बड़ी खबर भोपाल न्यूज़ (Bhopal News) मध्‍यप्रदेश

नशे की बुराई को खत्म करने के लिए नहीं छोड़ेंगे कोई कसरः शिवराज

– केंद्रीय गृह की उपस्थिति में मादक पदार्थ तस्करी एवं राष्ट्रीय सुरक्षा विषय पर हुए क्षेत्रीय सम्मेलन में वर्चुअली शामिल हुए मुख्यमंत्री चौहान

भोपाल। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) की उपस्थित में मादक पदार्थ तस्करी एवं राष्ट्रीय सुरक्षा विषय (national security issue) पर बुधवार को आयोजित क्षेत्रीय सम्मेलन में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) वर्चुअली शामिल हुए। उन्होंने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि ड्रग्स भावी पीढ़ी को ही खोखला ही नहीं करता बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए भी खतरा है। प्रदेश में जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई गई है। प्रदेश में विगत 2 अक्टूबर से नशामुक्ति अभियान चलाकर लगातार कार्यवाही की जा रही है। नशे की बुराई को समाप्त करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।


मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि ड्रग्स की सप्लाई चैन के रिडक्शन के लिए कड़ी कार्रवाई की जा रही है। अपराधियों की आर्थिक कमर तोड़ने की रणनीति बनाई गई है। डिमांड रिडक्शन के लिए नशा मुक्ति के लिए जन-जागरण अभियान चलाया जा रहा है। मध्यप्रदेश के युवाओं में नशामुक्ति के लिए विभिन्न सामाजिक संस्थाओं को जोड़ कर कार्य किया जा रहा है। जनता को जागरूक करने के लिए व्यापक कार्यक्रम किए गए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नशामुक्ति केंद्रों में स्वास्थ्य परीक्षण की व्यवस्था की गई है। नारकोटिक्स वॉलेंटियर के रूप में युवाओं ने रजिस्ट्रेशन कराया है। नशा मुक्ति अभियान में मादक पदार्थों को नष्ट करने के लिए तेजी से कार्यवाही की जा रही है। केंद्र और अन्य राज्यों से समन्वय बनाकर कार्य किया जा रहा है। निदान पोर्टल का प्रभावी उपयोग कर रहे हैं।

ड्रग्स के खिलाफ अभियान में हम सब मिलकर कार्य करें: केंद्रीय गृह मंत्री शाह
केंद्रीय गृह अमित शाह ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे संविधान में कानून और व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया गया है। इसको बनाए रखने के लिए हम सबको समन्वय बना कर कार्य करने की जरूरत है। देश में अंतरराष्ट्रीय प्रकृति के अपराध सामने आ रहे हैं, जिसमें ड्रग्स की तस्करी भी शामिल है। ड्रग्स हमारी युवा पीढ़ी को बर्बाद कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ड्रग मुक्त भारत के सपने को साकार करने सभी संबंधित एजेंसियां और विभाग समन्वय एवं सहयोग से इस बुराई को पूरी तरह खत्म करें।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नशा मुक्त भारत बनाने की दिशा में तेजी से कार्य किया जा रहा है। देश की युवा पीढ़ी को सुरक्षित रखना जरूरी है। अवैध मादक पदार्थों के विरुद्ध हम सबको मिल कर लड़ना होगा। उन्होंने कहा कि देश में एक लाख 65 हजार किलोग्राम ड्रग्स को नष्ट किया जा चुका है, जो बड़ी उपलब्धि है। सभी नारकोटिक्स एजेंसियों को सुदृढ़ बनाया जा रहा है।

शाह ने कहा कि केन्द्र सरकार नशे के खिलाफ सभी राज्यों का सहयोग लेकर आगे बढ़ रही है। पिछले आठ साल में 20 हजार करोड़ रुपये राशि का 3.33 लाख किलोग्राम ड्रग्स जब्त करने का कार्य हुआ है। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों में नशे के खिलाफ कार्यवाही के लिए जिला स्तरीय समिति का गठन किया जाए। अभियान को गंभीरता से लेकर निदान पोर्टल पर कार्यवाही के आंकड़े उपलब्ध कराएँ। तस्करी का नेटवर्क ध्वस्त करने के लिए प्रभावी इन्वेस्टिगेशन सुनिश्चित किया जाए।

सम्मेलन में मध्यप्रदेश सहित महाराष्ट्र, राजस्थान, गुजरात, गोवा, दमनदीव और दादर नगर हवेली शामिल हुए। मध्यप्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा, डीजीपी सुधीर कुमार सक्सेना सहित अधिकारी उपस्थित रहे। (एजेंसी, हि.स.)

Share:

Next Post

भोपाल में क्लोरीन गैस का रिसाव, 11 लोग अस्पताल में भर्ती

Thu Oct 27 , 2022
– लोगों को आंखों में जलन और सांस लेने में हुई समस्या, तीन अस्पताल में भर्ती भोपाल। राजधानी भोपाल (Bhopal) स्थित ईदगाह हिल्स वॉटर फिल्टर प्लांट (Idgah Hills Water Filter Plant) के आसपास के क्षेत्र में बुधवार देर शाम को उस वक्त दहशत फैल गई, जब अचानक तेज गंध फैलने के साथ लोगों को आंखों […]