टेक्‍नोलॉजी बड़ी खबर

WhatsApp को टक्कर देने वाला Signal App को इस देश में किया गया बंद, जानिए क्यों

डेस्क। एनक्रिप्टेड मैसेजिंग ऐप सिग्नल (Encrypted Messaging App Signal) को चीन में बैन कर दिया गया है। लेटेस्ट सोशल मीडिया (Soshal Midiya) सर्विस उस देश में काम कर रहा था जहां की सरकार फ्लो ऑफ इंफॉर्मेशन पर कंट्रोल करती है। मंगलवार तक चीनी यूजर्स को ऐप का इस्तेमाल करने के लिए वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (Private Network) का सहारा लेना पड़ा। VPN की मदद से आप किसी भी ब्लॉक वेबसाइट का एक्सेस पा सकते हैं।

सिग्नल अब उन ऐप्स में शामिल हो गया है जिन्हें चीन में ब्लॉक किया जा चुका है। इससे पहले चीनी यूजर्स के लिए ये एक एनक्रिप्टेड मैसेजिंग टूल था लेकिन अब इसपर बैन लगा दिया गया है। चीनी यूजर्स ने मंगलवार को कहा कि, वो तब तक ऐप से कनेक्ट नहीं कर पा रहे हैं जब तक वो VPN सर्विस का इस्तेमाल नहीं करते। क्योंकि बिना VPN के उनके मैसेज फेल हो रहे हैं।

चीन में फेसबुक, गूगल और ट्विटर को पहले ही ब्लॉक किया जा चुका है। वहीं मशहूर सोशल ऑडियो प्लेटफॉर्म क्लबहाउस को भी शट डाउन कर दिया गया है। चीनी यूजर्स ने जैसे ही एप पर रियल टाइम ऑडियो डिस्कशन में हिस्सा लेना शुरू किया तब से ही सरकार ने उसे बैन करने का फैसला कर लिया था।

सिग्नल मैसेज और कॉलिंग सर्विस के लिए एंड टू एंड एनक्रिप्शन का इस्तेमाल करता है। इसकी वजह से कोई भी थर्ड पार्टी आपके चैट्स और कॉल को नहीं सुन सकता। अपनी प्राइवेसी को लेकर चीन में ये ऐप दिन ब दिन काफी मशहूर हो रहा था। ऐसे में फिलहाल इस ऐप के यूजर्स चीन में बेहद कम थे। WeChat की तुलना में ये ऐप बेहद कम था। WeChat पर राजनीतिक मैसेज और कंटेंट्स को अक्सर सेंसर रखा जाता है। यहां सरकार उन यूजर्स पर कड़े कदम उठाती है जो ऑनलाइन फेक खबर फैलाते हैं।

क्या है सिग्नल? : सिग्नल एक ऐसा ऐप है, जिसमें प्राइवेसी को लेकर सबसे खास ध्यान दिया गया है। इस ऐप ने प्ले स्टोर पर भी खासतौर पर यह जानकारी दी है कि यह ऐप किसी भी तरह का डेटा अपने पास नहीं रखता है। इस ऐप में यूजर के डेटा को सुरक्षित माना जा सकता है। ऐसे में आप वॉट्सऐप के अलावा सिग्नल का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Next Post

तानाशाह है कि मानता नहीं !

Wed Mar 17 , 2021
– डॉ. प्रभात ओझा तनाव और तल्खियों के भी रस्म बन जाने की परंपरा अमेरिका और उत्तर कोरिया के रिश्तों में देखी जा सकती है। उत्तर कोरिया ने एकबार फिर अमेरिका को चेतावनी दी है। इसे रस्म इसलिए कहा जाना चाहिए कि जब भी अमेरिका और दक्षिण कोरिया संयुक्त सैन्य अभ्यास करते हैं, ठीक उस […]