आचंलिक

गौरेया पर केन्द्रित स्पर्धा के विजेता सम्मानित, उपासना सिंह रहीं प्रथम

  • अभिव्यक्ति के साहित्य महाकुंभ का आयोजन दिसंबर में करने का निर्णय

नागदा। विश्व गौरेया दिवस 20 मार्च को नागदा में गौरेया पर अभिव्यक्ति विचार मंच द्वारा आयोजित विभिन्न स्पर्धा के विजेताओं को रविवार को आयोजित एक समारोह में पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।



समारोह रविवार को आदित्य विद्या मंदिर में आयोजित किया गया था। मुख्य अतिथि वरिष्ठ चिकित्सक व नटवरलाल स्नेही स्मृति मंच के संरक्षक डॉ. एसएन शर्मा थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डॉ. शर्मा ने कहा कि दो दशक पहले अंकुरित संस्थान अभिव्यक्ति विचार मंच ने शहर के साथ राष्ट्रीय स्तर पर सृजन के क्षेत्र में जो कार्य किए है वे सभी कार्य अनुकरणीय और वंदनीय है। विशेष अतिथि श्रीनगर में पदस्थ भारतीय सेना के नायक हेमंत शर्मा ने कहा कि अभिव्यक्ति के गौरेया संरक्षण के प्रत्येक प्रयास को मैं भी सेना में हर जवान तक यह संदेश पहुंचाने का पूरा प्रयास करूंगा। अध्यक्ष प्रफुल्ल शुक्ला ने कहा मंच का वार्षिक समारोह दिसंबर में होगा जिसने नगर में साहित्यकारों का समागम होगा। जो अनूठा और अभूतपूर्व होगा। कार्यक्रम अध्यक्ष मंच संस्थापक अध्यक्ष और राष्ट्रीय श्रेष्ठ शिक्षाविद पुरस्कार से सम्मानित डॉ सुरेंद्र मीणा ने कहा कि 16 सितंबर 2003 को स्थापित संस्था अभिव्यक्ति आज वटवृक्ष बन चुकी है और इसका उद्देश्य भी स्पष्ट है कि नवोदित पीढ़ी को कुशल मार्गदर्शन दें ताकि वे अपनी विधा में बेहतर कर सके। गौरेया पर केंद्रित कार्यक्रम संयोजक अरविन्द पाठक और सचिव प्रीति जायसवाल ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में अतिथियों ने गौरैया की जानकारी से संबंधित एक पेंपलेट का भी विमोचन किया। कार्यक्रम में पुष्पा रघुवंशी, संगीता गुप्ता,सुभाष बाफना, ओम प्रकाश चौहान, समर्थ सिंह राठौड़, कमलेश शुक्ला, सुरेश रघुवंशी, अनुराग पोद्दार, रामदेव पाराशर, साहित्यकार डॉ लक्ष्मी नारायण सत्यार्थी, भूपेंद्र सिंह पंवार, राजेश रंगीला सहित बड़ी संख्या में काव्य और प्रकृति प्रेमी उपस्थित थे। संचालन अशोक शर्मा मृदुल ने किया। आभार मंच संयोजक पत्रकार शरद गुप्ता ने माना।

इन्हें मिला पुरस्कार

  • गौरैया पर केन्द्रित संभाग स्तरीय काव्य लेखन में नागदा की उपासना सिंह प्रथम, सुंदर लाल जोशी सूरज द्वितीय तथा तृतीय उज्जैन की निधि ठाकुर रहे। विशेष प्रोत्साहन काव्य रचना पुरस्कार सुनील लीलानी, श्रीमती दीप्ति अनुराग पोद्दार, दिनेश तिवारी उपवन बडऩगर, अभय वेद अभय बडऩगर, सुश्री संजना पोरवाल, दिशा खंडेलवाल, सुग्रीव गोरखपुरी, पिंकी पोरवाल, नीलेश ओरा, बीएल परमार, आनंदीलाल सोनी, अर्पिता पाटीदार बड़ागांव खाचरोद, अद्विता श्रीवास्तव उज्जैन, पुखराज जैन पथिक, श्रीमती राजकुमारी परमार, कृष्णा निषाद और रामचंद्र राठौर शाजापुर को मिला।
  • जीवंत चित्र प्रतियोगिता में उज्जैन की आराधना श्रीवास्तव, नागदा के पुखराज पथिक, अनुराग गुप्ता और कोमल गंगवाल के चित्र को सम्मानित किया गया।
  • जीवंत वीडियो संकलन में नागदा के सुनील गुप्ता और श्रीमती पिंकी पोरवाल के वीडियो पुरस्कृत किये गये।
Share:

Next Post

सिंधिया की मां की तबीयत बेहद नाजुक, दिल्ली पहुंचा पूरा परिवार

Mon May 6 , 2024
भोपाल। मध्य प्रदेश में लोकसभा चुनाव (Lok Sabha elections in Madhya Pradesh) के तीसरे चरण की वोटिंग कल मंगलवार को होनी है। इस चरण में केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) की संसदीय सीट पर भी मतदान होना है, लेकिन इस दौरान उनकी माता की तबीयत बेहद नाजुक […]