देश राजनीति

विपक्षी INDIA के नेताओं पर 12 हजार का कमरा, 4500 की प्लेट !

मुंबई (Mumbai)। विपक्षी INDIA गुट की बैठक मुंबई में हो रही है। आने वाले लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Elections) में विपक्षी गुट किस तरह अपनी रणनीति तैयार करेगा, इस पर मुंबई (Mumbai) में चर्चा हो रही है। मुंबई में हो रही मीटिंग में 28 विपक्षी दलों के 63 नेता पहुंचे हैं। इन नेताओं को ठहराने के लिए पांच सितारा होटल में व्यवस्था की गई है।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाली शिव सेना और शिव सेना (यूबीटी) के बीच गुरुवार को मुंबई के एक लक्जरी होटल में इंडिया गठबंधन की बैठक की लागत को लेकर बहस हो गई।

शिंदे गुट की शिवसेना ने मंत्री उदय सामंत ने आरोप लगाया कि गुरुवार और शुक्रवार को सिर्फ 14 घंटे की बैठक के लिए करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे थे। होटल के वेबसाइट के रेटलिस्ट के मुताबिक एक प्लेट वड़ा पांव की कीमत 700 रुपए है। ग्रैंड हयात होटल के भीतर 6 रेस्टोरेंट है, जिसमें एक प्लेट खाने की औसत कीमत 4000-4500 के बीच है।



सामंत ने कहा कि “इंडिया गुट की तरफ से 65 कमरे बुक किए गए हैं। इस होटल में एक कमरे का रेट 25,000-30,000 रुपये है। यहां तक कि खाने की एक प्लेट की कीमत भी 4,500 रुपये है। बैठक के लिए 40,000-45,000 रुपये की 65 नई कुर्सियों का ऑर्डर दिया गया है।

सामंत ने आगे कहा कि यह निराश लोगों की बैठक है जो एक साथ आए हैं। लोकसभा चुनाव के बाद इंडिया गठबंधन खत्म हो जाएगा. बाला साहेब ठाकरे की आलोचना करने वाली कई पार्टियां विपक्षी गठबंधन इंडिया गुट में शामिल हैं। होटल में गए दलों की सूची में शिवसेना (यूबीटी) पार्टी 26वें स्थान पर है और शरद पवार की एनसीपी 25वें स्थान पर है, इसलिए महाराष्ट्र में दो सबसे महत्वपूर्ण पार्टियां दूसरे और तीसरे-अंतिम स्थान पर हैं, ऐसा क्यों हुआ है।”

इस पर यूबीटी सेना नेता और पूर्व मंत्री आदित्य ठाकरे ने जवाब देते हुए कहा कि शिंदे गुट को पहले यह बताना चाहिए कि सूरत में पैसा किसने खर्च किया था। जब शिवसेना के बागी विधायक गुवाहाटी गए थे तब कितना खर्च आया? आदित्य ने यह भी पूछा कि चार्टर्ड उड़ानों के लिए पेमेंट किसने किया था और कथित तौर पर विद्रोही सेना विधायकों को दिए गए “50 खोखे” (मनी बैग) के लिए किसने भुगतान किया था।

Share:

Next Post

यूरोप के इस शहर में बैन हुआ E-स्कूटर, जनता ने वोटिंग कर मनवाई अपनी मांग

Sat Sep 2 , 2023
पेरिस: फ्रांस (France) की राजधानी पेरिस (Paris) में शुक्रवार को किराए पर मिलने वाली इलेक्ट्रिक स्कूटर को बैन (Ban on electric scooter) कर दिया गया. यह यूरोप (Europe) का पहला शहर है, जिसने अपनी सड़कों पर किराए के स्कूटरों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है. ई-स्कूटर्स (e-scooters) को पेरिस की सड़कों से हटाने […]