बड़ी खबर राजनीति

क्‍यों छोड़ा कांग्रेस का ‘हाथ’? जितिन प्रसाद ने बताया BJP से जुड़ने का कारण

नई दिल्‍ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और युवा कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने बुधवार को भाजपा का दामन थाम लिया। तीन दशक तक उनका परिवार कांग्रेस से जुड़ा रहा और उन्‍होंने बीजेपी में शामिल होते हुए खुद बताया कि आखिर उन्‍होंने कांग्रेस क्‍यों छोड़ी? उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जितनि प्रसाद के पार्टी छोड़ने को कांग्रेस के लिए इसे एक बड़े झटके के रूप में देखा जा रहा है। जितनि प्रसाद उन 23 नेताओं में शामिल थे, जिन्‍होने पिछले साल कांग्रेस में सक्रिय नेतृत्व और संगठनात्मक चुनाव की मांग को लेकर पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी।

जित‍नि प्रसाद ने बताया कि बीजेपी में शामिल होने का फैसला बहुत सोच समझकर लिया है। जिस दल (कांग्रेस) में था वह मुझे महसूस होने लगा कि हम लोग राजनीति करने लगे हैं। राजनीतिक एक माध्‍यम या दल एक माध्‍यम है लेक‍नि जब आप अपने लोगों के हितों की रक्षा नहीं कर सकते। अगर उनके लिए काम नहीं कर पाते हैं तो आपका उस दल में और राजनीति में रहने का क्‍या मकसद? यहीं मेरे मन में आया कि आप चाहे देश में हो, राज्‍य में हो या जिले में हो अगर आप अपने लोगों का काम नहीं आ सकते, उनकी सहायता नहीं कर सकते हो तो फि‍र क्‍या फायदा। यहीं बात मुझे महसूस होने लगा था कि मैं वह काम कांग्रेस पार्टी में नहीं कर पा रहा हूं।

बीजेपी में शामिल होते ही जित‍नि प्रसाद बोले- मैं नहीं, मेरा काम बोलेगा
उन्होंने कहा कि अब मैं बीजेपी में शामिल हो गया हूं जो इतना मजबूत संगठन है और मैं उसकी जरिए अब समाज सेवा करूंगा। अंत में उन्‍होंने कहा कि मैं ज्यादा बोलना नहीं चाहता हूं और अब मेरा काम बोलेगा। मैं बीजेपी कार्यकर्ता के रूप में सबका साथ, सबका विश्वास और एक भारत, श्रेष्ठ भारत के लिए काम करूंगा।

जित‍नि प्रसाद ने कहा कि राजनीतिक जीवन का एक नया अध्‍याय शुरू हो रहा है। मेरा कांग्रेस पार्टी से रिश्‍ता तीन पीयों से रहा है। बहुत विचार और मंथन के बाद यह फैसला लिया है। आज सवाल यह नहीं है कि मैं किस पार्टी को छोड़कर आ रहा हूं। सवाल यह है कि किस दल में जा रहा हूं और क्‍यों जा रहा हूं? पिछले कुछ वर्षों से देश और विदेश में भ्रमण करके यह महसूस किया है कि आज देश में असली मायने में कोई राजनीति दल है, वो भारतीय जनता पार्टी है।

बाकी दल तो व्‍यक्‍ति विशेष और क्षेत्रिय दल बनकर रहे गए हैं। उन्‍होंने कहा कि देश जिस चुनौतियों का सामना विदेश और सीमाओं पर कर रहा है। उसके लिए आज अगर कोई दल और नेता सबसे मजबूती के साथ खड़ा है तो वह बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नए भारत का निर्माण कर रहे हैं और अब उसमें एक छोटा सा योगदान मुझे भी करने को मिलेगा। यह योगदान भारत के प्रति और आने वाले पीढ़ि‍यों के प्रति होगा।

Next Post

डाइट में शामिल कर लें ये चीजें, Vitamin D की कमी को दूर करने में मिलेगी मदद

Wed Jun 9 , 2021
शरीर के लिए जरूरी पोषक तत्व विटामिन डी हड्डियों और मांसपेशियों को मज़बूत करता। इस विटामिन की कमी कोरोनाकाल (corona period) में परेशानी बड़ा सकती है। विटामिन डी (vitamin D) की कमी बॉ़डी में कई तरह की परेशानियां पैदा कर सकती है। आप हर वक्‍त थकान महसूस करते हैं, आपको जल्द ही चोट लगने का […]