकारों का मत है कि कई यात्री वंदे भारत ट्रेन का अनुभव लेने के लिए शुरुआत में बुकिंग करवाएंगे। पांच-सात दिन बाद इसके असल ट्रैफिक का पता चलेगा। फिर भी ज्यादा किराए के कारण आठ कोच भर पाना मुश्किल है। खासतौर पर एक्जीक्यूटिव चेयरकार में भोपाल इंदौर के लिए 1600 और इंदौर से भोपाल के लिए 1510 रुपए चुकाना किसी को रास नहीं आएगा।

जिस टाइम स्लॉट में ट्रेन नहीं है उसमें चलाएं

मंगलवार को ट्रेन के उद्घाटन के दौरान ज्यादातर यात्रियों का मत था कि ट्रेन के भोपाल से इंदौर आने का समय तो ठीक है, लेकिन इंदौर से भोपाल जाने का समय ठीक नहीं है। वंदे भारत के पांच मिनट बाद महू-इंदौर-भोपाल इंटरसिटी ट्रेन जाती है। वंदे भारत को सुबह आठ से 10 या 11 बजे के बीच इंदौर से चलाना चाहिए, क्योंकि उस टाइम स्लॉट में इंदौर से भोपाल जाने के लिए कोई ट्रेन उपलब्ध नहीं है।

Share:

Next Post

जीवित वृद्धा की पेंशन मुर्दा महिला को

Wed Jun 28 , 2023
निगम पेंशन घोटाले की शिकायत कलेक्टर की जनसुनवाई में इंदौर (Indore)। नगर निगम में वृद्धा पेंशन को लेकर बड़ा घोटाला सामने आया है। पिछले दिनों जहां कई महिलाओं ने पेंशन नहीं मिलने की शिकायत दर्ज कराई थी, वहीं अब जीवित वृद्धा की पेंशन महीनों पहले परलोक सिधार चुकी महिला को मिलने का मामला उजागर हुआ […]